भारत

खरीफ 2019-20 की फसलों के एमएसपी में मामूली बढ़ोतरी, धान में सिर्फ 3.7 फीसदी की वृद्धि

केंद्र सरकार द्वारा धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 65 रुपये प्रति क्विंटल, ज्वार में 120 रुपये प्रति क्विंटल और रागी में 253 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है.

Kolkata: Farmers plant paddy saplings in a field as the Boro paddy season starts, in the outskirts of Kolkata on Monday morning. PTI Photo (PTI1_29_2018_000045B)

(प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई)

नई दिल्ली: सरकार ने मुख्य खरीफ फसल धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) फसल वर्ष 2019-20 के लिए 3.7 प्रतिशत बढ़ाकर 1,815 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है. कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बुधवार को यह जानकारी दी.

धान के एमएसपी में 65 रुपये प्रति क्विंटल, ज्वार में 120 रुपये क्विंटल तथा रागी के एमएसपी में 253 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति की बैठक में यह निर्णय किया गया.

मंत्री ने आगे कहा कि 2019-20 के लिए तुअर, मूंग और उड़द दालों के न्यूनतम समर्थन मूल्य भी क्रमश: 125 रुपये, 75 रुपये और 100 रुपये बढ़ाए गए हैं.

न्यूनतम समर्थन मूल्य वह कीमत है जो केंद्र किसानों को उनकी उपज का भुगतान करने की गारंटी देता है.

इसके अलावा मूंगफली में 200 रुपये क्विंटल तथा सोयाबीन में 311 रुपये क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है. साथ ही मध्यम कपास का एमएसपी 105 रुपये क्विंटल तथा लंबे कपास का एमएसपी 100 रुपये क्विंटल बढ़ाया गया है.

इस बीच, सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि मंत्रिमंडल ने मजदूरी संहिता को मंजूरी दे दी है. हालांकि संसद सत्र चालू होने के कारण उन्होंने इसके बारे में और ब्योरा नहीं दिया.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)