भारत

अगर कांग्रेस लोकसभा चुनाव जीती, तो पाकिस्तान में दीवाली होगी: विजय रूपाणी

मेहसाणा में भाजपा की विजय संकल्प रैली में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि देश की जनता 23 मई को नरेंद्र भाई की जीत सुनिश्चित करेगी जिसके बाद पाकिस्तान में शोक मनाया जाएगा.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी. (फोटो साभार: ट्विटर/@BJP4Gujarat)

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी. (फोटो साभार: ट्विटर/@BJP4Gujarat)

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री ने रविवार को दावा किया है कि लोकसभा चुनाव में ‘गलती से’ कांग्रेस जीतेगी तो पाकिस्तान में दीवाली देखने को मिलेगी.

मेहसाणा में भाजपा की ‘विजय संकल्प’ रैली में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा, ‘हालांकि ऐसा होने वाला नहीं है लेकिन जब 23 मई को आम चुनाव का परिणाम घोषित होगा और (यदि) गलती से कांग्रेस जीत जाती है तो पाकिस्तान में दीवाली मनायी जायेगी क्योंकि वे (कांग्रेस) उससे जुड़े हुए हैं.’

भाजपा नेता ने कहा, ‘देश की जनता 23 मई को नरेंद्र भाई की जीत सुनिश्चित करेगी जिसके बाद पाकिस्तान में शोक मनाया जायेगा.’

कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा द्वारा बालाकोट हवाई हमले के प्रमाण मांगने के लिए रूपाणी ने उन पर हमला किया.

रूपाणी ने कहा, ‘पूरी दुनिया जानती है कि पाकिस्तान आतंकवादियों की शरण स्थली है और राहुल गांधी के शिक्षक सैम पित्रोदा कहते हैं कि पांच सात युवकों (जिन्होंने पुलवामा हमला किया) के लिए पाकिस्तान को दोष देना गलत है… कांग्रेस नेता पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं.’

मुख्यमंत्री ने विपक्ष पर सैन्य बलों का अपमान करने का आरोप लगाया. उन्होंने पूछा, ‘सैन्य बलों के प्रमुखों (बालाकोट हवाई हमले के बाद) द्वारा कहे गये शब्दों को नकार कर किसका समर्थन करना चाहते हैं.’

बता दें बीते हफ़्ते विदेश में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने पुलवामा आतंकी हमले के जवाब में भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान हुई मौत के आंकड़ों पर सवाल उठाया था.

सैम पित्रोदा लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस की घोषणापत्र समिति के सदस्य हैं और पार्टी के वरिष्ठ विचारक माने जाते हैं.

पित्रोदा ने एयर स्ट्राइक के बारे में कहा कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया में इसे लेकर अलग खबरें चल रही हैं और भारतीय जनता को इसकी वास्तविकता जानने का हक है. पित्रोदा ने कहा कि पाकिस्तान के साथ बातचीत होनी चाहिए.

वैसे देश में किसी भी चुनाव से पहले भाजपा नेताओं द्वारा पाकिस्तान का जिक्र चलन बन गया है. 2015 में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले कहा था कि अगर पार्टी बिहार में चुनाव हारती है तो पाकिस्तान में लोग पटाखे फोड़ेंगे.

वहीं 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए पाकिस्तान कांग्रेस की मदद कर रहा है.

इसके बाद पाकिस्तान ने जवाब देते हुए कहा था कि चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय नेताओं को अपनी घरेलू राजनीति में पाकिस्तान को नहीं घसीटना चाहिए.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ.