कोविड-19

कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बीच बंगाल चुनाव में उतरे दूसरे प्रत्याशी की संक्रमण से मौत

रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के उम्मीदवार प्रदीप कुमार नंदी की शुक्रवार को बहरमपुर के एक अस्पताल में मृत्यु हो गई. वह बंगाल विधानसभा चुनाव में मुर्शिदाबाद ज़िले के जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार थे. इससे पहले कोविड-19 से संक्रमित मुर्शिदाबाद के ही शमशेरगंज विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार रेज़ाउल हक़ निधन हो गया था.

(प्रतीकात्मक फोटो साभार: फेसबुक)

(प्रतीकात्मक फोटो साभार: फेसबुक)

बहरमपुर/कोलकाता: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच जारी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में मुर्शिदाबाद जिले में कांग्रेस प्रत्याशी की मौत के बाद इसी जिले के एक अन्य उम्मीदवार की संक्रमण से मौत का मामला सामने आया है.

चार दिन पहले कोविड-19 से संक्रमित हुए रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी) के उम्मीदवार प्रदीप कुमार नंदी की शुक्रवार को बहरमपुर के एक अस्पताल में मृत्यु हो गई. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि 73 वर्षीय नंदी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में मुर्शिदाबाद जिले के जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार थे, जो संक्रमण के कारण अपने घर में पृथकवास में थे. हालत बिगड़ने के बाद उन्हें बृहस्पतिवार रात को बरहमपुर के एक अस्पताल ले जाया गया था.

अधिकारी ने बताया कि उन्हें अन्य कई बीमारियां थीं और शाम लगभग छह बजे अस्पताल में उनकी मौत हो गई.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, नंदी आरएसपी के प्रसिद्ध नेताओं में से एक होने के साथ मुर्शिदाबाद के नामचीन वकील भी थे. पार्टी के राज्य महासचिव मनोज भट्टाचार्य, सीपीएम नेता बिमान बसु और सूर्यकांत मिश्रा ने उनके निधन पर शोक जताया है.

भट्टाचार्य ने कहा, ‘वह हमारे प्रसिद्ध नेताओं में से एक थे और पार्टी के लिए संपत्ति थे. नौ अप्रैल को उनके कोरोना पॉजिटिव होने का पता चला था. उन्हें मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. दुर्भाग्य से उनका स्वास्थ्य शुक्रवार सुबह से लगातार बिगड़ता चला गया और शाम 5:30 बजे उन्हें आखिरी सांस ली.’

इससे पहले कोविड-19 से संक्रमित पाए गए शमशेरगंज विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के उम्मीदवार रेजाउल हक का भी बृहस्पतिवार को कोलकाता के एक अस्पताल में निधन हो गया था.

मालूम हो कि शुक्रवार को बंगाल चुनाव मैदान में उतरे कम से कम पांच प्रत्याशी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. इनमें आरएसपी के प्रदीप कुमार नंदी भी शामिल थे. इसके अलावा तीन तृणमूल कांग्रेस और एक भाजपा उम्मीदवार शामिल थे.

माटीगाड़ा-नक्सलबाड़ी सीट से भाजपा के उम्मीदवार आनंदमय बर्मन (38), तृणमूल कांग्रेस के गोलपोखर से उम्मीदवार मोहम्मद गुलाम रब्बानी, तापन से उम्मीदवार कल्पना किसकू और जलपाईगुड़ी से उम्मीदवार डॉ. प्रदीप कुमार बर्मा कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

इससे पहले कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच पश्चिम बंगाल में एक साथ चुनाव कराने के आग्रह को भारतीय निर्वाचन आयोग ने ठुकरा दिया था.

शुक्रवार को राज्य के चुनाव आयोग के साथ हुई सर्वदलीय बैठक में भी यह मांग उठाई गई थी, लेकिन आयोग ने इसे ठुकरा दिया. हालांकि बैठक में एक साथ चुनाव कराने के प्रस्ताव का भाजपा ने विरोध किया था.

राज्य में फिलहाल कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है. इसके मद्देनजर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अंतिम तीन चरणों के मतदान को एक साथ जोड़कर कराने की मांग की थी.

इस महीने के पहले 15 दिनों में पश्चिम बंगाल में संक्रमण के 49,970 नए मामले आए हैं, जबकि महामारी से 151 लोगों की मौत हुई है.

बंगाल में चार चरणों में 135 सीटों पर चुनाव हो चुकी है. पांचवें चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को चुनाव होने है. पांचवें चरण में 319 प्रत्याशी मैदान में हैं, इनमें 39 महिलाएं हैं. ये 45 सीटें जलपाईगुड़ी, कलिम्पोंग, दार्जिलिंग, नादिया, नॉर्थ 24 परगना और पूर्वा बर्धमान जिले में पड़ती हैं.

कोरोना वायरस संक्रमण के 6,910 नए मामले सामने आये

पश्चिम बंगाल में कोविड-19 संक्रमण के शुक्रवार को एक दिन में 6,910 नए मामले सामने आने के बाद मामलों की संख्या बढ़कर 643,795 पर पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में यह जानकारी दी.

इसके अनुसार राज्य में पिछले 24 घंटे में इस महामारी से 26 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 10,506 हो गई.

बुलेटिन के अनुसार कोलकाता में एक दिन में सबसे अधिक 1,844 नए मामले सामने आए और नौ और लोगों की मौत हुई.

इस महामारी से 2,818 और लोग स्वस्थ हुए. पश्चिम बंगाल में बृहस्पतिवार से कोविड-19 के लिए 40,153 नमूनों की जांच की गई और अब तक कुल 9,715,115 जांच की जा चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)