भारत

उत्तर प्रदेश: शादी समारोह में फायरिंग से युवक की मौत, भाजपा नेता गिरफ़्तार

घटना कानपुर शहर के ‘रॉयल गार्डन’ में आरोपी भाजपा नेता रामजी गुप्ता के भाई की शादी समारोह के दौरान हुई. पुलिस के अनुसार, गुप्ता ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से कथित तौर पर जश्न में गोली चलाई थी, जिससे बाउंसर सादिक़ क़ुरैशी की मौत हो गई.

(इलस्ट्रेशनः द वायर)

कानपुर: उत्तर प्रदेश में कानपुर के रेल बाजार इलाके में शादी समारोह के दौरान ‘हर्ष फायरिंग’ में एक युवक की मौत हो गई.

पुलिस ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक कार्यकर्ता को बंदूक से गोली चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. शादी भाजपा नेता के भाई की थी.

पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान मीरपुर कैंट निवासी 32 वर्षीय सादिक कुरैशी के रूप में हुई है, जो बाउंसर का काम करने के साथ ही जिम भी चलाते थे.

पुलिस उपायुक्त (पूर्व) शिवा जी ने कहा कि पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए भाजपा नेता रामजी गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया, जिसने अपनी लाइसेंसी डबल बैरल बंदूक से कथित तौर पर जश्न में गोली चलाई थी.

उन्होंने कहा, ‘हमने फॉरेंसिक जांच के लिए उस बंदूक को भी जब्त कर लिया है, जिसका इस्तेमाल जश्न में गोली चलाने के लिए किया गया था.’

शिवा जी ने गिरफ्तार व्यक्ति के सत्तारूढ़ भाजपा से संबद्धता की पुष्टि की. हालांकि, उन्होंने कहा कि गुप्ता एक कार्यकर्ता के रूप में भाजपा से जुड़ा है और वर्तमान में पार्टी में उसका कोई पद नहीं है.

पुलिस उपायुक्त ने घटना के बारे में बताया कि शादी समारोह के दौरान मेहमानों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मोहम्मद सादिक को कई अन्य लोगों के साथ काम पर रखा गया था.

उन्होंने बताया कि विवाह समारोह के दौरान रामजी गुप्ता ने कथित तौर पर अपनी बंदूक से गोली चलाई, जिसके परिणामस्वरूप सादिक के सिर, गर्दन और छाती पर छर्रों से चोटें आईं.

उन्होंने बताया कि सादिक के सिर और गर्दन से खून बहता देखने के बाद सहकर्मी बाउंसर उसे तुरंत लाला लाजपत राय (एलएलआर) अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, घटना कानपुर शहर के ‘रॉयल गार्डन’ में आरोपी भाजपा नेता के भाई रजत गुप्ता की शादी समारोह के दौरान हुई थी. पुलिस ने इस संबंध में सादिक के भाई साजिद कुरैशी की शिकायत पर आईपीसी की धारा 304 (गैर-इरादतन हत्या के लिए दंड) और 504 (शांति भंग करने के इरादे से जान-बूझकर अपमान) के तहत मामला दर्ज किया है.

कानपुर एडीसीपी (पूर्व) मनीष चंद्र सोनकर ने कहा, ‘यह पता चला कि रामजी गुप्ता ने शादी समारोह के लिए रॉयल गार्डन बुक किया था और वहां कुछ बाउंसर तैनात किए थे. जश्न के दौरान फायरिंग में एक बाउंसर को गोली लगी थी. रामजी गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया गया है.

भाजपा की कानपुर इकाई महानगर के अध्यक्ष सुनील बजाज ने कहा, रामजी गुप्ता वर्तमान में किसी पद पर नहीं हैं, लेकिन पूर्व में वे भाजयुमो की कानपुर इकाई के कोषाध्यक्ष थे.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)