भारत

जामा मस्जिद तोड़ो, मूर्तियां न मिलें तो मुझे फांसी पर लटका देना: भाजपा सांसद साक्षी महाराज

उत्तर प्रदेश के उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने दिल्ली की जामा मस्जिद तोड़ने का आह्वान करते हुए कहा कि मस्जिद को ध्वस्त कर देना चाहिए क्योंकि यह एक हिंदू मंदिर के स्थान पर बनाई गई है.

Jama Masjid Sakshi Maharaj PTI FB

दिल्ली की जामा मस्जिद और भाजपा सांसद साक्षी महाराज (फोटो: पीटीआई/फेसबुक)

नई दिल्ली: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर तनाव के माहौल के बीच भाजपा सांसद सच्चिदानंद हरि साक्षी उर्फ साक्षी महाराज ने दिल्ली की जामा मस्जिद को तोड़ने का आह्वान किया है. उन्होंने दावा किया है कि दिल्ली में जामा मस्जिद एक हिंदू मंदिर को तोड़कर बनाई गई है.

एनडीटीवी की खबर के अनुसार गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र उन्नाव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा साक्षी महाराज ने कहा कि दिल्ली की जामा मस्जिद को ध्वस्त कर देना चाहिए क्योंकि यह एक हिंदू मंदिर के स्थान पर बनाई गई है.

सोशल मीडिया पर सामने आए एक वीडियो में साक्षी महाराज कहते दिख रहे हैं, ‘मैं जब राजनीति में आया था तो मथुरा में मेरा पहला बयान था, अयोध्या मथुरा काशी को छोड़ो, दिल्ली की जामा मस्जिद तोड़ो. अगर सीढ़ियों के नीचे मूर्तियां न मिलें, तो मुझे फांसी पर लटका देना. मैं आज भी अपने इस बयान पर कायम हूं.’

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक राम मंदिर मुद्दे पर साक्षी महाराज ने कहा, ‘मैं सुप्रीम कोर्ट की भर्त्सना करता हूं. सुप्रीम कोर्ट ने तमाम अनावश्यक मामलों में निर्णय दे दिए, लेकिन अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट टाल मटोल कर रहा है.’

राम मंदिर को लेकर साक्षी महाराज ने कहा कि अब भाजपा सरकार से उम्मीद है कि सोमनाथ की तर्ज पर लोकसभा में कानून बनाया जाए और 2019 लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर निर्माण शुरू कर दिया जाए. चाहे सरकार को लोकसभा में अध्यादेश लाना पड़े या नरसिम्हा राव ने जो जमीन अधिग्रहित की, वो राम जन्मभूमि न्यास को देनी पड़े.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार साक्षी महाराज ने यह भी दावा किया कि मुग़लों ने हिंदुओं की भावनाओं से खिलवाड़ किया और मंदिरों को गिराकर 3,000 मस्जिदें बनायीं. उन्होंने कहा, ‘मुग़लकाल में हिंदुओं के सम्मान के साथ खिलवाड़ किया गया, मंदिर तोड़े गए… मस्जिदें बनाई गईं 3,000 से ज्यादा.’

उन्होंने यह कहते हुए कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर भाजपा का रवैया स्पष्ट है, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बसपा प्रमुख मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से इस मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा.

ऐसा पहली बार नहीं है जब भाजपा सांसद ने कोई विवादित बयान दिया है. 2015 में उन्होंने हिंदुओं महिलाओं से हिंदू धर्म को बचाने के लिए 4 बच्चे पैदा करने की बात कही थी.

तब मुस्लिमों पर निशाना साधते हुए तब साक्षी महाराज ने कहा था कि चार बीवी और चालीस बच्चों का कॉन्सेप्ट अब भारत में नहीं चलने वाला. हिंदू धर्म की रक्षा के लिए अब हिंदू महिलाओं को कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए.