भारत

राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करेगी शिवसेना: उद्धव ठाकरे

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा कि पार्टी बिना किसी दबाव के दौपदी मुर्मू को समर्थन दे रही है. उन्होंने जोड़ा कि वर्तमान राजनीतिक माहौल को देखते हुए उन्हें मुर्मू का समर्थन नहीं करना चाहिए था, लेकिन वे संकीर्ण मानसिकता वाले नहीं हैं.

उद्धव ठाकरे. (फोटो: पीटीआई)

मुंबई: शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करेगी.

ठाकरे ने कहा कि शिवसेना बिना किसी दबाव के मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा कर रही है. उन्होंने कहा, ‘शिवसेना सांसदों की बैठक में किसी ने मुझ पर दबाव नहीं डाला.’

उन्होंने कहा, ‘मेरी पार्टी के आदिवासी नेताओं ने मुझसे कहा कि यह पहली बार है कि किसी आदिवासी महिला को राष्ट्रपति बनने का मौका मिल रहा है.’

ठाकरे ने कहा, ‘दरअसल, वर्तमान राजनीतिक माहौल को देखते हुए, मुझे उनका समर्थन नहीं करना चाहिए था. लेकिन हम संकीर्ण मानसिकता वाले नहीं हैं.’

उल्लेखनीय है कि बीते सप्ताह महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट से शिवसेना सांसद राजेंद्र गावित ने उद्धव ठाकरे से द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करने का आग्रह किया था.

ठाकरे को सात जुलाई को लिखे पत्र में गावित ने कहा कि एक आदिवासी महिला का राष्ट्रपति बनना सम्मान की बात होगी. उन्होंने कहा कि इससे पहले पार्टी संस्थापक बाल ठाकरे ने एनडीए का साथ न देते हुए प्रतिभा पाटिल और प्रणब मुखर्जी की उम्मीदवारी (दोनों कांग्रेस नेता) का समर्थन किया था.

आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले गावित इस तरह की मांग करने वाले शिवसेना के दूसरे सांसद थे. बीते हफ्ते की शुरुआत में दक्षिण मध्य मुंबई लोकसभा सीट से शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने भी ठाकरे को पत्र लिखकर ऐसी ही मांग की थी.

इस बीच, यह भी बताया गया है मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना के बागी गुट ने 18 जुलाई होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में मुर्मू का समर्थन करने का फैसला किया है.

राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान 18 जुलाई को होगा और वोटों की गिनती 21 जुलाई को की जाएगी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)