Gurgaon

(फोटो: रॉयटर्स)

हरियाणाः गुड़गांव में बीते पांच साल में बलात्कार और हत्या की सबसे अधिक वारदातें

हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस सदस्य करण सिंह दलाल के सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी गई. गुड़गांव में बीते पांच साल में बलात्कार के सबसे अधिक 663 मामले दर्ज हुए जबकि हत्या की 470 वारदातें हुईं. गुड़गांव और फरीदाबाद में बच्चों के बलात्कार के मामले भी सबसे अधिक पाए गए.

Gurugram-Screenshot-2019-05-27-at-9.25.33-AM-1200x600

गुड़गांव में मवेशी तस्करी के संदेह में दो की पिटाई, दोनों पीड़ित गिरफ़्तार

गुड़गांव पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने कहा कि पलवल जिले के निवासी शथील अहमद और तैयद को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अस्पताल से छूटने के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. बरामद किए गए मीट को टेस्ट के लेबोरेटरी में भेज दिया गया है.

Gurugram-Screenshot-2019-05-27-at-9.25.33-AM-1200x600

गुड़गांव: स्पेन की महिला से बलात्कार का आरोप, आरोपी गिरफ़्तार

स्पेन की एक महिला गुड़गांव में किराए पर घर ढूंढ रही थी और इस संबंध में उसने फेसबुक पर पोस्ट लिखा था. आरोप है कि एक व्यक्ति ने महिला से फेसबुक पर दोस्ती की और मदद के बहाने उसे फ्लैट में बुलाकर उसका बलात्कार किया.

​​(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

गुड़गांव: ऑटोमोबाइल कंपनी में सेप्टिक टैंक की सफाई के दौरान दो लोगों की मौत

तीसरे व्यक्ति की हालत बहुत गंभीर है और उनका इलाज चल रहा है. अभी इस मामले में केस दर्ज किया जाना बाकी है.

पत्रकार जिब्रान नज़ीर. (फोटो साभार: फेसबुक/जिब्रान नज़ीर)

पुलवामा हमला: पुणे में कश्मीरी पत्रकार को पीटा, कहा- तुम्हें वापस कश्मीर भेज देंगे

24 वर्षीय जिब्रान नज़ीर का आरोप है कि ट्रैफिक सिग्नल पर विवाद होने के दौरान जब उन्होंने बताया कि वह जम्मू कश्मीर के पत्रकार हैं तब दो लोगों ने मिलकर उनकी पिटाई कर दी.

modi-kashmir-pti

पुलवामा हमला: प्रताड़ित कश्मीरी छात्रों में प्रधानमंत्री स्कॉलरशिप पाने वाले भी शामिल

प्रधानमंत्री स्कॉलरशिप के तहत देशभर के कॉलेजों, संस्थाओं और विश्वविद्यालयों में जम्मू कश्मीर के मेधावी छात्रों को प्रवेश दिया जाता है.

yavatmal

महाराष्ट्र के यवतमाल में कश्मीरी छात्रों से मारपीट

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादी हमले के बाद कश्मीरियों के साथ दुर्व्यवहार की खबरों पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने केंद्रीय गृह मंत्रालय एवं मानव संसाधन विकास मंत्रालय तथा पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश की राज्य सरकारों को नोटिस जारी किया है.

सुप्रीम कोर्ट (फोटो: पीटीआई)

पुलवामा हमला: कश्मीरियों को प्रताड़ित करने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया

कोर्ट ने केंद्र और 10 राज्यों को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने कहा है कि राज्यों के नोडल अफसर कश्मीरी और अन्य अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा तथा भेदभाव को रोकें.

New Delhi: A view of Supreme Court of India in New Delhi, Thursday, Nov. 1, 2018. (PTI Photo/Ravi Choudhary) (PTI11_1_2018_000197B)

पुलवामा हमला: कश्मीरियों की सुरक्षा को लेकर दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

याचिका में आरोप लगाया गया कि पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद कश्मीर घाटी के छात्रों पर देशभर के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में हमला किया जा रहा है और संबंधित प्राधिकारियों को इस प्रकार के हमले रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए.

SGT University Gurgaon

पुलवामा हमला: कॉलेज ने छात्रा को किया निष्कासित, होटल ने लिखा-कश्मीरियों का प्रवेश नहीं

गुरुग्राम की एसजीटी यूनिवर्सिटी में पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को लेकर कथित आपत्तिजनक पोस्ट पर एक कश्मीरी छात्रा को निष्कासित कर दिया गया है. वहीं, नोएडा के एक होटल में कश्मीरियों के विरोध में एक बोर्ड लगाया गया था.

(प्रतीकात्मक तस्वीर: रॉयटर्स)

अंतरधार्मिक विवाह में बाधाएं न खड़ी करें: पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट

एक हिंदू महिला और मुस्लिम शख़्स ने हाईकोर्ट से राहत मांगी है कि वे गुरुग्राम डिस्ट्रिक्ट मैरिज अधिकारी को निर्देश दे कि उनकी शादी का नोटिस उनके घर न भेजा जाए. कोर्ट ने कहा कि मांगी गई कुछ सूचनाएं निजता का उल्लंघन करती हैं. इस प्रक्रिया में एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र में बदलते वक़्त की मानसिकता झलकनी चाहिए.

EP 239 RAW

जन गण मन की बात, एपिसोड 239: सांप्रदायिक तनाव बढ़ाने की कोशिशें और राहुल गांधी

जन गण मन की बात की 239वीं कड़ी में विनोद दुआ देश के विभिन्न हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव बढ़ाने की कोशिशों और राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने के बयान पर चर्चा कर रहे हैं.

Khattar Featured

नमाज़ मस्जिद में पढ़ी जानी चाहिए, खुले में नहीं: मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन हाल ही में खुले में नमाज़ पढ़ने के मामलों में बढ़ोत्तरी हुई है. हम कोशिश कर रहे हैं कि नमाज़ उसके निर्धारित स्थान पर पढ़ी जाए, न कि सार्वजनिक स्थानों पर.

(फाइल फोटो: पीटीआई)

गुड़गांव में हिंदूवादी संगठनों ने कई जगहों पर लोगों को नमाज़ पढ़ने से रोका

संयुक्त हिंदू संघर्ष समिति नाम के संगठन ने खुले में नमाज़ पढ़ने से लोगों को रोका. समिति में बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद, शिवसेना, हिंदू जागरण मंत्र जैसे 12 संगठन शामिल हैं.

​​(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

गुड़गांव में फैक्ट्री टैंक से सहकर्मी को बचाने की कोशिश में तीन लोगों की मौत

घटना सेक्टर 37 औद्योगिक इलाके में जेएनजे इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में हुई. पुलिस ने कंपनी के अधिकारियों के ख़िलाफ़ दर्ज की प्राथमिकी.