महाराष्ट्र: सोशल मीडिया पर धार्मिक पोस्ट को लेकर अकोला में हुई हिंसा के दौरान एक व्यक्ति की मौत

पुलिस बताया कि अकोला में पुराने शहर के संवेदनशील इलाके में शनिवार रात हुई हिंसा के संबंध में 26 लोगों को हिरासत में लिया गया है. घटना में दो पुलिसकर्मियों समेत आठ लोगों के घायल होने की सूचना है. शहर के चार थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू किया गया है.

अकोला शहर में दो समुदायों के बीच हिंसा के दौरान कई वाहनों को जला दिया गया. (फोटो साभार: एएनआई वीडियोग्रैब)

पुलिस बताया कि अकोला में पुराने शहर के संवेदनशील इलाके में शनिवार रात हुई हिंसा के संबंध में 26 लोगों को हिरासत में लिया गया है. घटना में दो पुलिसकर्मियों समेत आठ लोगों के घायल होने की सूचना है. शहर के चार थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू किया गया है.

अकोला शहर में दो समुदायों के बीच हिंसा के दौरान कई वाहनों को जला दिया गया. (फोटो साभार: एएनआई वीडियोग्रैब)

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के अकोला शहर में एक सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर दो समुदायों के सदस्यों के बीच हुई झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई और दो पुलिसकर्मियों सहित आठ अन्य घायल हो गए. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि पुलिस ने पुराने शहर के संवेदनशील इलाके में शनिवार (13 मई) रात करीब 11:30 बजे हुई इस घटना के सिलसिले में 26 लोगों को हिरासत में लिया है.

एनडीटीवी में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, जिला मजिस्ट्रेट नीमा अरोड़ा ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर के चार पुलिस थाना क्षेत्रों में आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू करने का आदेश दिया, जो लोगों के गैरकानूनी जमावड़े पर रोक लगाती है.

पुलिस अधीक्षक (एसपी) संदीप घुगे ने कहा कि हिंसा एक धार्मिक पोस्ट के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल होने के बाद हुई.

दोनों गुटों के सदस्यों ने एक-दूसरे पर पथराव किया. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) मोनिका राउत ने कहा कि इस घटना में कुछ वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं.

एसपी ने कहा, ‘हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए. घायलों में दो पुलिसकर्मी भी शामिल हैं, जो दंगाइयों की ओर से किए गए पथराव में घायल हो गए.’

एएसपी राउत ने कहा कि पुलिस ने दंगाइयों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया और स्थिति अब नियंत्रण में है.

एसपी घुगे ने कहा कि पुलिस ने दो मामले दर्ज किए हैं और घटना के सिलसिले में 26 लोगों को हिरासत में लिया है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शनिवार को अकोला में हुई हिंसा की घटना के बाद कलेक्टर नीमा अरोड़ा और एसपी संदीप घुगे ने शांति समिति की बैठक की. बैठक में सभी धर्मों और समुदायों के प्रतिनिधियों, राजनीतिक दलों के नेताओं ने भाग लिया.

स्थानीय प्रशासन के अनुसार, राज्य के उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, जो अकोला जिले के संरक्षक मंत्री भी हैं, स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

एएसपी राउत ने कहा कि घटना के बाद शहर में भारी सुरक्षा तैनात की गई है. उन्होंने कहा कि अमरावती से राज्य रिजर्व पुलिस के एक हजार कर्मचारियों को अकोला शहर में तैनात किया गया है.

पुलिस ने नागरिकों से न घबराने और किसी भी अफवाह पर विश्वास न करने की अपील की है.

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq