भारत

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर के पीए के बाद उमा भारती के पीएसओ ने आत्महत्या की

पुलिस के अनुसार, पत्नी से विवाद होने के बाद केंद्रीय मंत्री उमा भारती के निजी सुरक्षा अधिकारी ने ख़ुद को गोली मार ली. बीते 21 अगस्त को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर के पीए ने ख़ुदकुशी कर ली थी.

केंद्रीय मंत्री उमा भारती और नरेंद्र सिंह तोमर. (फोटो: पीआईबी/पीटीआई)

केंद्रीय मंत्री उमा भारती और नरेंद्र सिंह तोमर. (फोटो: पीआईबी/पीटीआई)

भोपाल: केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर के निजी सहायक (पीए) की आत्महत्या के बाद केंद्रीय मंत्री एवं मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) ने पत्नी से हुए विवाद के बाद भोपाल में कथित तौर पर पुलिस वाहन में अपनी सर्विस पिस्तौल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली.

वह मध्य प्रदेश विशेष सशस्त्र बल (एसएएफ) में कंपनी कमांडर रैंक के अधिकारी थे.
कमला नगर पुलिस थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय ने गुरुवार को बताया, ‘अपनी पत्नी से हुए विवाद के बाद राम मोहन दौनेरिया (32) ने बुधवार की मध्य रात्रि के आसपास अपनी सर्विस पिस्तौल से सिर में गोली मार ली जिससे उनकी मौत हो गई.’

उन्होंने बताया कि वह उमा भारती के पीएसओ थे और अपने परिवार के साथ शहर के नेहरू नगर में रहते थे.

मालवीय ने बताया कि दौनेरिया की पत्नी का 22 अगस्त की रात 11 बजे के आसपास पुलिस की फर्स्ट रिस्पॉन्स वाहन सेवा के डायल 100 पर फोन आया था कि उसके पति नशे की हालत में उसे गाली-गलौज दे रहे हैं और उसके साथ मारपीट कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि शिकायत मिलने के बाद डायल 100 टीम उनके घर पहुंची और इस दंपति से बात कर दोनों को समझाया कि विवाद न करें. हालांकि, डायल 100 के कर्मचारियों के समझाने का उन पर कोई असर नहीं हुआ. इसके बाद उसकी पत्नी ने कहा कि वह पुलिस थाने में अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज करेगी.

मालवीय ने बताया कि बाद में इस दंपति को कमला नगर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए डायल 100 वाहन में लाया जा रहा था, तभी आधे रास्ते में दौनेरिया ने अपनी सर्विस पिस्तौल से अपने सिर में गोली मार ली.

उन्होंने कहा कि उसे तुरंत पास के ही एक अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत लाया हुआ घोषित कर दिया.

इसी बीच, जब पुलिस अधीक्षक (पुलिस मुख्यालय) धर्मवीर सिंह यादव ने पूछा गया कि क्या राम मोहन दौनेरिया उमा भारती के पीएसओ थे, तो उन्होंने कहा, ‘हां, वह उनकी सुरक्षा में तैनात थे.’

वहीं, भोपाल दक्षिण के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दौनेरिया मध्यप्रदेश पुलिस की एसएएफ में कंपनी कमांडर रैंक के अधिकारी थे.

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के पीए ने भी की थी खुदकुशी

बीते 21 अगस्त को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के निजी सहायक (पीए) के रूप में कार्यरत 31 वर्षीय शख्स ने दक्षिण दिल्ली के लक्ष्मीबाई नगर में छत के पंखे से फांसी लगाकर कथित तौर पर खुदकुशी कर ली थी.

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) रोमिल बानिया ने बताया था कि कुंदन कुमार को सफ़दरजंग अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

पुलिस ने बताया था कि उन्हें आधी रात के बाद 2:25 बजे सरोजिनी नगर थाने में घटना की सूचना मिली.

एक अधिकारी ने कहा कि कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.

कुमार के परिवार में पत्नी शिवानी और छह महीने का एक बेटा है. पुलिस ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद कुमार का शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया है. आगे जांच जारी है.

Comments