राजनीति

आम आदमी पार्टी 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेगी: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यूपी में हर पार्टी की सरकार आई लेकिन अपने घर भरने के सिवाय किसी ने प्रदेश के लिए कुछ भी नहीं किया. आज छोटी-छोटी सुविधाओं के लिए यूपी के लोगों को दिल्ली क्यों आना पड़ता है? क्या भारत का सबसे बड़ा राज्य, भारत का सबसे बड़ा विकसित राज्य नहीं बन सकता?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल. (फोटो: ट्विटर)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल. (फोटो: ट्विटर)

नई दिल्लीः दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को ऐलान किया कि उनकी पार्टी आम आदमी पार्टी (आप) 2022 में होने जा रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी.

केजरीवाल ने वीडियो संदेश में जनता को संबोधित करते हुए कहा, ‘बीते आठ सालों में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में तीन बार सरकार बनाई है और पंजाब में मुख्य विपक्ष के रूप में उभरकर सामने आई है, लेकिन आज मैं बहुत महत्वपूर्ण ऐलान करने जा रहा हूं. आने वाले 2022 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ेगी.’

आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश की राजनीतिक पार्टियों पर निशाना साधते हुए उन पर लोगों की पीठ में छुरा घोंपने का आरोप लगाया.

उन्होंने सवाल किया कि उत्तर प्रदेश के लोगों को स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए दिल्ली का रुख क्यों करना पड़ता है? और कहा कि ‘मोहल्ला क्लीनिक’, मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य केंद्रों की सुविधा राज्य में भी मुहैया कराई जा सकती है.

केजरीवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश का विकास वहां की ‘गंदी राजनीति’ और ‘भ्रष्ट नेताओं’ की वजह से रुक गया है. उन्होंने कहा कि आप ईमानदार सोच पैदा करेगी और यह साबित करेगी कि शासन सीमित संसाधनों का मोहताज नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में यूपी के बहुत भाई-बहन रहते हैं. जब से दिल्ली में आप की तीसरी बार सरकार बनाई गई. दिल्ली में रहने वाले यूपी के कई लोग मेरे पास आए. यूपी से भी बहुत सारे लोग और संगठन मेरे पास आ रहे हैं और कह रहे हैं कि आम आदमी पार्टी को यूपी का चुनाव लड़ना चाहिए. जो सुविधाएं आपने दिल्ली में दी हैं, वे सुविधाएं यूपी में रहने वाले परिवारों को भी मिलनी चाहिए.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने उनसे पूछा कि हमारी छोटी सी पार्टी है वह ये कैसे करेगी? तो उन्होंने कहा कि यूपी की जनता अब इन पुरानी पार्टियों से बिल्कुल त्रस्त हो चुकी है, यूपी के लोग ही आगे आएंगे और आम आदमी पार्टी के साथ जुड़ेंगे और यूपी को अपनी जागीर समझने वाले इन बड़े-बड़े नेताओं को हराएंगे.’

केजरीवाल ने आगे कहा, ‘यूपी में हर पार्टी की सरकार आई लेकिन अपने घर भरने के सिवाय किसी ने प्रदेश के लिए कुछ भी नहीं किया. आज छोटी-छोटी सुविधाओं के लिए यूपी के लोगों को दिल्ली क्यों आना पड़ता है?’

उनके अनुसार, ‘अगर कानपुर में रहने वाले किसी परिवार को अपने बच्चे के लिए अच्छा कॉलेज चाहिए, उसे दिल्ली भेजना पड़ता है. गोरखपुर में रहने वाले किसी गरीब परिवार को अपने माता-पिता का इलाज करवाना है तो उसे दिल्ली आना पड़ता है. क्या भारत का सबसे बड़ा राज्य, भारत का सबसे बड़ा विकसित राज्य नहीं बन सकता?’

केजरीवाल ने कहा, ‘मैं पूछना चाहता हूं कि अगर दिल्ली के संगम विहार में मोहल्ला क्लिनिक बन सकता है तो क्या लखनऊ के गोमती नगर में मोहल्ला क्लीनिक नहीं बनाया जा सकता? अगर दिल्ली के सरकारी अस्पताल देश के सबसे बेहतर हो सकते हैं तो यूपी के सरकारी अस्पतालों की हालत इतनी खराब क्यो हैं?’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘अगर दिल्ली के लोगों को 24 घंटे बिजली मिल सकती है तो यूपी के लोग इतने लंबे-लंबे पावरकट क्यों बर्दाश्त करें? अगर दिल्ली के लोगों को मुफ्त बिजली मिल सकती है तो यूपी के लोगों को मुफ्त में बिजली क्यों नहीं मिलनी चाहिए? अगर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में निजी स्कूलों की तरह सुविधाएं मिल सकती हैं तो यूपी के सरकारी स्कूल इतने बदहाल क्यों हैं?’

केजरीवाल ने कहा, ‘आज यूपी को प्रगति की राह पर चलने से कौन रोक रहा है. यूपी की गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेता. यूपी के लोगों ने हर पार्टी के लोगों पर विश्वास कर उन्हें मौका दिया पर उन पार्टियों ने लोगों की पीठ में छूरा घोंपा है. सरकारें आईं और सरकारें गईं, मगर हर सरकार ने पिछली सरकार के भ्रष्टाचार का रिकॉर्ड तोड़ दिया. यूपी के लोगों को आखिर में क्या मिला?’

उन्होंने कहा, ‘आज यूपी की राजनीति में एक ही चीज कमी है, सही और साफ नीयत और वो सिर्फ आम आदमी पार्टी के पास है. इसी साफ नीयत से हमने दिल्ली बदलकर दिखाई है, दिल्ली में हमने साबित कर दिया कि सरकारों में पैसे की कमी नहीं होती, नीयत कमी होती है.’

केजरीवाल ने आखिर में कहा, ‘आज हर यूपी निवासी ईमानदार और साफ नीयत वाली सरकार चाहता है, जो केवल आम आदमी पार्टी दे सकती है इसलिए आम आदमी पार्टी 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ेगी.’