भारत

पाकिस्तानी जज के शपथ ग्रहण समारोह में जाएंगे जस्टिस लोकुर, कहा- न्याय किसी सरहद को नहीं जानता

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मदन बी. लोकुर 18 जनवरी को पाकिस्तान के नव नियुक्त मुख्य न्यायाधीश आसिफ सईद खान खोसा के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे.

जस्टिस मदन बी. लोकुर. (फोटो साभार: फेसबुक/National Commission for Protection of Child Rights)

जस्टिस मदन बी. लोकुर. (फोटो साभार: फेसबुक/National Commission for Protection of Child Rights)

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मदन बी. लोकुर 18 जनवरी को पाकिस्तान के नव नियुक्त मुख्य न्यायाधीश आसिफ सईद खान खोसा के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक पिछले साल 30 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट से रिटायर हुए जस्टिस लोकुर ने कहा, ‘मैं उन्हें एक दशक से जानता हूं, जब वह लाहौर हाई कोर्ट में जज थे. वह बहुत ही विद्वान, मुखर और अच्छे इंसान हैं.’

यह पूछे जाने पर कि क्या वह इसे एक असाधारण पहल मानते हैं जब दोनों पड़ोसियों के बीच कुछ ही हाई-प्रोफाइल लोग आते जाते हैं, इस पर उन्होंने कहा, ‘न्याय किसी सीमा को नहीं जानता है.’

यह पहली बार नहीं है जब जस्टिस लोकुर पाकिस्तान में शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे. वह तब भी गए थे जब पाकिस्तान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश तसादुक हुसैन जिलानी को पांच साल पहले पद की शपथ दिलाई गई थी.

जस्टिस खोसा पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ द्वारा बर्खास्त किए गए न्यायाधीशों में से एक हैं.

फरवरी 2016 में, उनकी अध्यक्षता वाली तीन-जजों की पीठ ने एक फैसला सुनाया, जिसमें कहा गया था कि मुशर्रफ को पाकिस्तान के संविधान को नष्ट करने के लिए देशद्रोह के मुकदमे में शामिल किया जाना चाहिए.