दुनिया

पाकिस्तान के लाहौर में धार्मिक स्थल के बाहर विस्फोट, नौ लोगों की मौत

मारे जाने वालो में तीन पुलिस अधिकारी और एक सुरक्षा गार्ड भी शामिल हैं. करीब 24 लोग घायल हैं, जिसमें से कुछ की हालत गंभीर है.

Lahore-blast-Reuters

(फोटो: रॉयटर्स)

लाहौर: पाकिस्तान के सबसे बड़े लाहौर शहर में रमजान के पवित्र महीने में एक धार्मिक स्थल के बाहर बुधवार को एक शक्तिशाली विस्फोट हुआ, जिसमें पांच पुलिसकर्मियों सहित कम से कम नौ लोग मारे गए और कई अन्य घायल हो गए. पुलिस ने यह जानकारी दी है.

विस्फोट में दक्षिण एशिया में सबसे बड़े सूफी धार्मिक स्थल के रूप में जाने जाने वाले दाता दरबार धार्मिक स्थल के बाहर पुलिस को लेकर जा रहे एक वैन को निशाना बनाया गया.

पुलिस की शुरुआती खबरों के मुताबिक, पंजाब प्रांत में दाता दरबार के गेट नंबर दो के नजदीक दो पुलिस वाहनों को निशाना बनाया गया. जियो न्यूज ने लाहौर के संचालन उप महानिरीक्षक अशफाक अहमद खान के हवाले से बताया है कि विस्फोट में तीन पुलिस अधिकारी मारे गए.

मारे जाने वालो में एक सुरक्षा गार्ड भी शामिल है. उन्होंने बताया के कम से कम 24 लोगों का इलाज किया जा रहा है जिसमें से कुछ की हालत गंभीर है.

दुर्घटनास्थल से अधिकारी ने मीडिया को बताया कि विस्फोट की प्रकृति का अभी तक पता नहीं चल सका है और यह कहना अभी बहुत जल्दबाजी होगी कि यह आत्मघाती हमला था या नहीं.

पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और विस्फोट की प्रकृति का पता लगा रही है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि टीम घटना के मूल्यांकन पर काम कर रही है.

अधिकारी ने बताया, ‘आतंकवाद विरोधी विभाग सहित सभी विभाग काम कर रहे हैं. हम नागरिकों की सुरक्षा के प्रयासों के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.’

पाकिस्तान रेडियो ने खबर दी है कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने लाहौर में दाता दरबार के बाहर विस्फोट की कड़ी निंदा की है और अधिकारियों से एक रिपोर्ट मांगी है. प्रधानमंत्री ने शोक संतप्त परिवार के प्रति दुख व्यक्त किया है और विस्फोट में घायलों को सर्वश्रेष्ठ संभावित चिकित्सा उपचार मुहैया कराने का निर्देश दिया.