दुनिया

कोरोना संक्रमण: पहली बार नए मामले 30,000 के पार, दूसरी बार एक दिन में 600 से अधिक की मौत

कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ने पर विश्व के कई देशों ने फिर से लगाई पाबंदी. भारत में संक्रमण के मामले बढ़कर 968,876 हुए और मरने वालों का आंकड़ा 24,915 पहुंच गया है. विश्व में अब तक 584,794 और सर्वाधिक प्रभावित अमेरिका में 137,419 की जान जा चुकी है.

New Delhi: Volunteers prepare to bury a 7-month-old infant child, who died due to COVID-19 at AIIMS Trauma centre, at ITO cemetary in New Delhi, Saturday, July 11, 2020. The child, identified as Azar, was buried by medics on request by his father who couldnt reach the national capital as he was quarantined in his hometown in MPs Bhind. (PTI Photo/Arun Sharma)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली/प्रोमकोनस (यूनान): भारत में कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्या ने एक बार फिर रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ोतरी दर्ज करते हुए पहली बार 30 हजार का आंकड़ा पार कर गई.

बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 30,000 से अधिक मामले सामने आने के साथ बृहस्पतिवार को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 968,876 पर पहुंच गई. वहीं कोरोना वायरस संक्रमण से 606 और लोगों की मौत के साथ मृतकों का आंकड़ा 24,915 हो गया.

संक्रमण से 606 लोगों की मौत एक दिन में कोरोना वायरस से मरने वालों का दूसरा सर्वाधिक आंकड़ा है. इससे पहले एक दिन में 613 लोगों की मौत हो चुकी है.

12 जुलाई से यह लगातार पांचवां दिन है, जब कोविड-19 संक्रमण के एक दिन में 28,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं. 10 जुलाई से यह लगातार सातवां दिन है, जब देश में कोविड-19 के 26,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और चार जुलाई से यह लगातार 13वां दिन है, जब संक्रमण के मामले 22,000 से ज्यादा रहे हैं.

अब बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 15 जुलाई को इनकी संख्या 29,429 थी, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा था. 14 जुलाई को इनकी संख्या 28,498, 13 जुलाई को 28,701, 12 जुलाई को 28,637, 11 जुलाई को 27,114, 10 जुलाई को 26,506, नौ जुलाई को 24,879, आठ जुलाई को 22,752, सात जुलाई को 22,252, छह जुलाई को 24,248 और पांच जुलाई को 24,850 थी.

इसी तरह इसी तरह चार जुलाई को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 22 हजार के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 28 जून को पहली बार 19 हजार के पार, 27 जून को पहली बार 18 हजार के पार, 26 जून को पहली बार 17 हजार के पार, 25 जून को पहली बार 16 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 32,695 मामले सामने आए.

इनमें से महाराष्ट्र में 7,975, तमिलनाडु में 4,496, कर्नाटक में 3,176, आंध्र प्रदेश में 2,432, उत्तर प्रदेश में 1,659, दिल्ली में 1,647, तेलंगाना में 1,597, पश्चिम बंगाल में 1,589 और बिहार 1,329 मामले सामने आए जो एक दिन में आए मामलों का करीब 80 प्रतिशत है.

इस संक्रामक रोग से 612,814 लोग स्वस्थ हो चुके हैं जबकि संक्रमित 331,146 मरीजों का इलाज किया जा रहा है.

एक अधिकारी ने बताया, ‘अभी तक करीब 63.25 प्रतिशत मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. संक्रमण के कुल मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.’

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 15 जुलाई को 582, 14 जुलाई को 553, 13 जुलाई को 500, 12 जुलाई को 551, 11 जुलाई को 519, 10 जुलाई को 475, नौ जुलाई को 487, आठ जुलाई को 482, सात जुलाई को 467, छह जुलाई को 425 और पांच जुलाई को 613 लोगों की मौत हुई थी, जो अब तक सर्वाधिक आंकड़ा है.

चार जुलाई को यह संख्या 442, तीन जुलाई को 379, दो जुलाई को 434 और एक जुलाई को 507 थी.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी. इस तरह से 11 जून के बाद यह लगातार 36वां दिन है, जब बीते 24 घंटे के दौरान मरने वालों की संख्या 300 से अधिक रही है.

बृहस्पतिवार को पिछले 24 घंटे में जिन 606 लोगों की मौत हुई है, उनमें से 233 की महाराष्ट्र, 86 की कर्नाटक, 68 की तमिलनाडु, 44 की आंध्र प्रदेश, 41 की दिल्ली, 29 की उत्तर प्रदेश, 20 की पश्चिम बंगाल, 11-11 की जम्मू कश्मीर और तेलंगाना, 10 की गुजरात और नौ लोगों की मध्य प्रदेश में मौत हुई है.

पंजाब में आठ लोगों ने जान गंवाई, जबकि हरियाणा में सात, असम और बिहार में छह-छह, राजस्थान में पांच, ओडिशा और पुदुचेरी में तीन-तीन, झारखंड में दो जबकि चंडीगढ़, केरल, त्रिपुरा और दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई.

इस वैश्विक महामारी से भारत में अब तक कुल 24,915 लोगों की मौत हुई है. इनमें से महाराष्ट्र में 10,928, दिल्ली में 3,487, तमिलनाडु में 2,167, गुजरात में 2,079, उत्तर प्रदेश में 1,012, पश्चिम बंगाल में 1,000, कर्नाटक में 928, मध्य प्रदेश में 682 और राजस्थान में 530 लोगों ने जान गंवाई.

आंध्र प्रदेश में 452, तेलंगाना में 386, हरियाणा में 319, पंजाब में 221, जम्मू कश्मीर में 206, बिहार में 180, ओडिशा में 77, उत्तराखंड में 50, असम में 46, झारखंड में 38 और केरल में 35 लोगों की मौत हुई.

छत्तीसगढ़ में 20, पुदुचेरी में 21, गोवा में 18, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ में 11-11, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा में तीन-तीन, मेघालय और दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव में दो-दो जबकि लद्दाख में एक व्यक्ति ने जान गंवाई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 70 प्रतिशत से अधिक मरीजों की मौत किसी न किसी अन्य बीमारी के कारण हुई.

महाराष्ट्र में संक्रमण के सबसे अधिक 275,640 मामले सामने आए. इसके बाद तमिलनाडु में 151,820, दिल्ली में 116,993, कर्नाटक में 47,253, गुजरात में 44,552, उत्तर प्रदेश में 41,383 और तेलंगाना में 39,342 मामले पाए गए.

आंध्र प्रदेश में कोविड-19 के मामले बढ़कर 35,451, पश्चिम बंगाल में 34,427, राजस्थान में 26,437, हरियाणा में 23,306, बिहार में 20,612 और मध्य प्रदेश में 19,643 हो गए.

असम में संक्रमण के 18,666 मामले सामने आए. इसके बाद ओडिशा में 14,898, जम्मू कश्मीर में 11,666, केरल में 9,553 जबकि पंजाब में 8,799 मामले सामने आए.

छत्तीसगढ़ में 4,539, झारखंड में 4,320, उत्तराखंड में 3,785, गोवा में 2,951, त्रिपुरा में 2,268, मणिपुर में 1,700, पुदुचेरी में 1,596, हिमाचल प्रदेश में 1,341 और लद्दाख में 1,142 मामले सामने आए हैं.

नगालैंड में 902, चंडीगढ़ में 625 और दादर और नगर हवेली तथा दमन और दीव में 539 मामले हैं.

अरुणाचल प्रदेश में संक्रमण के 462, मेघालय में 346, मिजोरम में 238, सिक्किम में 220 जबकि अंडमान और निकोबार द्वीप में 176 मामले सामने आए हैं.

संक्रमण बढ़ने पर कई देशों ने फिर से लगाई पाबंदी

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए दुनिया के कई देशों ने फिर से पाबंदी लगाई है.

बुल्गारिया की सीमा से होकर यूनान आने वाले सभी यात्रियों के लिए बुधवार से कोविड-19 की जांच रिपोर्ट साथ में रखना जरूरी बना दिया गया है. ऐसे लोगों को ही आने की अनुमति होगी, जिनमें संक्रमण नहीं होगा और यह जांच रिपोर्ट तीन दिन के भीतर की होनी चाहिए.

नए नियमों के कारण यात्रियों की संख्या घटने का अनुमान है.

ऑस्ट्रेलिया के दूसरे सबसे बड़े शहर मेलबर्न के नागरिकों को लॉकडाउन के नियमों का पालन करने या कड़ी पाबंदी का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

तेजी से फैल रहे संक्रमण और सरकार विरोधी प्रदर्शनों का सामना कर रहे सर्बिया में 10 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी गई है.

हांगकांग पर भी नई पाबंदी का असर पड़ा है. यहां पर चार से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है और शाम छह बजे के बाद रेस्तरां में बैठने की इजाजत नहीं होगी. एक सप्ताह के लिए जिम और कुछ अन्य कारोबार भी बंद रहेंगे.

संक्रमण के मामले बढ़ने पर इजराइल ने पिछले सप्ताह फिर से पाबंदी लगा दी और कार्यक्रम, लाइव शो, बार, क्लबों को बंद कर दिया.

अफ्रीका के सबसे विकसित देश दक्षिण अफ्रीका ने भी नए उपाए किए हैं. शराब की बिक्री रोक दी गयी है और रात में कर्फ्यू लगा दिया गया है.

स्पेन में उत्तर-पूर्वी कातालूनिया क्षेत्र में प्रशासन ने संक्रमण को रोकने के लिए कुछ नए कदम उठाए हैं. स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने जांच बढ़ाने तथा संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वालों की तलाश का काम तेज करने को कहा है.

जापान की राजधानी टोक्यो की गवर्नर यूरिको कोइकी ने बुधवार को कहा कि शहर में संक्रमण के प्रसार के कारण सतर्क रहने की जरूरत है. उन्होंने शहर के निवासियों और अन्य लोगों से एहतियाती उपाय करने को कहा है.

उधर, बेलारूस के प्रधानमंत्री रोमन गोलोवचेंको ने आने वाले दिनों में रूस के साथ लगी सीमा को खोलने और परिवहन संपर्क बहाल करने की घोषणा की है.

दुनिया में 1.35 करोड़ से ज़्यादा मामले, 5.84 लाख से अधिक की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में यह महामारी 584,794 लोगों की जान ले चुकी है और संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 13,579,581 हो गए हैं. अमेरिका संक्रमण के 3,499,398 मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां मरने वालों की संख्या 137,419 हो चुकी है.

अमेरिका के बाद संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरे देश ब्राजील में संक्रमण के 1,966,748 मामले सामने आए हैं. ब्राजील में संक्रमण के कारण 75,366 लोगों की मौत हो चुकी है.

इसके बाद संक्रमण के मामलों में भारत का नंबर आता है. भारत के बाद रूस में संक्रमण के कुल मामले 751,612 हो गए थे और यहां अब तक 11,920 लोगों की मौत हुई थी.

रूस के बाद पेरू में संक्रमण के 337,751 मामले सामने आए हैं और 12,417 लोगों की मौत हो चुकी है. पेरू के बाद चिली में संक्रमण के 321,205 मामले दर्ज हुए हैं और 7,186 लोगों ने जान गंवा दी है.

इसके बाद संक्रमण के मामले में ब्रिटेन का नंबर आता है. ब्रिटेन में संक्रमण 293,469 मामले सामने आए हैं. इस देश में मौत का आंकड़ा 45,138 है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)