भारत

भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को दंगा मुक्त किया: योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम में विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग जातिवाद, क्षेत्रवाद, बेईमानी और भ्रष्टाचार फैलाते थे, दंगे करवाते थे. हमारी सरकार आई तो हमने प्रदेश को दंगा मुक्त किया और साढ़े चार वर्ष में एक भी दंगा नहीं हुआ.

योगी आदित्यनाथ. (फोटो साभार: फेसबुक/@MYogiAdityanath)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग बार-बार रंग बदलते हैं और इनके बयानों से तो कभी गिरगिट भी शरमा जाए.

मुख्यमंत्री ने शनिवार को गोंडा जिले के बलरामपुर चीनी मिल परिसर, मैजापुर में 450 करोड़ रुपये की लागत से 65.61 एकड़ में बनने वाले एथेनॉल संयंत्र का शिलान्यास करने के बाद एक समारोह यह टिप्पणी की.

उन्होंने कहा, ‘ये लोग जातिवाद, क्षेत्रवाद, बेईमानी और भ्रष्टाचार फैलाते थे, दंगे करवाते थे, इनके दोहरे चरित्र में आप लोग कभी मत आना, इनके बहकावे में कभी मत आना, इनके बयानों से तो कभी गिरगिट भी शरमा जाए, ये लोग बार-बार रंग बदलते हैं.’

मुख्यमंत्री ने विशेष रूप से सपा मुखिया अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा, ‘ये जो दंगाई हैं, जिन्ना के अनुयायी हैं, ये गन्ने की मिठास को क्या समझ पाएंगे. याद करिए जिन आतंकवादियों ने मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की जन्‍मभूमि पर हमला किया था, उन आतंकवादियों के मुकदमे को बड़ी बेशर्मी के साथ वापस लेने का कार्य पिछली सरकार ने किया. धन्यवाद है इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय को, जिन्होंने पिछली सरकार की इस मंशा को पूरा नहीं होने दिया. हमारी सरकार आई तो हमने प्रदेश को दंगा मुक्त किया और साढ़े चार वर्ष में एक भी दंगा नहीं हुआ.’

उन्होंने समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘आज एशिया के सबसे बड़े एथेनॉल संयंत्र का शिलान्यास हो रहा है, बीजापुर चीनी मिल क्षमता को भी बढ़ाया गया है. यहां पर 15 मेगावाट बिजली भी बनायी जाएगी.’

उन्होंने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर की चर्चा करते हुए कहा, ‘अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर बनाने के लिए किसने रोका था. कांग्रेस को किसने रोका, बुआ (मायावती) को किसने रोका और बबुआ (अखिलेश यादव) को किसने रोका.’

गौरतलब है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा और सपा के गठबंधन के बाद बसपा प्रमुख मायावती और सपा प्रमुख अखिलेश यादव की जोड़ी को बुआ-बबुआ का नाम मिला था.

योगी ने कहा, ‘इन्हें तो पूरा मौका मिला था लेकिन उनकी सरकारों में भाई-भतीजे के लिए काम होता था. उनकी सरकारों में अपना-पराया था. जो आस्था का सम्मान करना जानते हैं, वह लोग अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण करा रहे हैं.’

गन्ना किसानों के हक में भारतीय जनता पार्टी की सरकार में हुए कार्यों की चर्चा करते हुए योगी ने कहा, ‘2017 से पहले उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों या सामान्य किसानों की क्या स्थिति थी, यह आप सब लोग जानते हैं. किसान आत्महत्या कर रहा था, तब प्रदेश में किसान अपनी मेहनत से अन्न का उत्पादन करता था लेकिन उसके क्रय की कोई व्यवस्था नहीं थी.’

खाद की कमी के चलते बुंदेलखंड में किसान आत्महत्या कर रहे हैं: कांग्रेस

उधर महोबा में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार को कहा कि ‘भाजपा की नई खनिज नीति, किसानों की दुर्दशा, पानी की समस्या, बेरोजगारी, महंगाई के चलते बुंदेलखंड का बुरा हाल है.’

प्रियंका ने छत्रसाल स्टेडियम में ‘प्रतिज्ञा रैली’ में वादा किया, ‘उत्तर प्रदेश में यदि कांग्रेस की सरकार बनती है तो किसानों का पूरा कर्ज माफ होगा और महिलाओं को साल में तीन घरेलू गैस सिलेंडर मुफ्त दिए जाएंगे.’

बुंदेलखंड के किसानों की समस्याओं का जिक्र करते हुए प्रियंका ने कहा कि बुंदेलखंड के संसाधनों पर बुंदेलखंड के लोगों का हक है. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पर बुंदेलखंड को छलने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा कि खाद की कमी के चलते बुंदेलखंड में किसान आत्महत्या कर रहे हैं. उन्‍होंने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर किसानों के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए दावा किया कि दो सालों में 1,500 किसानों ने आत्महत्या की.

बुंदेलखंड के विकास के लिए काम करने का भरोसा देते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा की तरह चुनावी बुंदेलखंड विकास बोर्ड नहीं बल्कि इसके लिये स्थाई बुंदेलखंड विकास बोर्ड बनेगा. बुंदेलखंड विकास बोर्ड के लिए हर साल विकास का बजट दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि महोबा में वीर आल्हा-ऊदल के नाम पर एक बड़ा सांस्कृतिक केंद्र बनायेंगे.

उन्होंने कहा कि हमने छुट्टा जानवरों के लिए छत्तीसगढ़ के मॉडल को लागू करने की योजना बनायी है और हमारी सरकार बनने के बाद छत्तीसगढ़ मॉडल यहां लागू करेंगे.

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘हमने ये भी तय किया है जिन परिवारों को सबसे ज्यादा आर्थिक मार कोरोना की पड़ी है, जिनके छोटे-छोटे कारोबार बंद हुए उनको 25,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. हमने यह भी तय किया कि 20 लाख सरकारी रोजगार देंगे और हमारी सरकार बनने के बाद कोई भी बीमारी हो तो 10 लाख रुपये तक का इलाज सरकार करवायेगी .

उन्होंने कहा, ‘कोरोना काल में आर्थिक तंगी के चलते बिजली बिल न जमा करने वालों का बिजली बिल भी माफ होगा.’

कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि सरकार के पास बुंदेलखंड के विकास के लिए कोई योजना नहीं है. उन्होंने उपस्थित लोगों से कहा ‘आप पूछिये कि यहां के पान के लिए क्या योजना है, भंवर सागर के लिए क्या योजना है.’

उन्होंने कहा कि पत्थर यहां का सोना है लेकिन सरकार की गलत नीतियों के कारण यहां के लोगों को कुछ नहीं मिल रहा है. उन्होंने सरकार पर पर्यटन उद्योग को बर्बाद करने का आरोप लगाया.

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की रैली में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कांग्रेस अल्पसंख्यक सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी, पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी, प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी मौजूद थे.

प्रियंका ने दावा किया कि ‘हम भाजपा की लूट वाली नीति को खत्‍म करेंगे.’