कैंपस

यूपी: बीएचयू छात्रा से छेड़छाड़ व मारपीट के आरोप में छात्रों का प्रदर्शन जारी, एक गिरफ़्तार

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी परिसर का मामला. छात्रा का आरोप है कि वे 16 अगस्त की शाम को अपने एक दोस्त के साथ यूनिवर्सिटी के गेस्ट हाउस के चौराहे के पास खाना खा रही थी कि तभी नशे में धुत्त तीन लोगों ने उनके साथ छेड़छाड़ और मारपीट की. छात्रा का कहना है कि आरोपियों ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी.

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी. (फोटो: पीटीआई)

लखनऊः वाराणसी में बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) की एक छात्रा से कथित छेड़छाड़ के चौथे दिन बाद शनिवार को छात्रों का विरोध प्रदर्शन जारी रहा.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, बीएचयू कैंपस में 16 अगस्त की रात बीएचयू के ही एक छात्र और दो अज्ञात लोगों ने छात्रा से कथित तौर पर छेड़छाड़ की थी.

22 वर्षीया छात्रा ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 (स्त्री का शीलभंग करना), 323 (जानबूझकर हानि पहुंचाना), 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमानित करना) के तहत एफआईआर दर्ज कराई.

छात्रा की शिकायत के मुताबिक, ’16 अगस्त की शाम को वे अपने एक दोस्त के साथ यूनिवर्सिटी के गेस्ट हाउस के चौराहे के पास खाना खा रही थी कि तभी नशे में धुत्त तीन लोगों ने उसके साथ छेड़छाड़ की और उनसे और उनके दोस्त के साथ मारपीट भी की.’

शिकायत में कहा गया, ‘इन लोगों ने मेरे दोस्त के साथ मारपीट करते हुए कहा कि वे किसी से भी नहीं डरते और उन्होंने कुछ हत्याएं भी की हैं. जब मैंने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उन्होंने मुझे प्रताड़ित किया, मुझे गलत तरीके से छुआ. उन्होंने मुझे और मेरे दोस्त को जान से मारने की धमकी भी दी.’

लंका पुलिस थाने के एसएचओ महेश चंद्र पांडेय ने कहा, ‘मामले में मुख्य आरोपी को 19 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया गया था. आरोपी यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग का छात्र है. हम अन्य लोगों की भी जांच कर रहे हैं और उन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लेंगे.’

इस बीच छात्रों ने अन्य दो लोगों की भी गिरफ्तारी की मांग करते हुए शनिवार को प्रदर्शन जारी रखा.

एक छात्र ने कहा, ‘पुलिस ने सिर्फ एक ही शख्स को गिरफ्तार किया है. अगर एक को गिरफ्तार किया है तो अन्य दो की भी पहचान की जानी चाहिए.’