भारत

जनता को बांटकर तरक्की नहीं हो सकती: अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छे दिनों का सपना दिखाकर सत्ता हथियाने का काम किया गया, लेकिन भाजपा के शासनकाल में सभी वर्ग परेशान हैं.

Agra: Samajwadi Party President Akhilesh Yadav addresses a press conference in Agra on Wednesday, on the eve of the partys national convention. PTI Photo (PTI10 4 2017 000160B) *** Local Caption ***

(फाइल फोटो: पीटीआई)

सहारनपुर: समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि देश व प्रदेश की जनता को धर्म और जाति के नाम पर बांटकर तरक्की नहीं हो सकती.

अखिलेश बीते 10 अक्टूबर के दिन कस्बा तीतरो में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कद्दावर राजनीतिज्ञ चौधरी यशपाल सिंह की 96वीं जयंती कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि अच्छे दिनों का सब्जबाग दिखाने वाले लोगों ने चुनाव में हिंदू-मुस्लिम को जाति व धर्म के नाम पर बांटकर सत्ता हथियाने का काम किया, लेकिन भारतीय जनता पार्टी के शासनकाल में गरीब, किसान, मजदूर, व्यापारी सभी वर्ग परेशान हैं.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले नोटबंदी कर देश की जनता के साथ धोखा किया. इसके बाद जीएसटी लागू की गई जिसे व्यापारी तो क्या अधिकारी भी नहीं जानते. जीएसटी से प्रदेश का सारा व्यापार चौपट हो गया है.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में भी भाजपा की सरकार बनाओ. डबल इंजन की सरकार होने पर देश व प्रदेश का विकास होगा. उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार बन गई. इसके बावजूद भी प्रदेश का किसान आत्महत्या कर रहा है तथा व्यापारी भूखों मरने को मजबूर है.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने टीवी चैनलों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मीडिया ने बाप-बेटे के बीच रात-दिन लड़ाई दिखाकर हमें बदनाम कर दिया. उन्होंने कहा कि बाप-बेटे कैसे अलग हो सकते हैं. हमारे ऊपर परिवारवाद का आरोप लगाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बताएं कि अमित शाह का परिवार उनके कार्यकाल में कहां से कहां पहुंच गया.

उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी व सीएम के कार्यकाल में जनता को बिजली नहीं मिल पा रही है, कारोबारी परेशान हैं, बेरोजगारी बढ़ी है.