कोरोना वायरस: एक दिन में नए मामलों की संख्या फिर हुई सर्वाधिक, कुल मामले दो लाख के पार

लगातार चौथे दिन भारत में कोरोना वायरस के नए मामले आठ हज़ार के पार हुए हैं और लगातार तीसरे दिन एक दिन में मरने वालों की संख्या 200 से अधिक रही है. पूरी दुनिया में यह महामारी 3.80 लाख से अधिक लोगों की जान ले चुकी है. वहीं, बांग्लादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में पहली मौत दर्ज की गई है.

//
Bengaluru: Passengers undergo thermal screening at Kempegowda International airport after authorities eased restrictions, amid the ongoing COVID-19 nationwide lockdown, in Bengaluru, Tuesday, June 2, 2020. (PTI Photo/Shailendra Bhojak)

लगातार चौथे दिन भारत में कोरोना वायरस के नए मामले आठ हज़ार के पार हुए हैं और लगातार तीसरे दिन एक दिन में मरने वालों की संख्या 200 से अधिक रही है. पूरी दुनिया में यह महामारी 3.80 लाख से अधिक लोगों की जान ले चुकी है. वहीं, बांग्लादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में पहली मौत दर्ज की गई है.

Bengaluru: Passengers undergo thermal screening at Kempegowda International airport after authorities eased restrictions, amid the ongoing COVID-19 nationwide lockdown, in Bengaluru, Tuesday, June 2, 2020. (PTI Photo/Shailendra Bhojak)
बेंगलुरु के केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोरोना वायरस के मद्देनजर थर्मल स्कैनिंग से गुजरते यात्री. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में एक बार फिर से रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई. बुधवार को बीते 24 घंटे के दौरान अब तक का सर्वाधिक 8,909 नए मामले सामने आए हैं.

इस आंकड़े के साथ देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बुधवार को बढ़कर 207,615 हो गई, वहीं 217 लोगों की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 5,815 हो गया है.

आंकड़ों को देखा जाए तो यह लगातार चौथा दिन है, जब 24 घंटे के दौरान नए मामलों की संख्या आठ हजार के पार हुई है. इससे पहले दो जून को पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 8,171 नए मामले सामने आए थे. एक जून को 24 घंटे के दौरान नए मामलों की संख्या 8,392 थी. इससे एक दिन पहले 31 मई को यह आंकड़ा 8,380 था.

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वाले लोगों का आंकड़ा देखा जाए तो यह चौथी बार है, जब यह संख्या 200 के पार हो गई है. इससे पहले बीते दो जून को इस खतरनाक वायरस से एक दिन में 204 लोगों की मौत दर्ज की गई थी.

एक जून को बीते 24 घंटे के दौरान 230 लोगों की मौत हुई थी और इससे पहले 30 मई को एक दिन में 265 लोगों की जान गई थी, जो एक दिन में मरने वालों का अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है.

इस तरह से देखा जाए तो यह लगातार तीसरा दिन है, जब एक दिन में मरने वालों की संख्या 200 के पार चली गई है.

आंकड़ों पर गौर करें तो बीती 22 मई से 28 मई तक हर दिन कोरोना संक्रमण के नए मामलों की संख्या छह हजार से अधिक रही है. इसके बाद 29 और 30 मई को सिर्फ दो दिन नए मामलों की संख्या एक दिन में सात हजार के पार रही थी.

बुधवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में बताया गया है कि देश में 101,497 लोगों का इलाज चल रहा है और अब तक 100,302 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं एक व्यक्ति देश से बाहर जा चुका है.

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक 48.31 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

उन्होंने बताया कि अमेरिका, ब्राजील, रूस, ब्रिटेन, स्पेन और इटली के बाद भारत अब कोरोना वायरस से बेहद प्रभावित देशों की सूची में सातवें स्थान पर है.

अधिकारी ने बताया कि मंगलवार से बुधवार सुबह तक 217 लोगों की मौत हुई है. उन्होंने बताया कि इनमें से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 103 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद राजधानी दिल्ली में 33, गुजरात में 29, तमिलनाडु में 13 और पश्चिम बंगाल में 10 लोगों की मौत हुई है.

उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश में छह, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में पांच-पांच, तेलंगाना में चार, हरियाणा और जम्मू कश्मीर में दो-दो, केरल, चंडीगढ़, लद्दाख, पंजाब और उत्तराखंड में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई.

अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण देश में अब तक 5,815 लोगों की मौत हो गई है. महाराष्ट्र में 2,465 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके बाद गुजरात में 1,092, दिल्ली में 556, मध्य प्रदेश में 364, पश्चिम बंगाल में 335, उत्तर प्रदेश में 222 और राजस्थान में 203 लोगों की मौत हो गई.

तमिलनाडु में अब तक 197 लोगों की मौत हो चुकी है. तेलंगाना में 92 और आंध्र प्रदेश में 64, कर्नाटक में 52, पंजाब में 46, जम्मू कश्मीर में 33, बिहार में 24, हरियाणा में 23, केरल में 11 तथा ओडिशा और उत्तराखंड में सात-सात लोगों की मौत हुई है.

हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़ और झारखंड में कोविड-19 से पांच-पांच, असम में चार तथा मेघालय, छत्तीसगढ़ और लद्दाख में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई.

मंत्रालय ने बताया कि मृतकों में से 70 फीसदी पहले से ही किसी अन्य बीमारी के शिकार थे.

देश में संक्रमण के सबसे ज्यादा 72,300 मामले महाराष्ट्र से हैं. इसके बाद 24,586 मामले तमिलनाडु, दिल्ली में 22,132 और गुजरात में 17,617 मामले सामने आए हैं.

राजस्थान में संक्रमण के 9,373, मध्य प्रदेश में 8,420, उत्तर प्रदेश में 8,361 और पश्चिम बंगाल में 6,168 मामले हैं. वहीं बिहार में संक्रमण के 4,155, आंध्र प्रदेश में 3,898, कर्नाटक में 3,796, तेलंगाना में 2,891 मामले हैं.

जम्मू-कश्मीर में 2,718, हरियाणा में 2,652, पंजाब में 2,342, ओडिशा में 2,245, असम में 1,513, केरल में 1,412 और उत्तराखंड में 1,043 मामले संक्रमण के सामने आए हैं.

वहीं झारखंड में 712, छत्तीसगढ़ में 564, त्रिपुरा में 468 और हिमाचल प्रदेश में 345 मामले हैं. छत्तीसगढ़ में 301, मणिपुर में 89, पुदुचेरी में 82 और लद्दाख में 81 मामले हैं.

गोवा में कोरोना वायरस के 79, नगालैंड में 49, अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में 33, मेघालय में 27, अरुणाचल प्रदेश में 22 और मिजोरम में 13 मामले दर्ज किए गए हैं.

दादर-नगर हवेली में चार और सिक्किम में एक मामले हैं.

मंत्रालय ने बताया कि इन आकंड़ों का मिलान भारतीय आयुर्विज्ञान चिकित्सा परिषद से किया जा रहा है और राज्यवार आंकड़े मिलान और पुष्टि का विषय हैं.

पूरी दुनिया में अब तक 3.80 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में यह महामारी 380,384 लोगों की जान ले चुकी है और संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 6,385,902 हो गए हैं. अमेरिका संक्रमण के 1,831,821 मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां मरने वालों की संख्या 106,181 हो चुकी है.

(फोटो: रॉयटर्स)
(फोटो: रॉयटर्स)

संक्रमण के कुल मामलों की संख्या के आधार पर ब्राजील दूसरे नंबर पर है. यहां अब तक 555,383 मामले दर्ज किए गए हैं और 31,199 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

रूस में संक्रमण के कुल मामले 423,186 हो गए हैं और यहां अब तक 5,031 लोगों की मौत हुई है. ब्रिटेन में संक्रमण 279,392 मामले सामने आए हैं. अमेरिका के बाद ब्रिटेन में इस महामारी से सर्वाधिक मौतें हुई हैं. इस देश में मौत का आंकड़ा 39,452 है.

स्पेन में संक्रमण के 239,932 मामले दर्ज हो चुके हैं और यहां अब तक 27,127 लोगों की मौत हो चुकी है. सर्वाधिक प्रभावित देशों में से एक इटली में संक्रमण के कुल 233,515 मामले आए हैं और 33,530 लोगों की मौत हुई है.

इसके बाद संक्रमण के मामलों में भारत का नंबर आता है. इस बीच में संक्रमण का केंद्र रहे चीन में इस संक्रामक रोग से 4,634 लोगों की मौत हुई है और संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 83,021 हो गई है.

बांग्लादेश में रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में कोविड-19 से पहली मौत

ढाका: बांग्लादेश में रोहिंग्या शरणार्थी शिविरों में संक्रमण के प्रसार को लेकर अंतररष्ट्रीय अधिकार समूहों की चिंताओं के बीच बीते मंगलवार को एक रोहिंग्या शरणार्थी की कोविड-19 से मौत का मामला सामने आया है. मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी देते हुए बताया गया कि इन शिविरों में 10 लाख से भी ज्यादा विस्थापित रोहिंग्या शरणार्थी रह रहे हैं.

बीडीन्यूज24 की खबर के मुताबिक दक्षिणपूर्व बांग्लादेश के कॉक्स बाजार शहर में कुटुपालोंग शरणार्थी शिविर में 71 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई.

कॉक्स बाजार से सिविल सर्जन डॉ. महबूबुर रहमान ने ढाका ट्रिब्यून को बताया, ‘हमारे यहां बुरी खबर है. एक रोहिंग्या पुरुष की रविवार को कोविड-19 से मौत हो गई, लेकिन उसकी जांच का नतीजा सोमवार को आया.’

इस व्यक्ति को शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त द्वारा संचालित एक केंद्र में क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था.

अखबार ने कहा कि मरने वाले के संपर्क में आए नौ अन्य शरणार्थियों को भी क्वारंटीन सेंटर में भेजा गया है.

पड़ोसी म्यामां से आए करीब 10 लाख से ज्यादा शरणार्थी फिलहाल बांग्लादेश में रह रहे हैं. कॉक्स बाजार में इनके लिये बनाए गए शिविरों में सबसे ज्यादा लोग रह रहे हैं. शरणार्थियों में से कम से कम 29 कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं.

बांग्लादेश में 11 मार्च को कोरोना वायरस संक्रमण से पहली मौत होने के बाद इन शिविरों को बंद कर दिया गया था.

अंतरराष्ट्रीय अधिकार समूहों ने चेतावनी दी थी कि संक्रमण अगर इन शिविरों तक पहुंचा तो स्थिति बहुत भयावह होगी.

अमेरिका स्थित ‘ह्यूमन राइट्स वॉच’ बांग्लादेश सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन से इत्तेफाक नहीं रखता जिससे खाने और पीने के पानी की कमी हो गई है.

अफ्रीका महाद्वीप में संक्रमण के मामले 1.5 लाख से अधिक हुए

जोहानिसबर्ग: अफ्रीका महाद्वीप में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 1.50 लाख से अधिक हो गई है, जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का कहना है कि 130 करोड़ की आबादी वाला यह महाद्वीप अब भी इस महामारी से सबसे कम प्रभावित हुआ है.

अफ्रीका महाद्वीप में 54 देश हैं और इनमें से कई देश स्कूलों एवं अर्थव्यवस्था को खोलने को लेकर चिंतित हैं.

रवांडा उप सहारा क्षेत्र का पहला देश है जिसने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू किया था. इस हफ्ते देश में कोविड-19 से पहली मौत सामने आने के बाद उसने लॉकडाउन में ढील देने की गति धीमी कर दी.

अफ्रीका में अब तक 4,300 से अधिक लोगों की कोरोना वायरस से मौत होने की पुष्टि हो चुकी है. महाद्वीप में स्थानीय स्तर पर संक्रमण फैल रहा है जबकि कई इलाकों में जांच और चिकित्सीय उपकरणों की भारी कमी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k