पहलवानों का हिरासत में मुस्कुराता फोटो फ़र्ज़ी, फैलाने वालों पर कार्रवाई करेंगे: बजरंग पुनिया

रविवार को दिल्ली पुलिस द्वारा हिरासत में ली गई विनेश और संगीता फोगाट का बस के अंदर मुस्कुराता हुआ एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर उनके विरोध प्रदर्शन पर सवाल उठाए जा रहे थे. प्रदर्शनकारी पहलवान बजरंग पुनिया ने मूल फोटो पोस्ट करते हुए बताया कि वायरल हुई तस्वीर फ़र्ज़ी है.

बजरंग पुनिया द्वारा 'फेक' बताकर साझा की गई तस्वीर. (फोटो साभार: twitter/BajrangPunia)

रविवार को दिल्ली पुलिस द्वारा हिरासत में ली गई विनेश और संगीता फोगाट का बस के अंदर मुस्कुराता हुआ एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर उनके विरोध प्रदर्शन पर सवाल उठाए जा रहे थे. प्रदर्शनकारी पहलवान बजरंग पुनिया ने मूल फोटो पोस्ट करते हुए बताया कि वायरल हुई तस्वीर फ़र्ज़ी है.

बजरंग पुनिया द्वारा ‘फेक’ बताकर साझा की गई तस्वीर. (फोटो साभार: twitter/BajrangPunia)

नई दिल्ली: ओलंपिक पदक विजेता भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया ने रविवार को साथी प्रदर्शनकारी पहलवानों- विनेश फोगाट और संगीता फोगाट की एक एडिट की हुई तस्वीर पोस्ट किए जाने के खिलाफ चेतावनी दी है. इस तस्वीर में पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद दोनों को कथित तौर पर मुस्कुराते हुए दिखाया गया था.

झूठी तस्वीर फैलाने के लिए ‘आईटी सेल’ पर निशाना साधते हुए पुनिया ने तस्वीर पोस्ट करने वालों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने की धमकी दी.

बता दें कि भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर महिला पहलवानों का यौन शोषण करने के आरोप लगाकर महीने भर से अधिक समय से दिल्ली के जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे पहलवान रविवार को सिंह की गिरफ्तारी की मांग लेकर नए संसद भवन की ओर मार्च करने का प्रयास कर रहे थे, जहां ‘महिला सम्मान महापंचायत‘ की जानी थी. इस दौरान उन्हें और उनके समर्थकों को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया था.

पुलिस कर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को घसीटा और अज्ञात स्थानों पर ले जाने के लिए उन्हें बसों में धकेल दिया. केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत काम करने वाली दिल्ली पुलिस की आलोचना के बीच एक बस के अंदर फोगाट बहनों की मुस्कुराती हुई तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी, जिसको लेकर यूजर्स (उपयोगकर्ता) ने यह हवाला दिया कि पहलवान अपने विरोध प्रदर्शन को लेकर गंभीर नहीं हैं.

इसके बाद बजरंग पुनिया ने ट्विटर पर दो फोटो पोस्ट किए, जिसमें एक वही वायरल (संपादित) फोटो शामिल थी और दूसरा असली फोटो था. वास्तविक फोटो में फोगाट बहनों और हिरासत में लिए गए अन्य लोगों के चेहरों पर गंभीर भाव थे, जबकि छेड़छाड़ किए गए दूसरे फोटो में वे मुस्कुरा रहे थे.

पुनिया ने ट्वीट में लिखा, ‘आईटी सेल वाले ये झूठी तस्वीर फैला रहे हैं. हम ये साफ़ कर देते हैं कि जो भी ये फ़र्ज़ी तस्वीर पोस्ट करेगा उसके ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज की जाएगी.’

इस बीच, तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले ने झूठी तस्वीर शेयर करने के मामले में कोलकाता पुलिस के समक्ष सोमवार को शिकायत दर्ज कराई है.

शिकायत की प्रति ट्विटर पर साझा करते हुए उन्होंने लिखा है, ‘प्रदर्शनकारी पहलवान विनेश फोगाट और संगीता फोगाट की झूठी तस्वीर, जिसमें उन्हें दिल्ली पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद झूठा मुस्कुराते हुए दिखाया गया है, के खिलाफ आधिकारिक शिकायत दर्ज कराई गई है.’

उन्होंने आगे लिखा, ‘न्याय की मांग कर रहे हमारे पहलवानों को बदनाम करने की ये कोशिशें खतरनाक हैं और उन पर कार्रवाई होनी चाहिए.’

शिकायत में पत्रकार अभिजीत मजूमदार, कथित मीडिया संस्थान क्रिएटली (Kreately.in) और फिल्म निर्माता अशोक पंडित का खास तौर पर जिक्र किया गया है, जिन्होंने झूठी फोटो सोशल मीडिया पर फैलाई.

शिकायत में कहा गया है कि यदि इसकी समय पर जांच नहीं की जाती है और कार्रवाई नहीं की जाती है तो यह सार्वजनिक शांति के लिए खतरा हो सकता है जिससे कानून-व्यवस्था की समस्या खड़ी हो सकती है और समुदाय के बीच द्वेष पैदा हो सकता है.

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50