उत्तर प्रदेश अपराध

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

उन्नाव मामलाः पीड़िता ने कहा- यौन उत्पीड़न का प्रयास नहीं, ज़हर दिया गया

बीते हफ्ते उन्नाव ज़िले के बबुरहा गांव में तीन लड़कियां अचेत अवस्था में मिली थीं, जिनमें से दो की मौत हो गई और एक अस्पताल में है. पुलिस के अनुसार मामले में गिरफ़्तार एक युवक ने स्वीकारा है कि उसने उपचाराधीन युवती के फोन नंबर देने से मना करने पर नाराज़ होकर पानी में कीटनाशक मिलाया, जिसे तीनों ने पिया था.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

उन्नाव मामला: आठ ट्विटर खातों के ख़िलाफ़ एफ़आईआर होने के बाद पत्रकार ने इसे उत्पीड़न बताया

बीते 17 फरवरी को उन्नाव ज़िले के बबुरहा गांव में दलित समुदाय की तीन लड़कियां बेसुध अवस्था में मिली थीं, जिनमें से दो की मौत हो चुकी है, जबकि एक का इलाज चल रहा है. इससे पहले ट्विटर पर भ्रामक और अफ़वाह फैलाने वाली पोस्‍ट करने के आरोप में पूर्व सांसद एवं कांग्रेस नेता उदित राज के ख़िलाफ़ भी एफ़आईआर दर्ज की थी.

पोस्टमार्टम के दौरान अस्पताल के बाहर तैनात सुरक्षाकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

उन्नाव हत्या: पुलिस ने कहा- युवती के नंबर देने से इनकार पर नाराज़ युवक ने दिया कीटनाशक

उन्नाव के बबुरहा गांव की दलित युवतियों को ज़हर देने के मामले को सुलझाने का दावा करते हुए पुलिस का कहना है कि आरोपी युवक उपचाराधीन 17 साल की युवती को पसंद करता था और युवती के फोन नंबर देने से मना करने से पर उसने नाराज़ होकर पानी में कीटनाशक मिला दिया, जिसे तीनों लड़कियों ने पी लिया.

पोस्टमार्टम के दौरान अस्पताल के बाहर तैनात सुरक्षाकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

उन्नाव: मृत लड़कियों के शरीर पर नहीं मिले चोट के निशान, हत्या का मामला दर्ज

उन्नाव ज़िले के बबुरहा गांव में दो किशोरियों की संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस का कहना है कि मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है और न ही उनके शरीर पर चोट का कोई निशान मिला है. हालांकि मृतकाओं के शरीर में ज़हरीला पदार्थ मिलने की पुष्टि हुई है. राज्य मानवाधिकार आयोग ने इस बारे में रिपोर्ट तलब की है.

Jammu: Youngsters hold placards to create awareness on gender equality, ahead of the International Day of the Girl Child on Oct.11, in Jammu district, Saturday, Oct. 10, 2020. (PTI Photo)(PTI10-10-2020 000024B)

यूपी: संदिग्ध अवस्था में खेत में अचेत मिली तीन युवतियों में से दो की मौत, एक की हालत गंभीर

घटना उन्नाव ज़िले के बबुरहा गांव की है, जहां चारा लेने गई एक परिवार की तीन युवतियों के घर न लौटने पर परिवार ने खोजबीन के दौरान उन्हें एक खेत में अचेत पाया. उनके हाथ भी बंधे थे. पुलिस का कहना है कि प्रथमदृष्टया मामला ज़हर खाने का लग रहा है. जांच के लिए छह टीमें बनाई गई हैं.

Badaun

बदायूं गैंगरेप: मामला दर्ज करने में लापरवाही बरतने पर दो पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

बदायूं ज़िले में तीन जनवरी की शाम मंदिर में पूजा करने गईं पचास साल की महिला के कथित सामूहिक बलात्कार और मौत के मामले में इससे पहले कर्तव्यों का निर्वहन न करने के लिए संबंधित पुलिस स्टेशन के एसएचओ और पोस्ट प्रभारी को निलंबित किया गया था.

राष्ट्रीय महिला आयोग सदस्य चंद्रमुखी देवी (फोटो: एनसीडब्ल्यू वेबसाइट)

बदायूं गैंगरेप: महिला आयोग सदस्य ने कहा- शाम को ​महिला अकेले नहीं गई होती तो शायद घटना नहीं होती

राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी ने बयान पर विवाद होने के बाद माफी मांग ली है. उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में बीते तीन जनवरी की शाम मंदिर गईं एक 50 व​र्षीय महिला के साथ सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया था. अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

उत्तर प्रदेशः बदायूं सामूहिक बलात्कार मामले का मुख्य आरोपी महंत गिरफ़्तार

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में तीन जनवरी की शाम को मंदिर में पूजा करने गईं पचास साल की महिला के साथ मंदिर के महंत सहित तीन लोगों ने कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया और घायल अवस्था में महिला को उसके घर के सामने फेंककर फ़रार हो गए थे. इलाज के दौरान अस्पताल में महिला की मौत हो गई थी.

(प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई)

उत्तर प्रदेश: बदायूं में महिला की सामूहिक बलात्कार के बाद मौत, लापरवाही पर थानाध्यक्ष निलंबित

उत्तर प्रदेश के बदायूं ज़िले की घटना. आरोप है कि तीन जनवरी की शाम महिला मंदिर में पूजा करने गई थी, जहां उसका सामूहिक बलात्कार किया गया. कांग्रेस ने इस घटना की तुलना निर्भया मामले से करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की निंदा की है.

उत्तर प्रदेश के दिगंबर जैन कॉलेज में जैन प्रतिमा के पास इकट्ठा एबीवीपी कार्यकर्ता. (वीडियो स्क्रीनग्रैब: @djohninc)

उत्तर प्रदेश: जैन प्रतिमा क्षतिग्रस्त करने वाले एबीवीपी के चार कार्यकर्ताओं की सदस्यता रद्द

बीते 22 दिसंबर को बड़ौत के दिगंबर जैन कॉलेज में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के चार सदस्यों ने श्रुतदेवी की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया था, जिसके बाद संगठन ने माफ़ी मांगी थी. इन चारों के ख़िलाफ़ दंगा करने सहित आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

विजय मिश्रा. (फोटो साभार: फेसबुक)

उत्तर प्रदेश: निषाद पार्टी के विधायक सहित तीन के ख़िलाफ़ गायिका के साथ बलात्कार का मामला दर्ज

उत्तर प्रदेश की भदोही पुलिस ने बताया कि वाराणसी निवासी गायिका ने आरोप लगाया है कि निषाद पार्टी के विधायक विजय मिश्रा ने साल 2014 में उन्हें अपने यहां एक कार्यक्रम में बुलाया था और उनके साथ बलात्कार किया था. साथ ही घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी.

बांसगांव के ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते. (फोटो: Special Arrangement)

‘दलितों पर दबदबा क़ायम करने के लिए सत्यमेव जयते को मार दिया गया’

बीते 14 अगस्त को आज़मगढ़ ज़िले के तरवां थाना क्षेत्र के बांसगांव के ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते की गोली मारकर हत्या कर दी गई. अनुसूचित जाति से आने वाले प्रधान के परिजनों का आरोप है कि गांव के कथित ऊंची जाति के लोगों ने ऐसा यह संदेश देने के लिए किया कि आगे कोई दलित निर्भीकता से खड़ा न हो सके.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

उत्तर प्रदेश: ग्राम प्रधान की हत्या के बाद विरोध के दौरान मची भगदड़ में बच्चे की मौत

मामला आज़मगढ़ ज़िले के तरवां थाना क्षेत्र के बासगांव का है. घटना के बाद तरवां इंस्पेक्टर और स्थानीय चौकी प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. मुख्यमंत्री ने अपराधियों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही कर उनकी संपत्ति ज़ब्त करते हुए एनएसए लगाने का निर्देश दिया है.

Agra Map

यूपी: सवर्ण समुदाय के लोगों की आपत्ति के बाद रोका गया दलित महिला का अंतिम संस्कार

मामला आगरा के काकरपुर गांव का है. नट समुदाय की एक महिला की 19 जुलाई को मौत हो गई थी. उनके दाह संस्कार के समय गांव के सवर्णों ने श्मशान भूमि को किसी और द्वारा प्रयोग न करने देने की बात कहते हुए इसे रोक दिया और महिला के परिवार को चार किलोमीटर दूर दलितों के लिए बनी जगह पर शव जलाने को कहा.

योगी आदित्यनाथ. (फोटो साभार: फेसबुक/@MYogiAdityanath)

यूपी: गोरखपुर में अपहरण के बाद बच्चे की हत्या, विपक्ष ने कहा- बढ़ता जा रहा है जंगलराज

मामला गोरखपुर ज़िले के पिपराइच इलाके का है, जहां अपहरण किए गए एक छठी कक्षा के छात्र का शव नाले में मिला. प्रदेश में बढ़ते अपराधों का हवाला देते हुए विपक्ष ने क़ानून और व्यवस्था की स्थिति को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा है.