भारत

दिल्ली में आईपीएल समेत सभी खेल आयोजन रद्द, जेएनयू में कक्षाएं स्थगित

इससे पहले दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर स्कूलों, कॉलेजों और सिनेमाघरों को 31 मार्च तक बंद करने की घोषणा की है.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (फोटो: पीटीआई)

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्लीः दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजनों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसके साथ ही सभी तरह की खेल गतिविधियों, सेमिनार और सम्मेलनों के आयोजनों पर भी रोक लगा दी गई है.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमने उन सभी खेल गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है, जहां आईपीएल की तरह बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुटती है. कोरोना वायरस के प्रकोप पर अंकुश लगाने के लिए सामाजिक दूरी जरूरी है.’

उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में आईपीएल का एक भी मैच नहीं होगा. अगर स्टेडियम में एक भी कोरोना वायरस का पीड़ित पहुंचता है तो उससे काफी खतरा बढ़ जाता है. इसलिए हमने दिल्ली में आईपीएल के मैचों पर बैन लगाने का फैसला किया है.’

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में सभी जिलों के मजिस्ट्रेट से कहा गया है कि वे कोरोना वायरस से जुड़े सभी निर्देश का पालन सुनिश्चिति कराएं.

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में स्कूलों, कॉलेजों और सिनेमाघरों को एहतियाती तौर पर 31 मार्च तक बंद रखने की घोषणा की थी. सिर्फ उन्हीं स्कूलों और कॉलेजों को खोले रखने के आदेश दिए गए थे, जहां परीक्षाएं जारी हैं.

वही, कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों के देखते हुए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) ने 31 मार्च तक सभी कक्षाएं स्थिगत कर दी हैं.

विश्वविद्यालय की ओर से जारी नोटिफकेशन में कहा गया है कि सभी लेक्चर, क्लास प्रेजेंटेशन और परीक्षाएं इस महीने के आखिर तक स्थगित रहेंगी. विश्वविद्यालय ने निर्देश दिया है कि कैंपस के अंदर सेमिनार, कॉन्फ्रेंस और वर्कशॉप जैसे आयोजन भी नहीं किए जाएं.

इससे पहले दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने भी 31 मार्च तक सभी कक्षाएं स्थगित कर दी थी.

भारत में अभी तक कोरोना से 75 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि की गई है. वहीं कोरोना से भारत में पहली मौत की भी पुष्टि हुई. कर्नाटक में कलबुर्गी के रहने वाले 76 वर्षीय एक बुजुर्ग की मौत कोरोना वायरस संक्रमण से होने की पुष्टि हुई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना की वजह से लोगों को नहीं डरने की सलाह दी है.

मंत्रालय ने कहा कि भारत ने मालदीव, म्यांमार, बांग्लादेश, चीन, अमेरिका, मैडागास्कर, श्रीलंका, नेपाल, दक्षिण अफ्रीका और पेरू से 48 विदेशियों सहित 900 भारतीय नागरिकों को सकुशल निकाला है.

इस बीच दुनियाभर में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 130,000 पहुंच गई है. इटली में संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 1,016 पहुंच गया है. मालूम हो कि 29 मार्च से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 13वां सीजन शुरू हो रहा है.