भारत

मध्य प्रदेश: छात्राओं ने हॉस्टल वार्डन पर लगाया धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाने का आरोप

राजधानी भोपाल के कमला नेहरू गर्ल्स हॉस्टल की छात्राओं ने मुख्यमंत्री को लिखा है कि वार्डन धर्म बदलने और उनके धर्म के बारे में प्रचार करने का दबाव बनाती हैं. मना करने पर दुर्व्यवहार किया जाता है.

Kamla Nehru Hostle 1

मध्य प्रदेश: राजधानी भोपाल के एक गर्ल्स हॉस्टल की छात्राओं ने हॉस्टल वार्डन के खिलाफ धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने के गंभीर आरोप लगाए हैं. इस संबंध में उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री को लिखित शिकायत भी भेजी है.

पत्रिका की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रोफेसर कॉलोनी स्थित कमला नेहरू गर्ल्स हॉस्टल की दर्जनभर छात्राओं ने हॉस्टल वार्डन अनास्तसिया टोप्पो पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री आवास में शिकायत की है.

शिकायत के बाद भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी गई है.

कलेक्टर द्वारा आरोपों की जांच की जिम्मेदारी ए़़डीएम को सौंपी गई है.

मुख्यमंत्री को की गई शिकायत में छात्राओं ने आरोप लगाया है कि वार्डन उन पर दूसरा धर्म अपनाने के लिए दबाव बनाती हैं, साथ ही उनके धर्म के बारे में प्रचार करने की बात कहती हैं. मना करने पर हमारे साथ दुर्व्यवहार किया जाता है.

सहायक आयुक्त आदिवासी विकास अवनीश चतुर्वेदी ने दैनिक भास्कर को बातचीत में बताया कि हॉस्टल वार्डन पर धर्म परिवर्तन कराने का लगा आरोप गंभीर है. इसकी जांच जिला प्रशासन के अफसर कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘छात्राओं के आरोप सही हैं अथवा उन्होंने किसी के बहकावे में आकर वार्डन पर गंभीर आरोप लगाए हैं, इसका खुलासा शिकायत की जांच में होगा.’

गौरतलब है कि हॉस्टल वार्डन के खिलाफ पहले भी छात्राओं द्वारा शिकायतें की गई हैं. ऐसी ही एक शिकायत में उनके खिलाफ हुई कार्रवाई के चलते उनकी दो वेतन वृद्धि रोक दी गई हैं.

वार्डन टोप्पो के खिलाफ वह शिकायत हॉस्टल में अवैध तौर पर क्षमता से अधिक छात्राओं को रखने को लेकर की गई थी. छात्राओं ने राज्य महिला आयोग में शिकायत की थी.

Comments