भारत

भाजपा विधायक की बेटी ने दलित से शादी करने के बाद पिता से जान को ख़तरा बताया

बरेली की बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ने कहा कि मीडिया में जो मेरे खिलाफ चल रहा है, वो सब गलत है. मेरी बेटी बालिग है, उसको निर्णय लेने का अधिकार है. मेरे परिवार का कोई सदस्य या मेरे से जुड़े किसी भी व्यक्ति द्वारा फोन नहीं किया गया और न ही उसे धमकी दी जा रही है.

भाजपा विधायक पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी और उनके पति अभी.

भाजपा विधायक पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी और उनके पति.

बरेली: भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक की बेटी ने पुलिस से गुहार लगाते हुए कहा है कि उसे और उसके पति को पिता से जान का खतरा है, इसलिए उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाए .

जानकारी के मुताबिक बरेली जिले की बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी ने दलित युवक अजितेश कुमार के साथ शादी कर ली है.

इसके बाद साक्षी और अजितेश ने दो वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड किया है. सोशल मीडिया पर इन दोनों वीडियो को काफी लोगों ने शेयर किया है.

एक वीडियो में दोनों ने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई कि उसे उसके पिता और विधायक राजेश मिश्रा, भाई विक्की और पिता के एक सहयोगी से जान का खतरा है. ऐसे में उसे और उसके पति को सुरक्षा दी जाए.

साक्षी ने आरोप लगाया कि ये सभी लोग मिलकर उसकी और उसके पति की हत्या करना चाहते हैं. साक्षी ने बरेली के सांसद, विधायकों और मंत्रियों से अपील की है कि वे उसके पिता, भाई और पिता के सहयोगी की मदद न करें.

एक वीडियो में साक्षी कह रही हैं, ‘पापा और विक्की, पापा बोले तो माननीय विधायक पप्पू भरतौल जी और विक्की भरतौल जी… प्लीज आप मान जाओ, शांति से जीयो और रहने दो, क्योंकि मैंने सच में शादी कर ली है. ये सिंदूर मैंने फैशन में नहीं लगा रखा है. शादी कर ली है इसलिए लगा रखा है.’

वे कहती हैं, ‘पापा आपने मेरे पीछे जो कुत्ते भेज रखे हैं न, जैसे राजीव राणा… उसको बताओ कि मेरे सिर के ऊपर से पानी चला गया तो उसका पूरा खानदान जेल में होगा. मैं परेशान हो चुकी हूं. हम घूम-घूम के परेशान हो गए हैं. हमारी जान को खतरा है.’

साक्षी आगे कहती हैं, ‘पापा और विक्की अभी (अजितेश) और उसके परिवार को परेशान करना बंद कर दो, क्योंकि उन लोगों की कोई गलती नहीं है. जो कुछ किया है मैंने और अभी ने किया है. अब शांति से जीओ और राजनीति करो. मैं खुश रहना चाहती हूं और आजाद रहना चाहती हूं.’

वे कहती हैं, ‘मैं इस वीडियो के जरिये एक बात कहना चाहूंगी कि भविष्य में अगर मुझे और अभी की फैमिली के किसी भी सदस्य को कभी कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार मेरे पापा, विक्की भरतौल और राजीव राणा होंगे. विशेष रूप से राजीव राणा होगा, जो पूरी टीम के साथ आया हुआ है और मेरे पीछे घूम रहा है. मैं मर तो जाऊंगी, लेकिन उसका पूरा खानदान मिटाकर जाऊंगी. ये बात ध्यान रखना.’

साक्षी आगे कहती हैं, ‘बरेली के मंत्री, सांसद, एमएलए से एक ही निवेदन है कि जो लोग मेरे पापा की मदद कर रहे हैं, वो बंद कर दें, क्योंकि सच में हमारी जान को खतरा है. और प्लीज पापा अपनी सोच बदलो. अभी और उसकी फैमिली इंसान ही हैं, जानवर नहीं हैं वो. तो प्लीज अपनी सोच बदलो. वो अच्छे लोग हैं, मैं खुश रहूंगी. खुश रहो और खुश रहने दो. चुपचाप अपनी राजनीति करो. धन्यवाद.’

बरेली के डीआईजी आरके पांडेय ने बताया कि साक्षी मिश्रा की दलित युवक अजितेश कुमार से विवाह की सूचना एक वायरल वीडियो से मिली है.

पांडेय ने बताया कि यह मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है कि साक्षी और अजितेश को सुरक्षा दी जाए. उन्होंने बताया कि दंपति ने अभी तक यह सूचित नहीं किया है कि उनका पता ठिकाना कहां है. उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस कहां भेजी जाए.

एक अन्य वीडियो में साक्षी और अभी नजर आ रहे हैं, इसमें साक्षी कहती हैं, ‘मैं साक्षी और ये मेरे पति अभी हैं… हमने अपनी मर्जी से शादी कर ली है. अब मेरे घरवालों ने लोगों को हमारे पीछे लगा दिया है. हम भागते-भागते बहुत परेशान हो गए हैं. मैं बरेली के कप्तान (पुलिस) से यही अनुरोध करना चाहूंगी कि वे हमें सुरक्षा दें और हमारा ख्याल रखें.’

इसी वीडियो में अभी कहते हैं, ‘ख्याल रखें और जो लोग हमारे पीछे लगे हैं… काफी लोग आए हुए हैं. हम लोग जिस होटल में रुके हुए थे, वहां पर वो लोग सुबह आ गए थे. वो तो हमें मौका मिल गया कि हम लोग वहां से निकल गए. उन लोगों का पूरा प्लान है, हमें मारने का.’

अभी आगे कहते हैं, ‘वो लोग अपनी इज्जत बचाने के लिए… मैं एक दलित परिवार से हूं. ये कारण है. वो लोग फिलहाल हमें मारना चाहते हैं, इसलिए हम लोग मीडिया का सहारा ले रहे हैं ताकि हम लोगों की जान बच जाए और हम लोग सुरक्षित रहें.’

साक्षी कहती हैं, ‘अगर हम उनके हाथ आ गए तो वे पक्का हमें मार देंगे. हमारे पास कोई दूसरा विकल्प नहीं है.’

फिर अभी कहते हैं, ‘बरेलीवासी तो माननीय विधायक जी को जानते ही हैं. हमें यही बात कहनी थी.’

अजितेश के पिता हरीश कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा है कि उन्हें धमकियां दी जा रही हैं. उन्होंने बताया, ‘मुझे उनके (अजितेश और साक्षी) द्वारा एक मैसेज मिला है कि उनकी जान खतरे में है. उनकी हत्या करने की कोशिश की जा रही है और वे किसी सुरक्षित जगह पर छिपे हुए हैं.’

हरीश ने बताया, ‘मैं कोई कार्रवाई नहीं चाहता क्योंकि यह दो परिवारों के बीच का मामला है और दोनों परिवार एक दूसरे को जानते हैं. लेकिन उनके (भाजपा विधायक) आदमी ने उन्हें (अजितेश और साक्षी) एक मैसेज भेजा है कि दोनों को जान से मार दिया जाएगा. आप खुद देख सकते हैं, वह (साक्षी) वीडियो में आरोपियों के नाम ले रही है. मैंने एसएसपी बरेली को उनके विवाह का प्रमाण पत्र और एक प्रार्थना पत्र भेज दिया है. साथ ही यह बात मीडिया को भी बता दी है.’

उधर, भाजपा विधायक राजेश मिश्रा ने एक वीडियो में कहा है, ‘मुझे इसमें कुछ कहना नहीं है. मीडिया में जो मेरे खिलाफ चल रहा है, वो सब गलत है. मेरी बेटी बालिग है, उसको निर्णय लेने का अधिकार है. मेरे परिवार का कोई सदस्य या मेरे से जुड़े किसी भी व्यक्ति द्वारा फोन नहीं किया गया और न ही उसे धमकी दी जा रही है.’

वे आगे कहते हैं, ‘हम लोग अपने काम में व्यस्त हैं. भारतीय जनता पार्टी का सदस्यता अभियान चल रहा है, उसमें जा रहे हैं. गरीब कन्याओं की शादी हो रही है, उसमें जा रहे हैं. बाकि मुझे इस मामले में कुछ नहीं कहना है. वो जहां भी हैं, खुश रहें.’

एसएसपी बरेली ने बताया, ‘हमने दोनों के द्वारा सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए वीडियो को देखा है. अगर दोनों सुरक्षा के लिए लिखित में देते हैं, तब हम निश्चित तौर पर उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएंगे.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)