भारत

मुंबईः बीएमसी के डिप्टी कमिश्नर की कोविड-19 से मौत

बृहन्मुंबई महानगरपालिका के डिप्टी कमिश्नर शिरीष दीक्षित में कोरोना के लक्षण नहीं थे, इसलिए उन्हें घर पर इलाज दिया जा रहा था. नौ जून तक बीएमसी के कुल 55 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है.

A civic worker disinfecting an ambulance in Mumbai on April 15 (Photo: PTI)

(फोटोः पीटीआई)

मुंबईः महाराष्ट्र के बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के डिप्टी कमिश्नर शिरीष दीक्षित की मंगलवार को कोरोना वायरस से मौत हो गई.

लाइव मिंट की रिपोर्ट के मुताबिक, शिरीष दीक्षित (54) के परिवार ने उनके बिगड़ते स्वास्थ्य को लेकर प्रशासन को सूचित किया था. दीक्षित में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं थे और जब अधिकारियों की एक टीम उनके आवास पर पहुंची तो उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

वह जल आपूर्ति विभाग के प्रभारी भी थे. कुछ दिनों पहले ही उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से घर पर ही उनका इलाज चल रहा था. बताया जा रहा है कि उन्हें कोई खास समस्या नहीं थी जिस वजह से अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया था.

हालांकि मंगलवार दोपहर को उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और उन्होंने दम तोड़ दिया. उनके परिवार के तीन सदस्यों को क्वारंटीन किया गया है.

दीक्षित पहले बीएमसी अधिकारी हैं जिनकी कोरोना से मौत हुई है. नौ जून तक बीएमसी के कुल 55 लोगों की कोरोना वायरस की वजह से जान गंवा चुके हैं और अब तक 1700 से अधिक कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट हो चुका है.

महाराष्ट्र देश में कोरोना वायरस का बड़ा केंद्र बनकर उभरा है. यहां कोरोना के 80,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. मुंबई में कोरोना के सक्रिय मामले 26,345 हैं जबकि अब तक कोरोना से केवल मुंबई में ही 1,702 लोगों की मौत हो चुकी है.

मुंबई के बाद ठाणे में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले हैं. ठाणे में कोरोना के 13,528 मामले हैं जिनमें से 8,110 सक्रिय मामले हैं. अब तक ठाणे में कोरोना से 336 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र में कोरोना से रिकवरी रेट 46.8 फीसदी है जबकि मृत्यु दर 3.57 फीसदी है.