राजनीति

अरविंद केजरीवाल ने कहा- दिल्ली में इंक़लाब हुआ, पंजाब में हुआ और अब यह पूरे देश में पहुंचेगा

बीते दिनों आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कुमार विश्वास ने आरोप लगाया था कि अरविंद केजरीवाल राज्य के मुख्यमंत्री बनने के लिए पंजाब में अलगाववादी तत्वों से ‘समर्थन लेने के लिए तैयार’ हैं. केजरीवाल ने इस आरोप का ज़िक्र करते हुए कहा कि इस जनादेश से जनता ने साफ़ कर दिया है कि केजरीवाल ‘आतंकवादी’ नहीं, बल्कि देश का सच्चा सपूत और देशभक्त है.

दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय पर आप नेता अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया. (फोटो साभार: ट्विटर)

नई दिल्ली: पंजाब विधानसभा चुनाव में मिले प्रचंड जनादेश से उत्साहित आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि पंजाब में आया यह ‘इंकलाब’ अब पूरे देश में पहुंचेगा.

बीते दिनों ‘आप’ के पूर्व नेता कुमार विश्वास ने आरोप लगाया था कि केजरीवाल राज्य के मुख्यमंत्री बनने के लिए पंजाब में अलगाववादी तत्वों से ‘समर्थन लेने के लिए तैयार’ हैं. केजरीवाल ने इस आरोप का जिक्र करते हुए कहा कि इस जनादेश से जनता ने साफ कर दिया है कि केजरीवाल ‘आतंकवादी’ नहीं, बल्कि देश का सच्चा सपूत और देशभक्त है.

निर्वाचन आयोग द्वारा 117 सदस्यीय विधानसभा में से आप ने प्रचंड बहुमत के साथ 92 सीटों पर जीत दर्ज कर ली है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पंजाब में ‘आप’ की ओर से मुख्यमंत्री पद के अपने उम्मीदवार भगवंत मान को बधाई देते हुए उन्हें ‘छोटा भाई’ बताया.

उन्होंने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में आप कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘पंजाब के लोगों ने पार्टी को एक बड़ा जनादेश दिया है, भले ही प्रतिद्वंद्वियों द्वारा चुनाव जीतने से रोकने के लिए ‘बड़ी साजिशें’ रची गई हों.’

विश्वास के आरोप पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस और अन्य दलों ने दिल्ली के मुख्यमंत्री से सवाल किया था. हालांकि, केजरीवाल ने इस आरोप को ‘हास्यास्पद’ बताते हुए खारिज कर दिया था और कहा था कि उन्हें ‘दुनिया का सबसे प्यारा आतंकवादी’ होना चाहिए जो स्कूल और अस्पताल बनाता है.

केजरीवाल ने कहा, ‘सभी ने एक साथ आकर कहा कि केजरीवाल आतंकवादी है. आज इन (चुनाव) परिणामों के माध्यम से लोगों ने कहा है कि केजरीवाल आतंकवादी नहीं हैं, केजरीवाल भारत के सच्चे सपूत हैं, सच्चे देशभक्त हैं. लोगों ने नतीजे घोषित कर दिए हैं. उन्होंने कहा कि आतंकवादी केजरीवाल नहीं है, बल्कि आप सभी देश को लूटने वाले आतंकवादी हैं.’

उन्होंने पंजाब के मतदाताओं को विधानसभा चुनावों में ‘शानदार जीत’ के लिए आप का नेतृत्व करने के लिए बधाई दी और कहा कि उन्होंने राजनीतिक दिग्गजों को धूल चटा दी.

केजरीवाल ने अपनी राष्ट्रीय आकांक्षा का संकेत देते हुए कहा, ‘पहले दिल्ली में इंकलाब हुआ, अब पंजाब में इंकलाब हुआ और यह इंकलाब पूरे देश में पहुंचेगा.’

उन्होंने कहा, ‘हम सभी को संकल्प लेना है कि हम एक नया भारत बनाएंगे, एक ऐसा भारत जहां एक व्यक्ति दूसरे से प्रेम करेगा और नफरत के लिए कोई जगह नहीं होगी, ऐसा भारत जहां कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोएगा, जहां हमारी मां और बहनें सुरक्षित होंगी. जहां अमीर और गरीब दोनों के बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलेगी.’

केजरीवाल ने लोगों से नए भारत के निर्माण के लिए आप में शामिल होने का आह्वान किया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब विधानसभा चुनाव में आप के लिए प्रमुख मुद्दों में से एक स्वास्थ्य और शिक्षा का ‘दिल्ली मॉडल’ था. जनादेश आने के बाद केजरीवाल ने कहा, ‘भगत सिंह ने एक बार कहा था कि आजादी के बाद अगर हम व्यवस्था नहीं बदलेंगे तो कुछ नहीं होगा. पिछले 75 वर्षों में इन पार्टियों और राजनेताओं ने अंग्रेजों की व्यवस्था को कायम रखा था. उन्होंने कोई स्कूल या अस्पताल नहीं बनाया. आप ने पिछले सात साल में व्यवस्था बदली है.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि वे भगत सिंह और बाबासाहेब आंबेडकर के सपनों को पूरा करने के लिए काम करेंगे.

केजरीवाल ने इन चुनावों में हार का स्वाद चखने वाले वरिष्ठ नेताओं पर भी कटाक्ष किया. उन्होंने कहा, ‘पंजाब में बड़ी-बड़ी कुर्सिया हिल गई हैं. सुखबीर सिंह बादल हार गए, कैप्टन सर हार गए, चन्नी सर हार गए, नवजोत सिंह सिद्धू हार गए.’

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि गोवा और पंजाब के नतीजों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि ‘केजरीवाल मॉडल ऑफ गवर्नेंस’ राष्ट्रीय हो गया है.

उन्होंने कहा, ‘पंजाब में जीत और गोवा में मिली प्रतिक्रिया के साथ, यह स्पष्ट है कि केजरीवाल शासन का मॉडल राष्ट्रीय हो गया है. पंजाब के लोगों ने आप को वोट नहीं दिया, उन्होंने आप को एक मौका दिया है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)