भारत

मोदी जी का जीएसटी यानी गब्बर सिंह टैक्स… ये कमाई मुझे दे दे: राहुल गांधी

 

राहुल गांधी ने कहा, नरेंद्र मोदी जी ने पूरे देश की अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया. इससे छोटे दुकानदार समाप्त हो गए हैं और लाखों युवक बेरोज़गार हो गए हैं.

Rahul Gandhi PTI

गुजरात के गांधीनगर में एक रैली को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर से निशाना साधते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उन पर गब्बर सिंह टैक्स शुरू करने का आरोप लगाया और कहा कि इसके कारण लोगों की आय निगली जा रही है. एक दिन पहले राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि नरेंद्र मोदी जी ने पूरे देश की अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया. इससे देश को काफी नुकसान हो रहा है, छोटे दुकानदार समाप्त हो गए हैं और लाखों युवक बेरोजगार हो गए हैं.

राहुल ने ट्वीट कर कहा कि राजग सरकार द्वारा शुरू किया गया कर कांग्रेस नीत पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के वास्तविक सरल टैक्स से भिन्न है. उन्होंने परोक्ष रूप से कहा कि जीएसटी का प्रधानमंत्री का संस्करण लोगों की आय निगल रहा है.

उन्होंने मंगलवार को एक ट्वीट में कहा, कांग्रेस जीएसटी=वास्तविक सरल कर, मोदीजी का जीएसटी=गब्बर सिंह टैक्स=ये कमाई मुझो दे दे. राहुल ने सोमवार को भी गांधीनगर में एक रैली को संबोधित करते हुए इसी मुद्दे पर केंद्र पर प्रहार किया था और कहा था कि नयी कर प्रणाली को सरल बनाया जाना चाहिए.

उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार ने जीएसटी का अपना संस्करण लागू कर दिया जबकि कांग्रेस ने इस कर प्रणाली के प्रतिकूल प्रभावों के बारे में सरकार को आगाह किया था.

‘छोटे दुकानदार समाप्त हो गए हैं’

व्यापक कर सुधार और नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने सोमवार को गुजरात में एक रैली के दौरान जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताया था.

एक रैली में, राहुल ने जीएसटी का मुद्दा उठाया और लोगों को इससे हुई परेशानियों का जिक्र करते हुए कहा, उनकी (केंद्र सरकार की) जीएसटी जीएसटी नहीं है. उनकी जीएसटी का मतलब है गब्बर सिंह टैक्स. इससे देश को काफी नुकसान हो रहा है. छोटे दुकानदार समाप्त हो गए हैं. लाखों युवक बेरोजगार हो गए. लेकिन वे अब भी सुनने को तैयार नहीं हैं.

दिवंगत अमजद खान ने बहुचर्चित हिंदी फिल्म शोले में डकैत गब्बर सिंह का किरदार निभाया था. यह किरदार हिंदी फिल्मों के बहुचर्चित किरदारों में से एक है.

राहुल ने कहा कि मौजूदा जीएसटी वह नहीं है जिसकी परिकल्पना कांग्रेस ने की थी. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने नई कर व्यवस्था के प्रतिकूल प्रभाव के बारे में सरकार को आगाह किया था लेकिन मोदी सरकार ने उन सुझावों के खिलाफ काम किया.

नोटबंदी का किया उपहास

राहुल ने नोटबंदी को लेकर भी मोदी का उपहास किया. नोटबंदी की घोषणा पिछले साल आठ नवंबर को हुई थी. उन्होंने कहा, आठ नवंबर को क्या हुआ, नहीं मालूम, मोदी ने कहा कि 500 और 1000 रुपये के नोट मुझे नहीं पसंद हैं, इसलिए आज रात 12 बजे से वे रद्दी हो जाएंगे. हा हा हा…

राहुल ने कहा कि पहले दो-तीन दिनों तक प्रधानमंत्री को नहीं समझ आया कि क्या हो गया. प्रधानमंत्री ने पांच-छह दिनों बाद अपनी गलती महसूस की.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

 

  • Shadab Anjum

    To the wire staff- Rahul Gandhi’s youth was spent in a community of foreign peoples and his education also was done overseas so earlier it was reflected through his speech and word ,very cool and like a kid. But as now he is spending most of his time within Indian local peoples he is picking up the local trick of words and comments.