यूपी: हाईवे पर झुलसी मिली छात्रा का दावा- गैंगरेप की कोशिश विफल होने पर आरोपियों ने आग लगाई

मामला शाहजहांपुर का है, जहां स्वामी शुकदेवानंद पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज की एक छात्रा लखनऊ-बरेली हाईवे पर नग्न अवस्था में बुरी तरह झुलसी हुई मिली थी. पीड़िता को इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया है. पुलिस के अनुसार छात्रा ने बताया है कि तीन लोगों ने बलात्कार में विफल होने पर केरोसिन डालकर उसे आग लगा दी.

/
(फोटो: भारतीय रेलवे वेबसाइट)

मामला शाहजहांपुर का है, जहां स्वामी शुकदेवानंद पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज की एक छात्रा लखनऊ-बरेली हाईवे पर नग्न अवस्था में बुरी तरह झुलसी हुई मिली थी. पीड़िता को इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया है. पुलिस के अनुसार छात्रा ने बताया है कि तीन लोगों ने बलात्कार में विफल होने पर  केरोसिन डालकर उसे आग लगा दी.

(फोटो: भारतीय रेलवे वेबसाइट)
(फोटो: भारतीय रेलवे वेबसाइट)

शाहजहांपुर/लखनऊ: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में संदिग्ध परिस्थितियों में कॉलेज से गायब हुई स्नातक की छात्रा अधजली हालत में राजमार्ग के किनारे मिली थी.

पीड़िता को गंभीर हालत में लखनऊ रेफर किया गया है और पुलिस के अनुसार, छात्रा के पिता की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया गया है व घटना की जांच जारी है.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, पुलिस अधीक्षक एस. आनंद ने बताया कि पीड़िता ने दावा किया है कि तीन लोगों ने राई खेड़ा गांव के एक खेत के पास उससे बलात्कार की कोशिश की, जिसमें विफल रहने पर उन्होंने मिट्टी का तेल का डालकर उसे आग लगा दी.

आनंद ने मंगलवार को बताया था कि शहर के ही स्वामी शुकदेवानंद पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज में स्नातक में पढ़ने वाली छात्रा लखनऊ-बरेली राजमार्ग पर नगरिया मोड़ के पास खेतों में नग्न अवस्था में मिली थी.

छात्रा थाना जलालाबाद के एक गांव की निवासी है और वहीं से शाहजहांपुर के इस कॉलेज में पढ़ने आती थी.

उन्होंने बताया कि सोमवार को पीड़िता अपने पिता के साथ बरेली मोड़ स्थित कॉलेज में पढ़ने के लिए आई थी. छात्रा का पिता कॉलेज के बाहर बैठा रहा जबकि छात्रा पढ़ने के लिए कॉलेज में चली गई.

आनंद ने बताया, ‘जब छात्रा वापस नहीं आई तो उसके पिता ने तलाश शुरू की. इस बीच, छात्रा के पिता को किसी ने सूचना दी की उनकी बेटी नगरिया मोड़ के पास जली हुई अवस्था में पड़ी है और पुलिस उसे मेडिकल कॉलेज ला रही है.’

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, पुलिस अधिकारी तथा मजिस्ट्रेट द्वारा छात्रा के बयान लेने का काफी प्रयास किया गया परंतु वह बोल नहीं सकी. छात्रा काफी झुलस गई है, ऐसे में उसे बेहतर इलाज के लिए लखनऊ स्थित श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार पुलिस ने यह भी कहा कि पीड़िता को यह याद नहीं है कि वह कॉलेज की तीसरी मंजिल से अस्पताल तक कैसे पहुंची और वह बार-बार बयान बदल रही है.

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के हवाले से बताया कि वह तीसरे फ्लोर से खुद नीचे आयी थीं. आनंद ने बताया, ‘सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांचकर्ताओं ने पाया कि परिसर में जाने के बीस मिनट बाद वह एक टूटी दीवार से बाहर निकली और कैनाल रोड पर अकेले टहलती रही. इससे पहले वह एक क्लास के बाहर अपनी दोस्तों से बात करते हुए और लाइब्रेरी जाते हुए दिख रही है.’

आनंद ने बताया कि कई टीम मामले की जांच में लगी हैं और कॉलेज के कई छात्रों और पीड़िता के दोस्तों से पूछताछ की गई है. लड़की ने अपने गांव के एक व्यक्ति से भी फोन पर बात की थी, जिससे भी पूछताछ की गई है.

जहां छात्रा झुलसी हुई मिली, उस गांव के एक व्यक्ति आसिफ ने बताया कि वह खेतों में बिना कपड़ों के जली हुई पड़ी थी, पुलिस को फोन करने से पहले गांव वालों ने उसे कपड़े से ढका था.

एसपी आनंद के अनुसार, जहां छात्रा मिली, वहां खाली गिलास मिले हैं, लेकिन शराब पीने का कोई चिह्न नहीं मिला.

इस बीच, सिविल अस्पताल के निदेशक एसएससी सुंदरीयाल ने मंगलवार रात बताया था कि लड़की की स्थिति स्थिर है और उसकी हालत की निगरानी की जा रही है.

छात्रा के पिता ने सिविल अस्पताल में पत्रकारों को बताया, ‘हम पूर्वान्ह करीब दस बजे कॉलेज जाने के लिए घर से निकले थे और मैंने उसे 11:00 बजे कॉलेज के गेट पर छोड़ा. जब अपराह्न तीन बजे कॉलेज में छुट्टी हुई तो मैंने अपनी बेटी को बाहर निकलते नहीं देखा और शाम छह बजे तक उसका कुछ पता नहीं लगा. उसके बाद मुझे एक फोन कॉल आई जिस पर मुझे मेरी बेटी के बारे में बताया गया.’

अपनी बेटी की एक मित्र की तरफ इशारा करते हुए लड़की के पिता ने कहा, ‘उसने मेरी बेटी से कॉलेज के एक अन्य गेट से अंदर जाने को कहा था लेकिन वह खुद उस गेट से नहीं गई थी. मेरी बेटी के साथ जो कुछ भी हुआ उसकी जिम्मेदार उसकी दोस्त है.’

छात्रा के पिता ने बताया कि वह खुद अचंभित हैं क्योंकि बेटी कभी अकेले कॉलेज नहीं आई. उन्होंने कहा, ‘अगर हमें कोई काम होता था तो बेटी आने के लिए मना कर देती थी. सप्ताह या 15 दिन में वह बेटी को लेकर आते थे और कॉलेज के बाहर बैठकर उसका इंतजार करते थे और पढ़ाई पूरी होने के बाद वह खुद बेटी को लेकर गांव तक जाते थे.’

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक,  एसपी आनंद ने कहा, ‘सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हमने पाया कि वह कॉलेज से अपने घर लिए निकली थी. हम उसके माता-पिता से अनुरोध कर रहे हैं कि उसे  जांच में सहयोग करने के लिए कहें.’

उन्होंने कहा कि संबंधित थाने में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

शाहजहांपुर के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि कॉलेज से लगभग 3-4 किमी दूर तक के सीसीटीवी फुटेज बरामद किए गए हैं और यह दर्शाता है कि उसने सामान्य राह के बजाय वैकल्पिक मार्ग लिया था.

शाहजहांपुर के एसपी (ग्रामीण) संजीव कुमार बाजपेयी ने कहा कि पीड़ित का सहयोग इस मामले को घंटों में हल कर सकता है, लेकिन वह घटना का विवरण देने के लिए अनिच्छुक है.

उल्‍लेखनीय है कि वर्ष 2019 में शाहजहांपुर के स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली एलएलएम की छात्रा ने एक वीडियो में स्वामी चिन्मयानंद पर यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे. इस कॉलेज को स्वामी चिन्मयानंद का ट्रस्ट चलाता है.

इस मामले में आरोपी स्वामी चिन्मयानंद की मुमुक्ष आश्रम से गिरफ्तारी हुई थी लेकिन बाद में सुनवाई के दौरान एमपी-एमएलए अदालत में छात्रा ने स्‍वामी पर किसी तरह का आरोप लगाने से इनकार कर दिया था.

पिछले वर्ष स्‍वामी चिन्‍मयानंद को इलाहाबाद हाईकोर्ट से इस मामले में जमानत मिली थी.

लापता दो चचेरी बहनों में एक का शव मिला, दूसरी गंभीर रूप से घायल मिली

इस बीच, शाहजहांपुर से ही मिले एक अन्‍य समाचार के अनुसार जिले में लापता दो चचेरी बहनों में एक का शव पुलिस ने बरामद किया है जबकि दूसरी गंभीर रूप से घायल खेत में पड़ी मिली.

पुलिस अधीक्षक एस. आनंद ने मंगलवार को बताया कि थाना कांट अंतर्गत भानपुर गांव में रहने वाली दो चचेरी बहनें गांव के बाहर ट्यूबवेल पर नहाने गई थी जब शाम छह बजे तक वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने ग्रामीणों के साथ उनकी तलाश शुरू की. एक बच्ची की उम्र पांच वर्ष जबकि दूसरी की सात वर्ष है.

उन्होंने बताया कि सोमवार देर रात गांव के बाहर खेतों में पांच वर्षीय बच्ची मृत अवस्था में पड़ी मिली जबकि इसकी चचेरी बहन दूसरे गांव फाजिलपुर में सरसों के खेत में गंभीर रूप से घायल पड़ी मिली.

सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने तत्काल बच्ची को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज भेजा और दूसरी बच्ची के शव को कब्ज़े में ले लिया.

आनंद ने बताया कि मामले में सोमवार रात से ही पुलिस की टीम संदिग्धों को बुलाकर पूछताछ कर रही है और एक दर्जन लोगों से इस मामले में पूछताछ की जा चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

https://arch.bru.ac.th/wp-includes/js/pkv-games/ https://arch.bru.ac.th/wp-includes/js/bandarqq/ https://arch.bru.ac.th/wp-includes/js/dominoqq/ https://ojs.iai-darussalam.ac.id/platinum/slot-depo-5k/ https://ojs.iai-darussalam.ac.id/platinum/slot-depo-10k/ https://ikpmkalsel.org/js/pkv-games/ http://ekip.mubakab.go.id/esakip/assets/ http://ekip.mubakab.go.id/esakip/assets/scatter-hitam/ https://speechify.com/wp-content/plugins/fix/scatter-hitam.html https://www.midweek.com/wp-content/plugins/fix/ https://www.midweek.com/wp-content/plugins/fix/bandarqq.html https://www.midweek.com/wp-content/plugins/fix/dominoqq.html https://betterbasketball.com/wp-content/plugins/fix/ https://betterbasketball.com/wp-content/plugins/fix/bandarqq.html https://betterbasketball.com/wp-content/plugins/fix/dominoqq.html https://naefinancialhealth.org/wp-content/plugins/fix/ https://naefinancialhealth.org/wp-content/plugins/fix/bandarqq.html https://onestopservice.rtaf.mi.th/web/rtaf/ https://www.rsudprambanan.com/rembulan/pkv-games/ depo 20 bonus 20 depo 10 bonus 10 poker qq pkv games bandarqq pkv games pkv games pkv games pkv games dominoqq bandarqq