भारत

अखिलेश राज की तरह योगी राज में भी नेता की भैंस खोज रही यूपी पुलिस

उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक के फार्म हाउस से दो भैंसें चोरी. मामला दर्ज, पुलिस जुटी तलाश में.

प्रतीकात्मक तस्वीर. (फोटो: पीटीआई)

प्रतीकात्मक तस्वीर. (फोटो: पीटीआई)

सीतापुर: उत्तर प्रदेश पुलिस का भैंसों से पीछा नहीं छूट रहा है, चाहे राज्य में किसी भी पार्टी की सरकार हो. पुलिस ने सोमवार को बताया कि सीतापुर के हरगांव से भाजपा विधायक के फार्म हाउस से दो भैंसें चोरी हो गईं.

पुलिस के अनुसार विधायक के पिता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामलाल राही ने नगर कोतवाली में इस सिलसिले में रविवार को प्राथमिकी दर्ज कराई है. राही ने कहा कि उन्होंने मामला दर्ज कराया है और इसका उनके विधायक पुत्र से कोई लेना देना नहीं है.

हालांकि इस मुद्दे को सपा सरकार में मंत्री रहे आजम खां के साथ घटी ऐसी ही घटना से जोड़कर देखा जा रहा है. गौरतलब है कि अखिलेश सरकार के दौरान राज्य सरकार में मंत्री और प्रमुख सपा नेता आजम खां की भैंसें चोरी होने का मामला काफी चर्चित रहा था. इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर खूब मजाक उड़ाया गया था.

करीब चार साल पहले अखिलेश सरकार के समय में मंत्री रहे आजम खां के रामपुर जिले में स्थित फार्म हाउस से भी सात भैंसें चोरी हो गई थीं. इस घटना के बाद तीन पुलिसकर्मियों को लापरवाही के लिए निलंबित कर दिया गया था और रामपुर का समूचा पुलिस बल भैंसों का सुराग लगाने में जुट गया था.

पुलिस ने 36 घंटे में भैंसों का पता लगा लिया था और चोरी के अपराध में शामिल तीन लोगों को 18 महीने बाद गिरफ्तार किया गया था.

पुलिस क्षेत्राधिकारी सीतापुर योगेंद्र सिंह ने बताया कि रविवार देर शाम तक भैंसों का पता नहीं लग सका था, हालांकि पुलिस तलाश कर रही है.