ईरान-अमेरिका तनाव: विदेश मंत्रालय ने भारतीय नागरिकों को इराक की गैर जरूरी यात्रा से बचने को कहा

अमेरिकी हवाई हमले में अपने सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद कार्रवाई करते हुए ईरान ने इराक स्थित अमेरिकी एयरबेस पर मिसाइल हमला किया. वहीं, ईरान में यूक्रेन का विमान दुर्घटनाग्रस्त होने से सभी 176 नागरिकों की मौत हो गई.

/
(फोटो: रॉयटर्स)

अमेरिकी हवाई हमले में अपने सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद कार्रवाई करते हुए ईरान ने इराक स्थित अमेरिकी एयरबेस पर मिसाइल हमला किया. वहीं, ईरान में यूक्रेन का विमान दुर्घटनाग्रस्त होने से सभी 176 नागरिकों की मौत हो गई.

प्रतीकात्मक फोटो (फोटो: रॉयटर्स)
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: ईरान द्वारा अमेरिकी एयरबेस पर मिसाइल हमले के बीच भारत ने अपने नागरिकों को अगली अधिसूचना तक इराक की गैर जरूरी यात्रा से बचने का सुझाव दिया है. विदेश मंत्रालय द्वारा भारतीय नागरिकों के लिये इराक यात्रा के संबंध में यात्रा परामर्श में यह बात कही गई है.

मंत्रालय द्वारा जारी यात्रा परामर्श में कहा गया है कि इराक में रहने वाले भारतीय नागरिकों को सतर्क रहने और इराक में यात्रा करने से बचने का सुझाव दिया जाता है.

इसमें कहा गया है कि, ‘बगदाद में हमारा उच्चायोग और इरबिल में वाणिज्यदूतावास सामान्य रूप से काम करना जारी रखेंगे और इराक में रहने वाले भारतीय नागरिकों को सभी सेवाएं प्रदान करेंगे.’

गौरतलब है कि अमेरिका द्वारा ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी को ड्रोन हमने में मारने के बाद से ही दोनों देशों में तनातनी चल रही है. इसके बाद इराक में अमेरिकी एयरबेस पर ईरान द्वारा मिसाइलों से हमला किया गया.

पेंटागन के मुताबिक उसके एयरबेस पर एक दर्जन से ज्यादा मिसाइलें दागी गई हैं. एयरबेस पर अमेरिका के साथ गंठबंधन सेनाएं तैनात हैं.

तेहरान के पास बुधवार को यूक्रेन का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया. हादसे में सभी 176 नागरिकों की मौत हो गयी.

डीजीसीए ने एयरलाइन कंपनियों को सतर्कता बरतने की दी सलाह

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बुधवार को भारतीय एयरलाइन कंपनियों से कहा कि वे ईरान, इराक, ओमान की खाड़ी और फारस की खाड़ी में हवाई क्षेत्र में पूरी सतर्कता बरतें.

डीजीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमने संबद्ध एयरलाइनों के साथ बैठक की और उन्हें सतर्क रहने तथा हर संभव एहतियात बरतने को कहा गया है.’

इससे पहले, अमेरिकी संघीय उड्डयन प्रशासन (एफएए) अमेरिका में पंजीकृत विमानों के इराक, ईरान और खाड़ी क्षेत्र के ऊपर से गुजरने पर प्रतिबंध लगा चुका है. यह कदम इराक में अमेरिकी बलों पर रॉकेट हमलों के बाद उठाया गया.

ईरान के हवाई क्षेत्र से गुजरने वाली एअर इंडिया, एआई एक्सप्रेस की उड़ानों का मार्ग बदला जाएगा

तेहरान के पास यूक्रेन के एक विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने और इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर ईरान सरकार द्वारा कराये गये मिसाइल हमलों के कुछ घंटे बाद एअर इंडिया ने कहा कि वह अपनी और सहायक कंपनी एअर इंडिया एक्सप्रेस की उन उड़ानों का मार्ग बदल रही है जो ईरान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल करती हैं.

एयरलाइन के प्रवक्ता ने कहा, ‘ईरान के हवाई क्षेत्र में तनाव की इस स्थिति में ईरान के ऊपर से गुजरने वाली एअर इंडिया और एअर इंडिया एक्सप्रेस की उड़ानों का मार्ग अस्थाई रूप से बदलने का फैसला किया गया है. इससे दिल्ली से रवाना होने वाले विमानों का उड़ान समय करीब 20 मिनट और मुंबई से रवाना होने वाले विमानों का उड़ान समय करीब 30 से 40 मिनट बढ़ सकता है.’

विमानन नियामक डीजीसीए ने बुधवार सुबह भारतीय एयरलाइन्स को ईरान, इराक, ओमन खाड़ी और फारस की खाड़ी के जल क्षेत्र के ऊपर से गुजरने वाले विमानों को लेकर पूरी सावधानी अपनाने को कहा है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq