भाजपा आईटी सेल संसद सुरक्षा उल्लंघन मामले से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है: कांग्रेस

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि भाजपा आईटी सेल दो तथ्यों से ध्यान भटकाना चाहती है. पहला, संसद की सुरक्षा में बहुत गंभीर उल्लंघन हुआ था. दूसरा, लोकसभा में ख़तरनाक ढंग से घुसपैठ करने वालों को मैसूरु से भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा ने संसद में प्रवेश की इजाज़त दी थी.

कांग्रेस नेता जयराम रमेश. (फोटो साभार: एएनआई)

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि भाजपा आईटी सेल दो तथ्यों से ध्यान भटकाना चाहती है. पहला, संसद की सुरक्षा में बहुत गंभीर उल्लंघन हुआ था. दूसरा, लोकसभा में ख़तरनाक ढंग से घुसपैठ करने वालों को मैसूरु से भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा ने संसद में प्रवेश की इजाज़त दी थी.

कांग्रेस नेता जयराम रमेश. (फोटो साभार: एएनआई)

नई दिल्ली: कांग्रेस ने बीते गुरुवार (14 दिसंबर) को भाजपा के आईटी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय पर संसद सुरक्षा उल्लंघन से ध्यान हटाने की कोशिश करने का आरोप लगाया. पार्टी ने कहा कि घुसपैठियों को भाजपा सांसद (प्रताप सिम्हा) द्वारा सदन में प्रवेश दिया गया था.

द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने यह बात मालवीय द्वारा तस्वीरें साझा करने के बाद कही, जिसमें बुधवार (13 दिसंबर) की घटना के सिलसिले में गिरफ्तार की गई एक महिला कथित तौर पर कांग्रेस के लिए प्रचार करती नजर आ रही है.

सोशल साइट एक्स पर एक पोस्ट में जयराम रमेश ने कहा, ‘भाजपा आईटी सेल दो तथ्यों से ध्यान भटकाना चाहती है: 1. संसद की सुरक्षा में बहुत गंभीर उल्लंघन हुआ था. 2. लोकसभा में खतरनाक ढंग से घुसपैठ करने वालों को मैसूर से बीजेपी सांसद प्रताप सिम्हा ने संसद में प्रवेश की इजाजत दी थी.’

बीते 13 दिसंबर को तस्वीरें साझा करते हुए भाजपा नेता मालवीय ने पहले कहा था, ‘शासन परिवर्तन एक मुहावरा है, जिसका इस्तेमाल कांग्रेस नेता अक्सर करते हैं.’

उन्होंने कहा था, ‘आज संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने वाली महिला नीलम आजाद से मिलें. वह एक सक्रिय कांग्रेस/आईएनडीआई गठबंधन समर्थक हैं. वह एक आंदोलनजीवी हैं, जिन्हें कई विरोध प्रदर्शनों में देखा गया है.’

भाजपा नेता ने कहा था, ‘सवाल यह है कि उन्हें किसने भेजा? उन्होंने भाजपा सांसद से संसद पास प्राप्त करने के लिए मैसूर से किसी को क्यों चुना. याद रखें कि विपक्ष कुछ भी नहीं करेगा, हमारे लोकतंत्र की सर्वोच्च संस्था संसद को अपमानित करने से भी नहीं.’

संसद सुरक्षा उल्लंघन घटना के एक अन्य आरोपी मनोरंजन के पिता के एक वीडियो को टैग करते हुए एक अलग पोस्ट में मालवीय ने कहा था, ‘क्या मनोरंजन कांग्रेस और/या एसएफआई प्रायोजित आंदोलनों में सक्रिय थे? क्या वह राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए थे?’

उन्होंने कहा था, ‘इस पर अंतिम शब्द अभी तक नहीं आया है, लेकिन एक बात स्पष्ट है, विपक्ष ने 13 दिसंबर को एक उद्देश्य के साथ संसद को अपवित्र किया.’

मालूम हो कि बीते 13 दिसंबर को संसद की सुरक्षा में तब गंभीर चूक देखी गई, जब दो व्यक्ति दर्शक दीर्घा से लोकसभा हॉल में कूद गए और धुएं के कनस्तर (Gas Canisters) खोल दिए थे, जिससे सदन की कार्यवाही बाधित हो गई. मनोरंजन डी. और सागर शर्मा नामक व्यक्तियों ने सत्तारूढ़ भाजपा के मैसुरु सांसद प्रताप सिम्हा से अपना विजिटर्स पास प्राप्त किया था.

इन दोनों आरोपियों के अलावा संसद परिसर में रंगीन धुएं का कनस्टर खोलने और नारेबाजी करने की आरोपी नीलम आजाद और अमोल शिंदे को गिरफ्तार किया गया है.

इस मामले में विशाल शर्मा उर्फ विक्की नामक 5वां आरोपी बाद में गुड़गांव स्थित आवास आवास से पकड़ा गया, वहीं ललित झा नामक एक अन्य आरोपी अभी फरार है. आरोप है कि ललित ही कथित तौर पर चारों आरोपियों को गुड़गांव में अपने दोस्त विक्की के घर ले गया था.

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq