Letter to Modi

Mahatma Gandhi Hindi University Wardha Shiksha dot com pic

प्रधानमंत्री को पत्र लिखने वाले वर्धा विश्वविद्यालय के छह छात्रों का निष्कासन वापस लिया गया

महाराष्ट्र के वर्धा स्थित महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय के छह छात्रों को बिना अनुमति सामूहिक धरने के आयोजन कर चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने के आरोप में निष्कासित कर दिया गया था.

Tezpur: Bollywood actor Naseeruddin Shah perform during Kartik Hazarika National Theatre Festival, in Tezpur, Thursday, Jan 10, 2019. (PTI Photo) (PTI1_10_2019_000133B)

समाज में खुलेआम नफरत की भावना परेशान करने वाली है: नसीरूद्दीन शाह

मॉब लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुला पत्र लिखने वाली 49 हस्तियों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज करने की निंदा करने वाले साहित्य और कला क्षेत्र की 180 से अधिक हस्तियों में अभिनेता नसीरूद्दीन शाह भी शामिल थे.

(फोटो साभार: फेसबुक)

मॉब लिंचिंग पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखने वाले वर्धा विश्वविद्यालय के छह छात्र निष्काषित

महाराष्ट्र के वर्धा स्थित महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय ने कहा कि छात्रों ने सामूहिक धरने का आयोजन करके 2019 विधानसभा चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया और न्यायिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप किया.

फिल्म निर्देशक अडूर गोपालकृष्णन, श्याम बेनेगल और इतिहासकार रामचंद्र गुहा. (फोटो साभार: फेसबुक/विकिपीडिया)

आरोपों को झूठा बताते हुए बिहार पुलिस ने 49 हस्तियों के ख़िलाफ़ राजद्रोह का मामला बंद किया

बिहार पुलिस ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ लगाए गए आरोप शरारतपूर्ण हैं और उनमें कोई ठोस आधार नहीं है. इस मामले को लेकर एफआईआर दर्ज करवाने वाले स्थानीय वकील सुधीर कुमार ओझा पर कार्रवाई की जाएगी.

फिल्म निर्देशक अडूर गोपालकृष्णन, श्याम बेनेगल और इतिहासकार रामचंद्र गुहा. (फोटो साभार: फेसबुक/विकिपीडिया)

मॉब लिंचिंग पर प्रधानमंत्री को पत्र: ‘हमारा पत्र महज़ अपील था, एफआईआर दर्ज करना अलोकतांत्रिक’

देशभर में मॉब लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं पर चिंता ​ज़ा​हिर करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखने वाले विभिन्न क्षेत्रों की 49 हस्तियों के ख़िलाफ़ राजद्रोह, शांति भंग और उपद्रव के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है.

श्याम बेनेगल, रामचंद्र गुहा, अनुराग कश्यप और अपर्णा सेन.

मॉब लिंचिंग पर प्रधानमंत्री मोदी को खुला पत्र लिखने वाले 49 लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

बिहार के वकील सुधीर कुमार ओझा की ओर से दो महीने पहले दायर की गई एक याचिका पर मुज़फ़्फ़रपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद यह एफआईआर दर्ज हुई है.