भारत

छत्तीसगढ़: माओवादियों की मदद करने के आरोप में भाजपा नेता समेत दो गिरफ़्तार

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा ज़िला इकाई के उपाध्यक्ष जगत पुजारी पर आरोप है कि वे पिछले एक दशकों से माओवादियों को सामान मुहैया करा रहे हैं. पुलिस ने बताया कि आरोपियों के ख़िलाफ़ छत्तीसगढ़ विशेष जन सुरक्षा कानून 2005 के तहत केस दर्ज किया गया है.

(फोटो साभार: एएनआई)

(फोटो साभार: एएनआई)

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में माओवादियों को ट्रैक्टर मुहैया कराने के आरोप में भाजपा की दंतेवाड़ा जिला इकाई के उपाध्यक्ष जगत पुजारी एवं एक अन्य व्यक्ति को बीते 14 जून को गिरफ्तार किया गया है.

एनडीटीवी के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि जगत पुजारी कम से कम एक दशकों से माओवादियों को सामान मुहैया कराते आ रहे हैं.

माओवादी नेता अजय आलमी के लिए ट्रैक्टर खरीदने के आरोप में इन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. आलमी पर पांच लाख रुपये का इनाम था. पुलिस ने 910,000 रुपये का नया टैक्टर जब्त किया है.

पुजारी बरसूर गांव के रहने वाले हैं.

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने कहा, ‘पिछले कुछ महीनों से हम आलमी समेत कई माओवादी नेताओं के कॉल को इंटरसेप्ट कर रहे थे और इस दौरान पुजारी का फोन नंबर कई बार सामान मुहैया कराने के लिए सामने आया. हाल ही में आलमी ने पुजारी से कहा कि उन्हें ट्रैक्टर चाहिए.’

उन्होंने आगे कहा, ‘पुजारी ट्रैक्टर के लिए पूरा पैसा देने को तैयार हो गए और उन्होंने कहा कि खरीददारी के लिए किसी का प्रमाण पत्र चाहिए. इसके लिए उन्होंने रमेश उसेंडी की पत्नी की मदद ली जो कि आलमी के गांव की हैं.’

इस इनपुट के आधार पर पुलिस ने गीडम के पास दो स्थानों पर बैरिकेड्स लगा दिए और सभी नए ट्रैक्टरों को रोक दिया. गिरफ्तार किए गए तीन लोगों में शामिल रमेश उसेंडी की पहचान कर पूछताछ की गई.

पुलिस ने बताया कि रोके जाने पर उसेंडी ये नहीं बता पाए कि उनके पास पैसा कहां से आया और उनके पास दस्तावेज क्यों नहीं है.

पल्लव ने कहा, ‘पूछताछ के दौरान जगत ने स्वीकार किया कि वे पिछले 10 सालों से माओवादी की मदद कर रहे हैं.’

पुलिस ने बताया कि पिछले कई महीनों के इंटेलिजेंस के आधार पर ये गिरफ्तारियां की गई हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक भाजपा के जिलाध्यक्ष चैतराम अट्टामी ने कहा है कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को इस बारे में जानकारी दे दी गई है. पुजारी के खिलाफ कार्रवाई को लेकर ये लोग निर्णय लेंगे.

अट्टामी ने कहा कि पुजारी को पांच साल पहले भाजपा का जिला उपाध्यक्ष बनाया गया है. हालांकि पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद अभी कोई नई नियुक्ति नहीं की थी और जिला उपाध्यक्ष का पद उन्हीं के ही पास था.

दंतेवाड़ा के एसपी अभिषेक पल्लव ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि आरोपियों के खिलाफ छत्तीसगढ़ विशेष जन सुरक्षा कानून 2005 के तहत केस दर्ज किया गया है. मामले की जांच जारी है.

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के चलते माओवादी राशन की कमी का सामना कर रहे हैं. उनकी सप्लाई चेन टूट गई है.

उन्होंने कहा कि ऐसे में उन्होंने जंगल में खुद से अनाज उगाने का फैसला किया होगा, इसलिए ट्रैक्टर और दूसरे कृषि उपकरण मंगाने की योजना बनाई होगी.