दुनिया

कोरोना वायरस: भारत में कुल मामले 1.06 करोड़ से अधिक, विश्व में 10 करोड़ के क़रीब

भारत में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,667,736 हो गई है और मृतक संख्या 153,470 है. विश्व में संक्रमण के मामले 9.9 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं, जबकि 21.3 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

Kochi: A medic prepares the dose of COVID-19 vaccine before giving it to a beneficiary, at Ernakulam Government General Hospital in Kochi, Saturday, Jan. 16, 2021. (PTI Photo)(PTI01 16 2021 000156B)

केरल के कोच्चि शहर स्थित एक सरकारी अस्पताल में टीकाकरण के दौरान कोरोना वैक्सीन का डोज तैयार करतीं एक महिला स्वास्थ्यकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 13,203 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,667,736 हो गई. वहीं संक्रमण से 131 और लोगों की मौत हुई, जो कि पिछले आठ महीने में सबसे कम है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब 184,182 मरीजों का इलाज चल रहा है, जो कि कुल मामलों का 1.73 फीसदी है. अब तक 10,330,084 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. स्वस्थ होने की दर 96.83 फीसदी है।

बीते 24 घंटे के दौरान 131 लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 153,470 हो गई और मृत्यु दर 1.4 फीसदी है।

आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में 45 लोगों की मौत हुई. वहीं केरल में 20, दिल्ली में नौ और छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश में आठ-आठ लोगों की मौत हुई.

देश में संक्रमण की वजह से अब तक 153,470 लोगों की मौत हुई है, जिसमें से 50,785 लोगों की मौत महाराष्ट्र, इसके बाद तमिलनाडु में 12,316, कर्नाटक में 12,197, दिल्ली में 10,808, पश्चिम बंगाल में 10,115, उत्तर प्रदेश में 8,617 और आंध्र प्रदेश में 7,147 लोगों की मौत हुई।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार 24 जनवरी तक कुल 192,337,117 नमूनों की जांच हुई, जिनमें से रविवार को 570,246 नमूनों की जांच हो चुकी है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की मौत हुई, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख (सात अगस्त को) तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख (23 अगस्त को) की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख (पांच सितंबर) तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख (16 सितंबर को) की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे. मामलों की संख्या 50 लाख से 60 लाख (28 सितंबर को) होने में 12 दिन लगे थे. 60 से 70 लाख (11 अक्टूबर) होने में इसे 13 दिन लगे. 70 से 80 लाख (29 अक्टूबर को) होने में 19 दिन लगे और 80 से 90 लाख (20 नवंबर को) होने में 13 दिन लगे. 90 लाख से एक करोड़ (19 दिसंबर को) होने में 29 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

वायरस के मामले और मौतें

24 घंटे में सामने आए नए मामलों की बात करें तो बीते 24 जनवरी को 14,849, 23 जनवरी को 14,256, 22 जनवरी को 14,545, 21 जनवरी को 15,223, 20 जनवरी को 13,823, 19 जनवरी को 10,064, 18 जनवरी को 13,788, 17 जनवरी को 15,144, 16 जनवरी को 15,158, 15 जनवरी को 15,590, 14 जनवरी को 16,946, 13 जनवरी को 15,968, 12 जनवरी को 12,584, 11 जनवरी को 16,311, 10 जनवरी को 18,645 नए मामले सामने आए थे.

इसी तरह 24 घंटे में मौत के मामलों की बात करें तो 24 जनवरी को 155, 23 जनवरी को 152, 22 जनवरी को 163, 21 जनवरी को 151, 20 जनवरी को 162, 19 जनवरी को 137, 18 जनवरी को 145, 17 जनवरी को 181, 16 जनवरी को 175, 15 जनवरी को 191, 14 जनवरी को 198, 13 जनवरी को 202, 12 जनवरी 167, 11 जनवरी को 161, 10 जनवरी को 201 लोगों ने संक्रमण से जान गंवाई थी.

इससे पहले दिसंबर महीने 24 घंटे के दौरान पांच दिसंबर को संक्रमण के अधिकतम 36,652 मामले सामने आए थे और चार दिसंबर को संक्रमण से अधिकतम 540 लोगों की मौत हुई थी. नवंबर महीने 24 घंटे के दौरान सात नवंबर को संक्रमण के अधिकतम 50,356 मामले सामने आए थे और पांच नवंबर को संक्रमण से अधिकतम 704 लोगों की मौत हुई थी.

अक्टूबर महीने की बात करें तो एक तारीख को अधिकतम 86,821 और 28 अक्टूबर को न्यूनतम 43,893 मामले 24 घंटे के दौरान सामने आए थे. अक्टूबर में 24 घंटे में मरने वालों की अधिकतम संख्या 1 अक्टूबर को 1,181 थी.

सात सितंबर को 90,802 और 30 सितंबर को 80,472 नए मामले दर्ज किए गए थे. सात से 30 सितंबर के बीच नए मामलों की संख्या घटती बढ़ती रही. इस अवधि में 22 सितंबर को 75,083 (न्यूनतम) और 17 सितंबर को 97,894 (अधिकतम) मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा भी है.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.

इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

सितंबर महीने में एक दिन में मरने वालों की बात करें तो एक सितंबर को इनकी संख्या 819 और 29 सितंबर को न्यूनतम 776 थी. इन दो तारीखों के अलावा पूरे महीने हर दिन मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. 16 सितंबर को 1290 लोगों की जान गई, जो एक दिन में मरने वालों का सर्वाधिक आंकड़ा है.

10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

दुनियाभर में मामले 9.9 करोड़ से ज़्यादा, 21.3 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 99,225,963 हो गए हैं और अब तक 2,130,179 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 25,127,009 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 419,215 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 8,844,577 मामले मिले हैं और 217,037 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद चौथे प्रभावित देश रूस में संक्रमण के 3,698,246 मामले आए हैं, जबकि 68,841 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

रूस के बाद पांचवें सर्वाधिक प्रभावित देश ब्रिटेन में संक्रमण के 3,657,857 मामले आए हैं, जबकि 98,129 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

ब्रिटेन के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश फ्रांस में संक्रमण के 3,112,055 मामले हैं और 73,190 लोगों ने जान गंवा दी है. फ्रांस के बाद सातवें सर्वाधिक प्रभावित स्पेन में संक्रमण के 2,499,560 मामले (शनिवार तक) सामने आए हैं और 55,441 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद आठवें सर्वाधिक प्रभावित देश इटली में संक्रमण के 2,466,813 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 85,461 मौतें हुई हैं. इटली के बाद नौवें प्रभावित देश तुर्की में संक्रमण के 2,429,605 मामले सामने आए हैं और 25,073 मौतें हुई हैं.

तुर्की के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश जर्मनी में संक्रमण के 2,147,814 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 52,296 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)