राजनीति

कठुआ और उन्नाव गैंगरेप मामले पर बोले मोदी, कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखी हैं, वे निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिए शर्मनाक हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: पीआईबी)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: पीआईबी)

जम्मू कश्मीर के कठुआ ज़िले में आठ साल की मासूम की बलात्कार के बाद हत्या और उन्नाव में एक 17 वर्षीय नाबालिग से गैंगरेप को लेकर मचे बवाल के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है.

पीएमओ इंडिया ने प्रधानमंत्री के हवाले से एक ट्वीट में कहा है, ‘जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखीं हैं, वो सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं. पिछले दो दिनों से जो घटनाएं चर्चा में हैं, वे निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिए शर्मनाक है. एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इस के लिए शर्मसार है.’

एक अन्य ट्वीट में कहा गया है, ‘देश के किसी भी राज्य में, किसी भी क्षेत्र में होने वाली ऐसी वारदातें, हमारी मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देती हैं. मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा. हमारे समाज की इस आंतरिक बुराई को ख़त्म करने का काम, हम सभी को मिलकर करना होगा.

एक अन्य ट्वीट में कहा गया है, ‘मैंने तो लाल किले से बोलने का साहस किया था कि लड़की से नहीं, लड़कों से पूछो. हमें पारिवारिक व्यवस्था, सामाजिक मूल्यों से लेकर न्याय व्यवस्था तक, सभी को इसके लिए मज़बूत करना होगा. तभी हम बाबा साहेब के सपनों का भारत बना पाएंगे, न्यू इंडिया बना पाएंगे.’

मालूम हो कि बीते 10 जनवरी को जम्मू कश्मीर के कठुआ ज़िले की हीरानगर तहसील के रसाना गांव से आठ साल की एक लड़की गायब हो जाती है. दिन में वह घर से अपने घोड़ों को चराने के लिए निकली थी और उसके बाद घर वापस नहीं लौट पाई. एक सप्ताह बाद 17 जनवरी को जंगल में उस मासूम की लाश मिलती है.

मेडिकल रिपोर्ट में पता चला कि लड़की के साथ कई बार कई दिनों तक सामूहिक दुष्कर्म हुआ है और पत्थरों से मारकर उसकी हत्या की गई है.

यह लड़की बकरवाल समुदाय की थी जो एक ख़ानाबदोश समुदाय है. इसका ताल्लुक मुस्लिम धर्म से है.

उधर, उत्तर प्रदेश में उन्नाव ज़िला के बांगरमऊ से विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर 17 साल की एक नाबालिग ने सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाया था. इस मामले में की जांच 12 अप्रैल को सीबीआई की सौंपी गई थी. सीबीआई ने 13 अप्रैल को विधायक को गिरफ़्तार कर लिया है.

Comments