भारत

पश्चिम बंगाल: विवाहेतर संबंध के आरोप में आदिवासी महिला को पीटने के साथ नग्न घुमाया गया

मामला पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार ज़िले के कुमारग्राम थाना क्षेत्र का है. सोशल मीडिया पर घटना से संबंधित कथित वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने एफ़आईआर दर्ज की है. इस सिलसिले में 12 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

पुलिस ने महिला के शिकायत पर 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया. (फोटो: एएनआई)

पुलिस ने महिला के शिकायत पर आरोपियों को गिरफ्तार किया. (फोटो: एएनआई)

कोलकता: पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार जिले में एक 35 वर्षीय आदिवासी महिला को विवाहेतर संबंध रखने के आरोप में ग्रामीणों द्वारा पीटने और नंगा कर गांव में घुमाने का मामला सामने आया है. इस संबंध में 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, घटना गुरुवार 10 जून को अलीपुरद्वार जिले के कुमारग्राम थाना क्षेत्र में हुई. हालांकि, इसकी जानकारी रविवार (13 जून) को सोशल मीडिया पर वीडियो सामने आने के बाद हुई. पीड़ित महिला छह महीने बाद अपने पति के घर लौटी थी.

छह महीने बाद गांव लौटने के बाद ग्रामीणों ने महिला को घेर लिया. पंचायत बुलाई गई. बुजुर्गों ने पड़ोसी गांव के एक व्यक्ति के साथ कथित विवाहेतर संबंध को लेकर महिला को नंगा करने की सजा सुनाई.

घटना से संबंधित कथित वीडियो वीडियो में महिला को यह कहते हुए सुना जा सकता है, ‘मारिए न, कितना मारिएगा.’

पुलिस सूत्रों के अनुसार, पश्चिम चेंगमारी गांव की पीड़ित महिला का विवाहेतर संबंध था और वह दूसरे पुरुष के साथ छह माह पहले गांव से चली गई थी, लेकिन उक्त पुरुष से संबंध खराब होने के बाद वह अपने पति के पास वापस लौट आई थी.

इस घटना के बाद वह असम में अपने माता-पिता के घर चली गई. पुलिस 13 जून की रात उसे वापस लेकर आई और शिकायत दर्ज की गई.

अलीपुरद्वार पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि एक आदिवासी महिला को उसके समाज लोगों के एक समूह ने प्रताड़ित किया. पुलिस को रिपोर्ट किए बिना पीड़िता असम में अपने पैतृक घर चली गई थी. घटना की जानकारी मिलने पर स्थानीय पुलिस पीड़िता को असम से वापस ले आई.

गिरफ्तार तीनों लोगों को सोमवार को अलीपुरद्वार अदालत में पेश किया गया और पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

एनडीटीवी के मुताबिक, पीड़ित महिला ने अपने पति की उपस्थिति में प्राथमिकी दर्ज कराई, जिसमें उन लोगों का नाम लिया था, जिन्होंने उसके साथ मारपीट की. आरोपियों पर हत्या के प्रयास से संबंधित धारा 307 और आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

इसी बीच पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि कुमारग्राम मामले में मामला दर्ज होने के 24 घंटे के भीतर सभी 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. तीन आरोपी पहले से ही पुलिस रिमांड में हैं, अन्य 9 को पूरे 14 दिनों की पुलिस हिरासत के लिए अदालत से अनुरोध किया जा रहा है.

तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता धीरेश रॉय ने घटना की निंदा की है और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है.