Britain Politics

ईसाई बहुल श्वेत ब्रिटेन का नेता एक अश्वेत, ग़ैर-ईसाई और ग़ैर-ब्रिटिश मूल कैसे हो सकता है

किसी देश की आबादी का विविधतापूर्ण होना काफ़ी नहीं है. उसकी सभ्यता की पहचान यह है कि उसके प्रतिनिधियों में भी समानुपातिक रूप से वह विविधता है या नहीं. कोई देश सिर्फ़ दूसरी आबादियों को मताधिकार देता है या उन आबादियों को देश के नेतृत्व का अधिकार देने की क्षमता और साहस भी रखता है? इससे इस देश के आत्मविश्वास का पता चलता है.