दुनिया

कोरोना वायरस: लगातार तीसरे दिन रिकॉर्ड 14,516 नए मामले दर्ज़, कुल मामले चार लाख के क़रीब

भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 13 हज़ार के क़रीब पहुंची. विश्व में अब तक 4.60 लाख लोग जान गंवा चुके हैं. ब्राज़ील में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख के पार हुई. चीन ने संक्रमण के नए मामलों में पाए जाने वाले वायरस की जीनोम श्रृंखला विश्व स्वास्थ्य संगठन को सौंपी.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली/साओ पाउलो/बीजिंग: भारत में शनिवार को कोरोना वायरस यानी कोविड-19 के लगातार तीसरे दिन रिकॉर्ड नए मामले सामने आए हैं. बीते 24 घंटे में कुल 14,516 नए मामले दर्ज किए गए, जो अब तक का सर्वाधिक है.

इन आंकड़ों के साथ देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3,95,048 हो गई है और बीते एक दिन में मौत के 375 नए मामले सामने आने के बाद अब तक 12,948 लोग इस संक्रमण से जान गंवा चुके हैं.

एक दिन या 24 घंटे में संक्रमण नए मामलों की बात करें तो बीते 19 जून को इनकी संख्या 13,586 थी. बीते 18 जून को बीते 24 घंटे के दौरान 12,881 मामले दर्ज किए गए थे, 17 जून को 10,974, 16 जून को 10,667, 15 जून को 11,503 और 14 जून को बीते 24 घंटे में 11,929 नए मामले सामने आए थे.

13 जून को 24 घंटे के दौरान रिकॉर्ड 11,458 मामले सामने आए थे. इस दिन पहली बार नए मामलों की संख्या ने 11 हजार का आंकड़ा पार किया था. 12 जून को पहली बार 10 हजार को आंकड़ा पार करते हुए इनकी संख्या 10,956 दर्ज की गई थी. इस तरह से बीते नौ दिनों में नए मामलों की संख्या 10 हजार से 13 हजार के पार हो गए.

इससे पहले चार जून से 11 जून तक इनकी संख्या लगातार आठ दिन नौ हजार से अधिक रही थी.

अब एक दिन या 24 घंटे में कोरोना वायरस से मरने वालों की बात करें तो 19 जून को 336 लोगों की जान गई थी. 18 जून को यह आंकड़ा 334 लोगों का था.

17 जून को यह आंकड़ा 2,003 था. हालांकि इसमें अचानक हुई वृद्धि महाराष्ट्र और दिल्ली द्वारा अपने यहां मौत के आंकड़ों में संशोधन किए जाने की वजह से हुई. महाराष्ट्र ने अपने यहां मौत के आंकड़ों में 1,300 से अधिक और दिल्ली ने 400 से अधिक मौतों को शामिल किया था, जो जून और उससे पहले के महीनों में मारे गए थे. इस तरह से 17 जून को भी 300 से अधिक लोगों की मौत दर्ज हुई.

इसी तरह 16 जून को 24 घंटे में 380 लोगों की मौत, 15 जून को 325, 14 जून को 311, 13 जून को दौरान 386 और 11 जून को 357 लोगों की मौत दर्ज की गई थी. 11 जून को मरने वालों की संख्या पहली बार 300 के आंकड़े को पार कर गई थी. इस तरह से यह लगातार 10वां दिन है, जब बीते 24 घंटे के दौरान मरने वालों की संख्या 300 से अधिक रही है.

बहरहाल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार, स्वस्थ हो रहे रोगियों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है और अब तक 213,830 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं, वहीं 168,269 मरीजों का अब भी इलाज चल रहा है.

एक रोगी देश छोड़कर जा चुका है. संक्रमण के कुल मामलों में विदेशी भी शामिल हैं. एक अधिकारी ने कहा, ‘इस तरह अब तक करीब 54.12 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.’

गत एक जून से 20 जून के बीच देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के दो लाख से अधिक मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात और उत्तर प्रदेश में कोविड-19 के मामलों में सबसे अधिक इजाफा देखा गया है.

कोविड-19 के कारण शुक्रवार सुबह तक 375 लोगों की मौत हुई है, इनमें से 142 की मौत महाराष्ट्र में, 66 की दिल्ली में, 41 की तमिलनाडु में, 27 की गुजरात में हुई है.

23 लोगों की मौत उत्तर प्रदेश में, 11 की पश्चिम बंगाल में, 10-10 की राजस्थान, कर्नाटक और हरियाणा में, नौ-नौ लोगों की मध्य प्रदेश और पंजाब में, छह की बिहार में, चार-चार की आंध्र प्रदेश और जम्मू कश्मीर में तथा तीन लोगों की मौत तेलंगाना में हुई.

अमेरिका, ब्राजील और रूस के बाद भारत वैश्विक महामारी कोविड-19 से प्रभावित चौथा देश है.

अमेरिका के जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के मामले में बुरी तरह प्रभावित देशों में भारत आठवें स्थान पर है.

कोविड-19 के कारण देश में अब तक 12,948 लोगों की मौत हुई है, जिनमें सर्वाधिक 5,893 लोगों की मौत महाराष्ट्र में, 2,035 लोगों की मौत दिल्ली में, 1,618 की मौत गुजरात में हुई है.

इसके अलावा 666 लोगों की मौत तमिलनाडु में, 529 की पश्चिम बंगाल में, 495 संक्रमितों की मौत मध्य प्रदेश में, 488 मरीजों की मौत उत्तर प्रदेश में, 333 की मौत राजस्थान में तथा 198 संक्रमितों की मौत तेलंगाना में हुई.

कोविड-19 के कारण हरियाणा में 144 लोगों की मौत हुई, कर्नाटक में 124 लोगों की मौत हुई, आंध्र प्रदेश में 96 की मौत, पंजाब में 92 की मौत, जम्मू कश्मीर में 75 की मौत, बिहार में 50 की मौत, उत्तराखंड में 26 की मौत, केरल में 21 की तथा ओडिशा में 11 लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 11 लोगों की मौत, छत्तीसगढ़ 10 की मौत, असम में 9 लोगों की, हिमाचल प्रदेश में 8 की, पुदुचेरी में 7 की, चंडीगढ़ में 6 की तथा मेघालय, त्रिपुरा और लद्दाख में एक-एक मरीज की मौत हुई है.

मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण के कारण मौत के 70 फीसदी से अधिक मामलों में मरीज अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त थे.

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस संक्रमण के सर्वाधिक 124,331 मामले महाराष्ट्र में हैं. इसके बाद तमिलनाडु में 54,449 मामले, दिल्ली में 53,116 मामले, गुजरात में 26,141 मामले, उत्तर प्रदेश में 15,785 मामले, राजस्थान में 14,156 मामले तथा पश्चिम बंगाल में 13,090 मामले हैं.

संक्रमण के 11,582 मामले मध्य प्रदेश में, 9,743 मामले हरियाणा में, 8,281 मामले कर्नाटक में, 7,961 मामले आंध्र प्रदेश में तथा 7,181 मामले बिहार में हैं.

कोविड-19 के 6,526 मामले तेलंगाना में, 5,680 मामले जम्मू कश्मीर में, 4,904 मामले असम में तथा 4,677 मामले ओडिशा में हैं, 3,832 मामले पंजाब में तथा 2,912 मामले केरल में हैं.

उत्तराखंड में 2,177 मामले, 2,028 मामले छत्तीसगढ़ में, संक्रमण के 1,965 मामले झारखंड में, 1,178 मामले त्रिपुरा में, 725 मामले गोवा में, 744 मामले लद्दाख में, 681 मामले मणिपुर में तथा 619 मामले हिमाचल प्रदेश में हैं.

चंडीगढ़ में कोविड-19 के 381 मामले, पुदुचेरी में 286 मामले, नगालैंड में 198 मामले, मिजोरम में 130 मामले, अरुणाचल प्रदेश में 103 मामले तथा सिक्किम में 70 मामले हैं.

दादरा नगर हवेली तथा दमन दीव में कोविड-19 के 62-62 मामले हैं. अंडमान-निकोबार में संक्रमण के 45 मामले और मेघालय में 44 मामले हैं.

पूरी दुनिया में अब तक 4.60 लाख से अधिक लोगों की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में यह महामारी 460,366 लोगों की जान ले चुकी है और संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 8,681,357 हो गए हैं. अमेरिका संक्रमण के 2,222,576 मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां मरने वालों की संख्या 119,131 हो चुकी है.

अमेरिका के बाद संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरे देश ब्राजील में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख के पार हो गई है. यहां संक्रमण के 1,032,913 मामले सामने आए हैं. ब्राजील में संक्रमण के कारण 48,954 लोगों की मौत हो चुकी है.

अमेरिका के जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय का कहना है कि ब्राजील हर दिन प्रति 1,00,000 लोगों पर औसतन महज 14 जांच ही करवा पा रहा है जो विशेषज्ञों के मुताबिक जरूरत से 20 गुना कम है.

रूस में संक्रमण के कुल मामले 576,162 हो गए हैं और यहां अब तक 7,992 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद संक्रमण के मामलों में भारत का नंबर आता है.

ब्रिटेन में संक्रमण 303,285 मामले सामने आए हैं. इस देश में मौत का आंकड़ा 42,546 है.

ब्रिटेन के बाद स्पेन में संक्रमण के 245,575 मामले दर्ज हो चुके हैं और यहां अब तक 28,315 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके बाद इटली में संक्रमण के कुल 238,011 मामले आए हैं और 34,561 लोगों की मौत हुई है.

चीन में 34 नए मामले, डब्ल्यूएचओ को सौंपी गई वायरस की जीनोम श्रृंखला

चीन में कोरोना वायरस के 34 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें से 22 मामले बीजिंग से हैं. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य अधिकारियों ने कोविड-19 संक्रमण के नए मामलों में पाए जाने वाले वायरस की जीनोम श्रृंखला विश्व स्वास्थ्य संगठन को सौंप दी है.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि देश में 34 नए मामले सामने आए हैं जिनमें से सात लोगों में संक्रमण के लक्षण नहीं हैं. बीजिंग में 22 मामले स्थानीय स्तर पर संक्रमित होने के हैं और ऐसा एक मामला हेबेई प्रांत से सामने आया है.

आयोग ने कहा कि बिना लक्षण वाले 108 लोगों में से 57 विदेश से आए मरीज हैं. उन्हें चिकित्सा निगरानी में रखा गया है.

बीजिंग में शुक्रवार को कोविड-19 के 22 मामले स्थानीय स्तर पर संक्रमित होने के सामने आए तथा दो मामले बिना लक्षण वाले मरीजों के है.

नगरीय स्वास्थ्य आयोग ने यह जानकारी दी.

शुक्रवार के अंत तक बीजिंग में घरेलू स्तर पर संक्रमण के 625 मामले आए. इनमें से 411 को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई तथा नौ लोगों की मौत हो गई. बिना लक्षण वाले 17 मरीजों को अब भी चिकित्सा निगरानी में रखा गया है.

आयोग ने बताया कि चीन में अब तक संक्रमण के कुल 83,352 मामले सामने हैं तथा मृतकों की संख्या 4,634 है.

चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र ने बीजिंग के शिन्फादी थोक बाजार में संक्रमण के नए मामलों से प्राप्त वायरस की जिनोम श्रृंखला जारी की है. इसे डब्ल्यूएचओ को भी भेज दिया गया है.

चीन के विषाणु विज्ञानियों का आरोप है कि बीजिंग में वायरस का नया प्रकार यूरोप से आया है.

‘ग्लोबल टाइम्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक महामारी संबंधी शुरुआती सर्वेक्षण में पता चला है कि शिन्फादी थोक बाजार में कोरोना वायरस के जिस प्रकार का पता चला है उसकी उत्पत्ति यूरोप में हुई है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)