दुनिया

कोरोना वायरस: भारत में दो नए मामले सामने आए, दुनियाभर में 3,000 से अधिक लोगों की मौत

कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 3,000 के पार पहुंच गई है, जिसमें 2912 लोगों की मौत अकेले चीन में हुई है. दुनियाभर में 88,000 से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली/बीजिंग/सियोल/काहिरा/एवरेट: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमण के दो और मामलों की पुष्टि हुई है. मंत्रालय के मुताबिक एक व्यक्ति दिल्ली में और एक तेलंगाना में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है.

मंत्रालय के अनुसार, दिल्ली के जिस व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है उसने हाल में इटली की यात्रा की थी और उसका राम मनोहर लोहिया अस्पताल में इलाज चल रहा है. उन्होंने बताया कि दूसरे संक्रमित व्यक्ति ने दुबई की यात्रा की थी.

मंत्रालय ने बताया कि दोनों मरीजों की हालत स्थिर है और उनकी करीब से निगरानी की जा रही है. गौरतलब है कि इटली में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं.

बता दें कि, कोरोना वायरस के कारण चीन में और 42 लोगों की मौत के साथ ही देश में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 2912 हो गई है.

वहीं, दुनियाभर में इस संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 3,000 के पार पहुंच गई है और 88,000 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं.

इस घातक संक्रमण का पता पहली बार पिछले साल दिसंबर में चीन में चला था और यह अबतक 70 देशों में फैल चुका है. इस कोरोना वायरस 88,000 से अधिक लोगों को संक्रमित कर चुका है, जिसमें से अकेले चीन में 80,000 से ज्यादा मामले हैं.

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि सभी 42 लोगों की मौत हुबेई प्रांत में हुई है. आयोग ने यह भी कहा कि अब वायरस का प्रकोप कम हो रहा है और संक्रमण के नए मामले सामने आने की रफ्तार भी कम हुई है.

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने रविवार को कहा कि रविवार को कोरोना वायरस के 202 नए मामलों की पुष्टि हुई है. इसके बाद मुख्य भूमि में संक्रमित मामलों की संख्या 80,026 हो गई है.

नए मामलों की संख्या 22 जनवरी के बाद से सबसे कम है. तब चीनी ने आपातकालीन उपाय शुरू किए थे, जिसमें संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित वुहान शहर और 17 नगरों की पांच करोड़ की आबादी को बंद कर दिया था.

एनएचसी ने अपनी प्रतिदिन की रिपोर्ट में कहा कि हुबई प्रांत में रविवार को 42 मौतें हुई हैं जिसकी राजधानी वुहान है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि कुल मिलाकर इस बीमारी से 2,912 लोगों की मौत हो गई है. इसके अलावा 32,652 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है, जबकि 44,462 रोगियों के ठीक होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

आयोग ने कहा कि 715 लोगों के संक्रमित होने का संदेह है.

हुबेई और उसकी राजधानी वुहान में कोरोना वायरस के 196 नए मामलों की पुष्टि हुई है.

स्थानीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि प्रांत में 67,103 मामले सामने आए हैं और 2,803 लोगों की मौत हुई है, जिसमें से 2,227 मौतें वुहान में हुई हैं.

रविवार की रात तक हांगकांग में 98 मामलों की पुष्टि हुई और दो लोगों की मौत हुई. मकाउ में 10 मामलों की पुष्टि हुई है और ताइवान में 40 मामले सामने आए हैं और एक शख्स की जान गई है.

कोरोना वायरस ने ईरान में 50 लोगों की जान ले ली है. इससे इटली में 34 और दक्षिण कोरिया में 22 लोगों की मौत हुई है. ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका में रविवार को पहला मामला सामने आया.

मिस्र में कोरोना वायरस से संक्रमण के दूसरे मामले की पुष्टि हुई

मिस्र में सोमवार को कोरोना वायरस के दूसरे मामले की पुष्टि हुई. इससे दो हफ्ते पहले देश में एक व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी.

मिस्र की सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की ओर से जारी संयुक्त बयान के मुताबिक एक विदेशी में कोरोना वायरस से संक्रमित होने के मामूली लक्षण पाए गए हैं और उसे पृथक रखा गया है.

बयान के मुताबिक इस व्यक्ति के संपर्क में आए अन्य लोगों की भी जांच की जा रही है.

उल्लेखनीय है कि मिस्र ने 14 फरवरी को देश में कोरोना वायरस से संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की थी.

बयान के मुताबिक चीनी नागरिक को ठीक होने के बाद पिछले हफ्ते छुट्टी दे दी गई.

मिस्र ने बताया कि वह फ्रांस और कनाडा प्रशासन से समन्वय कर रहा है क्योंकि इन दोनों देशों ने मिस्र की यात्रा करके आए सात लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की घोषणा की थी.

खाड़ी देशों में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर कतर ने रविवार को मिस्र से आने वाले यात्रियों के देश में प्रवेश पर अस्थायी रोक लगा दी.

कुवैत ने विमानों की आवाजाही पर रोक में ढील दी है लेकिन मिस्र से आने वाले यात्रियों की गहन जांच कर रहा है.

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस से चीन में कई और लोगों की मौत के साथ सोमवार तक दुनिया भर में इस विषाणु के संक्रमण से मरने वालों की संख्या तीन हजार को पार कर गई है.

दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 500 नये मामले सामने आए

दक्षिण कोरिया में सोमवार को कोरोना वायरस के लगभग 500 नये मामले सामने आने के बाद इससे संक्रमित लोगों की संख्या 4,000 से अधिक हो गई है। चीन के बाद कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले दक्षिण कोरिया से सामने आए हैं.

कोरिया के रोग नियंत्रण ए‍वं रोकथाम केन्द्रों (केसीडीसी) ने कहा कि देश में चार और लोगों की मौत के साथ मृतकों की संख्या 22 हो गई है.

केसीडीसी के अनुसार सोमवार को 476 नये मामलों की घोषणा के बाद इससे संक्रमित लोगों की संख्या 4,212 हो गई है. सोमवार को अधिकतर मामले दाएगु और उत्तरी ग्योंगसेंग प्रांत से सामने आए हैं.

कोरोना वायरस लघु अवधि में असर करेगा, एयरलाइंस को लचीला रुख अपनाने की जरूरत: विस्तारा प्रमुख

विमानन कंपनी विस्तारा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी लेस्ली थंग का कहना है कि कोरोना वायरस के प्रकोप का लघु अवधि में विमानन उद्योग पर असर पड़ेगा. लेकिन विमानन कंपनियों को इस स्थिति से निपटने के लिए लचीला रुख अपनाने की जरूरत है.

अमेरिका के एवरेट में कंपनी के लिए ड्रीमलाइनर बोइंग 787-9 विमान की डिलिवरी लेने के वक्त संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे. यह कंपनी के बेड़े में शामिल होने वाला पहला ड्रीमलाइनर बोइंग 787-9 विमान है.

उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस ने लघु अवधि में प्रभावित किया है. आप भी जानते हैं कि मांग कम होने से हमने अपनी सिंगापुर और बैंकॉक की उड़ान में कुछ परिवर्तन किया है.’

थंग ने कहा कि जब कोई विमानन कंपनी एक विमान खरीदती है तो वह तीन या छह महीने की अवधि नहीं देखती क्योंकि वह विमान 15-20 की अवधि तक चलता है. इसलिए यह एक दीर्घावधि निवेश है.

उन्होंने भारत को एक उभरता बाजार बताया. उन्होंने कहा कि भारतीय दुनिया के अन्य हिस्सों का भ्रमण करना चाहते हैं और यह विमान दीर्घावधि में इस मांग को पूरा करने में कंपनी की मदद करेगा.

उल्लेखनीय है कि कंपनी ने 26 फरवरी को अपनी 20 दिल्ली-बैंकॉक उड़ानों, 26 मुंबई-सिंगापुर उड़ानों और आठ दिल्ली-सिंगापुर उड़ानों को मार्च के लिए रद्द कर दिया है. ऐसा कोरोना वायरस के चलते मांग में कमी की वजह से किया गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)