भारत

लड़कियों पर मुकेश खन्ना की टिप्पणी से विवाद, डीसीडब्ल्यू ने एफ़आईआर दर्ज किए जाने की मांग की

दूरदर्शन पर प्रसारित धारावाहिक ‘महाभारत’ में भीष्म पितामह और ‘शक्तिमान’ में मुख्य भूमिका निभाने के लिए जाने जाने वाले अभिनेता मुकेश खन्ना ने कहा है कि ‘सभ्य समाज’ की लड़की यौन संबंधों को लेकर कभी कोई बात शुरू नहीं करेगी और अगर वो ऐसा करती है तो यौनकर्मी है.

मुकेश खन्ना. (फोटो साभार: फेसबुक)

मुंबई/नई दिल्ली: अभिनेता मुकेश खन्ना यौन संबंध बनाने की इच्छा व्यक्त करने वाली लड़कियों की तुलना ‘यौनकर्मियों’ से करने के कारण विवादों में घिर गए हैं.

बीआर चोपड़ा के धारावाहिक ‘महाभारत’ में भीष्म पितामह की भूमिका निभाने और ‘शक्तिमान’ में अभिनय के लिए जाने जाने वाले खन्ना ने कहा कि ‘सभ्य समाज’ की लड़की यौन संबंधों को लेकर कभी कोई बात शुरू नहीं करेगी.

64 वर्षीय अभिनेता ने अपने ‘यूट्यूब’ चैनल ‘भीष्म इंटरनेशनल’ पर बीते आठ अगस्त को पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा था, ‘यदि कोई लड़की किसी लड़के से यौन संबंध बनाने के लिए कहती है, तो वह कोई लड़की नहीं है, क्योंकि वो ‘धंधा’ कर रही है, क्योंकि किसी सभ्य समाज की कोई शालीन लड़की ऐसी बात कभी नहीं करेगी. अगर वो ऐसी बात करती है तो वो सभ्य समाज की नहीं है, ये उसका ‘धंधा’ है. आप उसमें भागीदार मत बनिए.’

इस बयान को लेकर विवाद छिड़ने के बाद खन्ना ने कहा कि वह महिला-पुरुष के आम संबंधों पर टिप्पणी नहीं कर रहे थे और उनका मकसद ‘युवाओं को देह व्यापार से जुड़े गिरोहों को लेकर जागरूक’ करना था.

खन्ना ‘क्या आपको कभी ऐसी लड़कियां लुभाती हैं?’ शीर्षक वाले वीडियो में देह व्यापार से जुड़े उन गिरोहों की बात कर रहे थे, जो पुरुषों को ब्लैकमेल करते हैं.

उन्होंने कहा, ‘मुझे भी लड़कियों के संदेश मिलते हैं, जिनमें वे कहती हैं कि वे मुझसे बात करना चाहती हैं और वे नग्न तस्वीरें मांगती हैं. हम नहीं जानते कि वे वास्वत में कोई महिला होती है या पुरुष. मुझे भी संदेश मिलते हैं, मैं उनका उत्तर नहीं देता. मैं कुछ ऐसे लोगों को जानता हूं, जिन्हें ऐसी लड़कियों से ऐसे संदेश मिले हैं.’

दो दिन पुरानी यह वीडियो क्लिप बुधवार सुबह वायरल हो गई.

इस बयान को लेकर आलोचना होने के बाद खन्ना ने कहा, ‘लोगों ने किसी वीडियो का एक छोटा सा या कुछ हिस्सा देखकर पहले भी मुझे ट्रोल (निंदा) किया है. लोगों को पहले पूरा वीडियो देखना चाहिए. मेरा एकमात्र लक्ष्य युवाओं को देह व्यापार के गिरोह को लेकर जागरूक करना था. मैं किसी महिला या किसी पुरुष के सामान्य संबंधों की बात नहीं कर रहा. मैं महिलाओं का सम्मान करता हूं.’

बहरहाल दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने दिल्ली पुलिस साइबर सेल को नोटिस जारी कर महिलाओं के खिलाफ खन्ना की कथित ‘अपमानजनक और गलत टिप्पणियों’ के कारण उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की.

आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा, ‘शक्तिमान सिर्फ हवा में उड़के नहीं, बल्कि महिलाओं का सम्मान करने से बनते हैं. इस तरह लड़कियों को ‘धंधे वाली’ बोलना मुकेश खन्ना की घटिया सोच दर्शाता है. इनका शो देखकर शैतान बच्चे बोलते थे #SorryShaktiman. आज अपने बयान के लिए इन्हें पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने दिल्ली पुलिस को इस संबंध में नोटिस जारी कर कहा है कि उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए और सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए, क्योंकि जो इनके बयान हैं, वो सीधे-सीधे महिला विरोधी हैं.’

मालीवाल ने पुलिस से मामले में दर्ज एफआईआर और कार्रवाई रिपोर्ट की प्रति 13 अगस्त तक उपलब्ध कराने को कहा है.

खन्ना को सोशल मीडिया पर भी आलोचना का सामना करना पड़ा.

एक यूजर ने लिखा, ‘अगर कोई अभिनेता इस तरह की बकवास कहता है, तो वह सुर्खियों में आना चाहता है.’

एक अन्य यूजर ने कहा, ‘बेहतरीन तर्क. मैं समझ सकता हूं कि किसी लड़की ने उनसे ऐसा नहीं कहा होगा, इसलिए उनके लिए अच्छा है कि वह जीवन भर इस भ्रम में रहें.’ एक अन्य यूजर ने ट्वीट किया, ‘क्षमा करें शक्तिमान, इस बार आप गलत हैं.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)