गुजरात: अहमदाबाद में बच्चा चुराने के शक में 4 महिलाओं को पीटा, एक की मौत

सूरत में भी बच्चा चोरी के आरोप में 43 साल की उम्र में मां बनी महिला को अपनी ही बेटी का चोर बताकर पीट दिया गया.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

सूरत में भी बच्चा चोरी के आरोप में 43 साल की उम्र में मां बनी महिला को अपनी ही बेटी का चोर बताकर पीट दिया गया.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)
(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

अहमदाबाद/सूरत: गुजरात के दो शहरों में अफवाह के चलते पीट-पीट कर मारने के मामले सामने आए हैं. पहला मामला अहमदाबाद का है. जहां बच्चा चुराने के शक में एक भीड़ ने 40 वर्षीय महिला की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

वहीं, दूसरा मामला सूरत का है. जहां बच्चा चोरी के आरोप में 43 साल की उम्र में मां बनी महिला को अपनी ही बेटी का चोर बताकर भीड़ द्वारा पीट दिया गया.

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, अहमदाबाद में हुई घटना को लेकर वाडज पुलिस थाने के निरीक्षक जेए रथवा ने बताया कि जूना वडाज सर्कल में 30 लोगों की एक भीड़ ने ऑटो में जा रही चार महिलाओं पर हमला कर दिया.

उन्होंने बताया, ‘हमने 30 अज्ञात लोगों के खिलाफ शांति भंग करने और हत्या का मामला दर्ज किया है. भीड़ द्वारा पीटे जाने के कारण शांती मारवाड़ी (40) को गंभीर चोटें आईं थीं और अस्पताल में भर्ती कराने के तुरंत बाद उसकी मौत हो गई.’

वहीं समाचार पत्र दैनिक भास्कर के मुताबिक, पश्चिमी अहमदाबाद के वाडज क्षेत्र में 1500 से 2000 लोगों की गुस्साई भीड़ ने बच्चा चोर गैंग समझकर चार महिलाओं को घेरकर पीटना शुरू कर दिया. पुलिस महिलाओं को बचाकर हॉस्पिटल में एडमिट कराई लेकिन पिटाई से गंभीर एक महिला ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

अखबार के मुताबिक, वाडज थाने के पुलिसकर्मी राजेन्द्र सिंह ने बताया कि मौके पर भीड़ ने ऑटो को उल्टा कर दिया था. इसमें सवार चार महिलाओं को लोग पीट रहे थे. हमने इन महिलाओं को भीड़ से बचाकर एंबुलेंस से हॉस्पिटल भिजवाया. पुलिस समय पर नहीं पहुंचती तो भीड़ चारों महिलाओं को शायद मार डालती. बताया जा रहा है महिलाएं राजस्थान के पाली जिले की हैं.

सूरत में अपनी ही बेटी का चोर बताकर पीटा

दैनिक भास्कर के मुताबिक सूरत के वराछा में भी बच्चा चोर गिरोह की अफवाह में एक महिला के साथ भीड़ ने मारपीट की. शादी के 23 साल बाद 43 की उम्र में मां बनीं महिला अपनी डेढ़ साल की बच्ची के साथ जा रही थी. उन्हें भीड़ ने घेर लिया और कहा कि बच्ची से चेहरा नहीं मिल रहा, यह तुम्हारी बेटी नहीं है.

एक महिला बच्ची को छीनते हुए अपनी बेटी बताने का नाटक भी करने लगी.इससे भीड़ और भड़क गई. पुलिस मां-बेटी को थाने ले गई. फिर परिजन थाने पहुंचे, सच्चाई बताई तो दोनों को छोड़ दिया.

देश के कई राज्यों में फैली अफवाह

गौरतलब है कि गुजरात समेत देश के कई राज्यों में बच्चा चोर गैंग के सक्रिय होने की सोशल मीडिया पर अफवाह फैली हुई है.21 जून को जामनगर में ऐसी ही अफवाह के चलते तीन लोगों को भीड़ ने जमकर पीटा था. इसके अलावा साबरकांठा में भी एक दिव्यांग लड़के को बच्चा चोर समझ कर लोगों ने इतना पीटा कि वो अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच अपनी सांसें गिन रहा है.

गुजरात की तरह झारखंड के अलग-अलग हिस्सों में बीते कई सप्ताह से बच्चा चोर की अफवाह जोर पकड़ चुकी है. यह अफवाह खास कर जमशेदपुर-सरायकेला और धनबाद-बोकारो में फैली है.इसी अफवाह के कारण पिछले महीने तक राज्य में 18 लोगों की भीड़ ने हत्या कर दी.

इसी तरह हाल ही में पश्चिम बंगाल में बच्चा चोर होने के संदेह में मालदा जिले में व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इसके अलावा पिछले महीने असम के कार्बी आंगलांग जिले में बच्चा चुराने के शक में संगीतकार और उसके दोस्त की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq