दुनिया

चाइनीज़ फोन में सेंसरशिप सॉफ्टवेयर, इन्हें न ख़रीदें, अगर ख़रीदा है तो फेंक दें: लिथुआनिया सरकार

लिथुआनिया सरकार द्वारा संचालित साइबर सुरक्षा निकाय ने कहा है कि इन चाइनीज़ मोबाइल फोन में ‘फ्री तिब्बत’, ‘लॉन्ग लिव ताइवान इंडिपेंडेंस’ या ‘डेमोक्रेटिक मूवमेंट’ जैसे शब्दों को तत्काल पकड़ने और इन्हें सेंसर करने की क्षमता होती है.

चीन में शाओमी का एक स्टोर. (फोटो: विकिमीडिया कॉमन्स/[email protected] Grid Scheduler)

विलनियस: यूरोपीय देश लिथुआनिया के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि लोगों को चाइनीज मोबाइल फोन का इस्‍तेमाल करना बंद कर देना चाहिए और जिनके पास इस तरह के फोन हैं, वे उसे उठाकर फेंक दें.

लिथुआनिया सरकार ने दावा किया है कि उनकी जांच में पता चला है कि इस तरह की डिवाइसों में पहले ही सेंसरशिप की व्यवस्था बनाई गई होती है. मंत्रालय ने यह भी सलाह दी है कि लोग ‘शाओमी’ (Xiaomi) या ‘एमआई’ (Mi) जैसी चीनी कंपनियों के फोन को खरीदने से बचें.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, लिथुआनिया द्वारा संचालित साइबर सुरक्षा निकाय ने कहा है कि इन चाइनीज मोबाइल फोन में ‘फ्री तिब्बत’, ‘लॉन्ग लिव ताइवान इंडिपेंडेंस’ या ‘डेमोक्रेटिक मूवमेंट’ जैसे शब्दों को तत्काल पकड़ने और इन्हें सेंसर करने की क्षमता होती है.

रक्षा मंत्रालय के राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा केंद्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि शाओमी के एमआई 10टी 5जी (Xiaomi’s Mi 10T 5G) फोन में ऐसे सेंसर सॉफ्टवेयर को ‘यूरोपीय संघ क्षेत्र’ के लिए बंद कर दिया गया था, लेकिन इसे किसी भी समय चालू किया जा सकता है.

इस संबंध में पूछे गए रॉयटर्स के सवालों का शाओमी ने जवाब नहीं दिया है.

लिथुआनिया के डिप्टी रक्षा मंत्री मार्गिरिस अबुकेविसिअस ने रिपोर्ट पेश करते हुए संवाददाताओं से कहा, ‘हमारी सिफारिश है कि नए चीनी फोन न खरीदें और पहले से खरीदे गए फोन से जल्द से जल्द छुटकारा पाएं.’

हाल ही में लिथुआनिया और चीन के बीच संबंधों में खटास आई है. चीन ने पिछले महीने मांग की थी कि लिथुआनिया बीजिंग से अपने राजदूत को वापस बुलाए और वह अपने राजदूत को विलनियस (लिथुआनिया की राजधानी) से वापस बुला लेगा.

ऐसा तब हुआ जब ताइवान ने घोषणा की कि लिथुआनिया में उसके मिशन (किसी देश में किसी अन्य देश का कार्यालय ) को ‘ताइवानी प्रतिनिधि कार्यालय’ कहा जाएगा.

बीते 18 वर्षों में यूरोप में ताइवान के पहले राजनयिक कार्यालय, जो लिथुआनिया में स्थित होगा, को ताइवे कार्यालय नहीं ताइवान प्रतिनिधि कार्यालय कहा जाएगा.

यूरोप और अमेरिका में ताइवान के मिशन ताइपे शहर के नाम का उपयोग करते हैं, द्वीप के संदर्भ से परहेज करते हुए, जिसे चीन अपने क्षेत्र के रूप में दावा करता है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने पिछले हफ्ते लिथुआनिया की प्रधानमंत्री इंग्रिडा सिमोनाइटे से बात की थी और चीन के दबाव में अपने देश के समर्थन पर जोर दिया था.

साइबर सुरक्षा निकाय की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि शाओमी फोन सिंगापुर में एक सर्वर पर एन्क्रिप्टेड फोन यूसेज डेटा भेज रहा था. चीन स्थित हुवावे कंपनी के पी40 5जी (P40 5G) फोन में भी सुरक्षा कमी पाई गई, लेकिन एक अन्य चीनी निर्माता वनप्लस के फोन में ऐसी कोई समस्या नहीं दिखी है.

बाल्टिक्स में हुवावे के प्रतिनिधि ने बीएनएस न्यूज वायर को बताया कि उसके फोन यूजर्स डेटा को बाहर नहीं भेजते हैं.

रिपोर्ट में कहा गया है कि डिफॉल्ट इंटरनेट ब्राउजर सहित शाओमी फोन के सिस्टम ऐप्स द्वारा सेंसर की जा सकने वाली शब्दों की सूची में चीनी भाषा के 449 शब्द शामिल हैं और इसे लगातार अपडेट किया जाता है.

उन्होंने कहा, ‘यह न केवल लिथुआनिया के लिए बल्कि शाओमी डिवाइस का इस्तेमाल करने वाले सभी देशों के लिए महत्वपूर्ण है.’