भारत

झारखंड के पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश से कथित भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने की मारपीट

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश से मारपीट मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

agni

(फोटो साभार: एएनआई)

पाकुड़ (झारखंड): सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ मंगलवार को मारपीट की घटना सामने आई है और उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा और उससे जुड़े संगठनों के लोगों ने उस समय मारपीट की जब वह पहड़िया समुदाय के लोगों के अधिकारों के बारे में बात करने लिट्टीपाड़ा जा रहे थे.

अग्निवेश ने घटना के बाद आरोप लगाया कि जब वह होटल से निकल रहे थे तो बाहर प्रदर्शन कर रहे भाजपा, भारतीय जनता युवा मोर्चा और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के लोगों ने उन पर हमला कर दिया.

उन्होंने बताया कि वह दोपहर एक बजे के लगभग यहां मुस्कान होटल से 25 किलोमीटर दूर लिट्टीपाड़ा में पहड़िया आदिम जनजाति के लोगों को उनके अधिकारों के हनन के बारे में संबोधित करने जा रहे थे.

अग्निवेश ने दावा किया कि उसी समय होटल के बाहर उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे भाजपा और उसके युवा संगठनों के सौ से अधिक लोगों ने उन पर हमला कर लिया और उनके साथ जमकर मारपीट की.

सामाजिक कार्यकर्ता ने आरोप लगाया कि उन पर पत्थरों से हमले की भी कोशिश की गई लेकिन वह बच गए. उन्होंने कहा उनके कार्यक्रम की सूचना होने के बाद भी स्थानीय प्रशासन ने उन्हें कोई सुरक्षा नहीं प्रदान की थी जिसके चलते यह घटना हुई.

अग्निवेश ने कहा कि घटना के बाद पुलिस अधीक्षक एवं अन्य अधिकारी यहां आये और उनके इलाज के लिए चिकित्सकों को बुलाया गया जिन्होंने उनकी प्राथमिक चिकित्सा की.

अग्निवेश पर हमले की जांच मंडलायुक्त एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक करेंगे: मुख्यमंत्री

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्वामी अग्निवेश पर हुए हमले पर चिंता व्यक्त करते हुए उसकी जांच संथाल परगना के मंडलायुक्त और पुलिस उपमहानिरीक्षक से कराने के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री के प्रवक्ता ने बताया कि पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश के साथ हुई मारपीट के मामले में दास ने जांच के निर्देश दिये हैं. मुख्यमंत्री ने गृह सचिव एसकेजी रहाटे को मामले की जांच करवाने के निर्देश दिए हैं. मामले की जांच संथाल परगना के आयुक्त और डीआईजी से कराने को कहा गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)