राजनीति

गैस, ईंधन की बढ़ी क़ीमतों से ध्यान हटाने के लिए नफ़रत और हिंसा फैला रही है भाजपा: राहुल गांधी

भारत जोड़ो यात्रा पर निकले कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि देश हर रोज़ ईंधन के दामों में भारी वृद्धि देख रहा है. भारत में जनता से अधिकाधिक पैसे लेकर चंद उद्योगपतियों को दिए जा रहे हैं. सच्चाई यही है कि भाजपा द्वारा फैलाई जा रही हिंसा और नफ़रत इन बातों से ध्यान भटकाने के लिए है.

राहुल गांधी. (फोटो साभार: फेसबुक/@rahulgandhi)

त्रिशूर: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को देश में ईंधन एवं रसोई गैस के दामों में वृद्धि को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया और कहा कि भाजपा एवं आरएसएस ऐसे ज्वलंत मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए नफरत एवं हिंसा फैला रहे हैं.

भारत जोड़ो यात्रा के तहत प्रसिद्ध थेक्किनाडू मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि भारत सरकार देश के पांच या छह सबसे धनी लोगों के हित में काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पूछ रहे थे कि कांग्रेस ने पिछले 70 सालों में क्या किया.

उन्होंने कहा, ‘नरेंद्र मोदी जी, आपने जैसी बेरोजगारी दी है, उस स्तर की बेरोजगारी हमने भारत को कभी नहीं दी. हमने जरूरी वस्तुओं की कीमत इतनी अधिक कभी नहीं बढ़ाई. जब संप्रग सरकार सत्ता में थी तब गैस सिलेंडर 400 रुपये का हुआ करता था. प्रधानमंत्री गैस सिलेंडर के दाम 400 रुपये होने को लेकर शिकायत करते थे. लेकिन वह आज एक सिलेंडर की कीमत तकरीबन 1,000 रुपये होने पर कुछ नहीं बोलते.’

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष गांधी ने कहा कि देश हर रोज ईंधन के दामों में भारी वृद्धि देख रहा है तथा भारत में जनता से अधिकाधिक पैसे लेकर चंद उद्योगपतियों को दिया जा रहा है.

गांधी ने कहा, ‘सच्चाई यह है कि भाजपा द्वारा फैलाई जा रही हिंसा और नफरत आपका ध्यान इन बातों से ध्यान भटकाने के लिए है. इसे इस तरह से तैयार किया गया है कि आप जिस मुख्य मुद्दे से जूझ रहे हैं, उससे आपका ध्यान बंट जाए, यह मुद्दा लाखों भारतीयों के लिए असहनीय पीड़ा की वजह है. और भारत सरकार भारत के लोगों या छोटे एवं मझोले कारोबारियों या श्रमिकों या किसानों या युवकों के लिए नहीं चलाई जा रही है.’

उन्होंने दावा किया कि भारत में सबसे अधिक बेरोजगारी केरल में है . उन्होंने कहा, ‘मैं मुख्यमंत्री (पिनराई विजयन) से अनुरोध करता हूं कि वह इस मुद्दे का अध्ययन एवं विश्लेषण करें. यह एक अहम मुद्दा है. मैं इसे आलोचना की भावना से नहीं कहता हूं, बल्कि मैं केरल के युवाओं के भविष्य की चिंता से कहता हूं.’

गांधी ने दोहराया कि उनकी पार्टी सभी प्रकार की सांप्रदायिकता से लड़ेगी, चाहे वह कहीं से आए, क्योंकि यह देश के लिए बुरा एवं खतरनाक है. उन्होंने कहा, ‘विभाजन एवं नफरत भारत को कमजोर करती है और हम कमजोर भारत को बर्दाश्त नहीं करेंगे.’

एक दिन के आराम के बाद राहुल गांधी ने त्रिशूर के पास पेरम्बरा से ‘भारत जोड़ो यात्रा’ फिर से शुरू की. यात्रा में उनके साथ कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए.

कांग्रेस की 3,570 किलोमीटर लंबी और 150 दिनों तक चलने वाली ‘भारत जोड़ो यात्रा’ सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और यह जम्मू-कश्मीर में संपन्न होगी.

‘भारत जोड़ो यात्रा’ 10 सितंबर की शाम को केरल पहुंची थी. एक अक्टूबर को कर्नाटक पहुंचने से पहले यह 19 दिनों में केरल के सात जिलों से गुजरते हुए 450 किलोमीटर की दूरी तय करेगी.

इस बीच राहुल ट्विटर पर भी मोदी सरकार को लेकर हमलावर दिखे। गांधी ने शनिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार किसानों, नौजवानों और महिलाओं के लिए नहीं है, बल्कि उन पांच-छह लोगों के लिए है जो अपनी मर्जी के मुताबिक किसी भी व्यवसाय में अपना एकाधिकार स्थापित कर रहे हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने कभी भी महंगाई और बेरोजगारी की वह स्थिति पैदा नहीं होने दी, जो आज है.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘प्रधानमंत्री अक्सर कहते हैं कि 70 साल में क्या हुआ? हमने (कांग्रेस) कभी भारत को अब तक की सर्वाधिक बेरोजगारी नहीं दी. हमनें कभी भी भारत के सामने रिकॉर्ड महंगाई की स्थिति पैदा नहीं की.’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘भाजपा सरकार किसानों, नौजवानों और महिलाओं के लिए नहीं है. यह पांच-छह उन भारतीयों (उद्योगपतियों) के लिए है जो अपनी मर्जी के मुताबिक किसी भी व्यवसाय में एकाधिकार जमा रहे हैं.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)