भारत

यूपी: नाबालिग का 28 लोगों पर रेप का आरोप, पिता के साथ सपा-बसपा नेताओं समेत 7 गिरफ़्तार

मामला ललितपुर का है, जहां एक 17 वर्षीय युवती ने अपने पिता समेत 28 लोगों पर पिछले पांच सालों से बलात्कार करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने बताया कि लड़की की मां ने उनके पति पर अपने 10 साल के बेटे का भी यौन शोषण करने का आरोप लगाया था.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

ललितपुर: उत्तर प्रदेश के ललितपुर में एक 17 साल की नाबालिग ने 28 लोगों पर बलात्कार का आरोप लगाया है. आरोपियों में नाबालिग लड़की के पिता, रिश्तेदारों के साथ कई नेताओं के नाम भी शामिल हैं.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने पिछले पांच वर्षों में नाबालिग के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया था. गिरफ्तार लोगों में पीड़िता के पिता और समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष भी शामिल हैं.

पुलिस ने लड़की का चिकित्सकीय परीक्षण कराया है. उन्होंने मजिस्ट्रेट के सामने उसका बयान भी दर्ज कराया है.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘हमने अब तक लड़की के पिता और समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के जिलाअध्यक्षों सहित सात लोगों को गिरफ्तार किया है.’

इस अधिकारी ने कहा कि लड़की की मां ने अपने पति पर अपने 10 साल के बेटे का भी यौन शोषण करने का आरोप लगाया था. पुलिस ने पीड़िता और उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई है.

पुलिस के मुताबिक, पीड़िता अपनी मां के साथ 12 अक्टूबर को ललितपुर थाने गई थी और आरोप लगाया था कि पिछले पांच साल से उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया.

पुलिस ने कहा कि लड़की का आरोप है कि जब वह छठी कक्षा में थी तो उसके पिता ने जबरन अश्लील वीडियो दिखाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. बाद में वह उसे शहर के अलग-अलग होटलों में ले गया जहां कई लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया. पिता की धमकियों के कारण वह चुप रही. बाद में उसने अपनी मां को बताया.

पुलिस ने 25 नामजद और तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म समेत कई आरोपों में प्राथमिकी दर्ज की है.

इंडिया टुडे के मुताबिक, पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया कि उसके पिता अन्य लोगों को व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए बुलाते थे और उसे इन लोगों के साथ यौन संबंध बनाने के लिए भी मजबूर करते थे.

अपनी शिकायत में उन्होंने समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष तिलक यादव, उनके तीन छोटे भाइयों, बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार, बसपा के एक अन्य नेता नीरज तिवारी और उनके परिवार के कुछ सदस्यों पर बलात्कार का आरोप लगाया है.

पीड़िता की शिकायत के आधार पर पुलिस ने पिता समेत सभी आरोपियों के खिलाफ धारा 354 (हमला), 376 डी (बलात्कार), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना), 328, 506 (आपराधिक धमकी), 120बी और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (पॉक्सो) के तहत मामला दर्ज किया है.

ललितपुर के पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने कहा कि पुलिस उन होटलों से रिकॉर्ड और सीसीटीवी फुटेज एकत्र कर रही है जहां किशोरी का यौन उत्पीड़न किया गया था.

नवभारत टाइम्स के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने बताया कि नाबालिग किशोरी से बलात्कार के मामले में आरोपित समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष तिलक यादव, बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार व बर्खास्त अवर अभियंता महेंद्र दुबे को गिरफ्तार कर लिया है.

इसके अलावा पीड़िता की मां ने भी अपने पति पर 18 साल पहले उसका अपहरण करके और डरा धमकाकर शादी करने का मामला दर्ज कराया है. इसके साथ आए दिन मारपीट करने व उसके नाबालिग बेटी के साथ बलात्कार करने के आरोप लगाते हुए उनकी सास, ननद, देवर सहित 11 लोगों पर गुरुवार को एफआईआर दर्ज कराई है.

इंडिया टुडे के रिपोर्ट के मुताबिक, बलात्कार के आरोपों के बाद तिलक यादव ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी कर दावा किया था कि वे निर्दोष हैं. सभी आरोपों को निराधार बताते हुए यादव ने आरोप लगाया था कि यह उनके परिवार को बदनाम करने और बर्बाद करने की साजिश है.

इस बीच, बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार ने भी आरोप लगाया था कि यह उन्हें झूठे मामले में फंसाने की साजिश है.