भारत

दिल्ली में 2,000 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव: रिपोर्ट

एक समाचार चैनल ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि संक्रमित स्वास्थ्यकर्मियों में से 1,207 डॉक्टर और नर्स दिल्ली के नौ बड़े कोरोना अस्पतालों के हैं. हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अब तक कोरोना से संक्रमित हुए स्वास्थ्यकर्मियों का कोई आंकड़ा नहीं दिया है.

New Delhi: Suspected COVID-19 patients arrive at LNJP hospital, during the ongoing nationwide lockdown, in New Delhi, Saturday, June 20, 2020. (PTI Photo/Kamal Singh)(PTI20-06-2020 000092B)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच बड़ी संख्या में डॉक्टर, नर्स, वार्ड स्टाफ जैसे  स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 वायरस से संक्रमित हो रहे हैं.

चूंकि विभिन्न अध्ययनों से ये स्पष्ट हो चुका है कि आने वाले समय में दिल्ली में मरीजों की संख्या काफी बढ़ेगी, ऐसे में स्वास्थ्यकर्मियों का संक्रमित होना काफी चिंताजनक है.

न्यूज 18 द्वारा इकट्ठा किए गए आंकड़ों के मुताबिक 2000 से ज्यादा डॉक्टर, नर्स समेत अन्य स्वास्थ्यकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं.

रिपोर्ट से पता चलता है कि ऐसे मामलों की संख्या न सिर्फ ज्यादा है बल्कि इस संबंध में आंकड़े इकट्ठा करने के लिए व्यवस्थित सिस्टम न होने के कारण ये संख्या और अधिक हो सकती है.

उदाहरण के तौर पर छोटे नर्सिंग होम या अस्पतालों द्वारा इस संबंध में बहुत थोड़ी या कोई भी जानकारी नहीं दी जा रही है.

न्यूज 18 ने नर्सों के यूनियन और छह अस्पतालों के अधिकारियों से बात कर के ये आंकड़ा तैयार किया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए स्वास्थ्यकर्मियों का कोई आंकड़ा नहीं दिया है.

इसमें कहा गया है कि कोविड-19 पॉजिटिव निकले 1,207 डॉक्टरों और नर्स दिल्ली सरकार द्वारा संचालित लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी), दीपचंद बंधु अस्पताल, सत्यवादी राजा हरीश चंद्र अस्पताल और गुरु तेग बहादुर अस्पताल (जीटीबी) के हैं.

रिपोर्ट में कहा गया है कि राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का कोई डेटा उपलब्ध नहीं है. इसमें कहा गया कि केंद्र सरकार द्वारा संचालित राम मनोहर लोहिया अस्पताल, एम्स, सफदरजंग अस्पताल और लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के कई डॉक्टर और नर्स भी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं.

न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक अगर अन्य स्टाफ जैसे कि लैब टेक्निशियन, सफाई कर्मचारियों का आंकड़ा जोड़ दिया जाता है, तो कोरोना पॉजिटिव स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या 2,000 की संख्या को पार कर जाती है.

बीते शनिवार को दिल्ली में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा बढ़कर 56,746 हो गया. इसमें से 23,340 मामले अभी सक्रिय हैं.

हालांकि राहत की बात ये है कि संक्रमित हुए स्वास्थ्यकर्मियों में से ज्यादातर ठीक भी हो रहे हैं. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्वारंटीन अवधि को दो सप्ताह से घटाकर अब एक सप्ताह कर दिया है.

बीते शुक्रवार को मंत्रालय द्वारा जारी एक एडवाइजरी में कहा गया, ‘हाई रिस्क वाले डॉक्टरों, नर्सिंग अधिकारियों और अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के लिए क्वारंटीन अवधि शुरू में केवल एक सप्ताह होगा.’