कैंपस

आईआईटी मंडी के निदेशक ने मंत्रों से भूत-प्रेत भगाने का दावा किया

आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर लक्ष्मीधर बेहरा का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह मंत्रोच्चारण से भूत-प्रेतों को भगाने का दावा करते नज़र आ रहे हैं. इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि भूत होते हैं. आधुनिक विज्ञान कई घटनाओं की व्याख्या नहीं कर सकता.

आईआईटी मंडी के निदेशक लक्ष्मीधर बेहरा (फोटो साभारः ट्विटर)

नई दिल्लीः आईआईटी मंडी के हाल ही में निदेशक नियुक्त किए गए आईआईटी कानुपर के प्रोफेसर लक्ष्मीधर बेहरा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें वह दावा कर रहे हैं कि उन्होंने मंत्रों के जाप से बुरी आत्माओं को भगाया है.

आईआईटी कानपुर की वेबसाइट के मुताबिक, बेहरा इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग में प्रोफेसर हैं. आईआईटी दिल्ली से पीएचडी और जर्मन नेशनल सेंटर फॉर इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से पोस्ट डॉक्टरेट की डिग्री ले चुके बेहरा रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के विशेषज्ञ हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, इस पांच मिनट के वीडियो में बेहरा याद करते हुए कह रहे हैं कि कैसे वह 1993 में एक दोस्त की मदद करने चेन्नई गए थे, जो दरअसल संकट में था, क्योंकि उसका परिवार भूत-प्रेतों से त्रस्त था.

वीडियो में उन्हें यह कहते हुए भी सुना जा सकता है कि उन्होंने ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ मंत्र का जाप करने के साथ-साथ भगवद गीता में बताए गए विचारों और ज्ञान का भी अभ्यास शुरू कर दिया था और अपने दोस्त को पवित्र शक्ति के बारे में बताने का फैसला किया था.

बेहरा कह रहे हैं, ‘मैं अपने दो दोस्तों के साथ शाम सात बजे उसके घर पहुंचा. वह रिसर्च स्कॉलर अपार्टमेंट में था. 10-15 मिनट के मंत्रोच्चारण के बाद हमने अचानक देखा कि उनके पिता, जिनका कद ज्यादा नहीं था, वह बहुत बुजुर्ग और बमुश्किल ही चल पाते थे. वह भयानक तरीके से नाचने लगे और उनका सिर छत को छूने लगा. आप महसूस कर सकते हैं कि वह पूरी तरह से बुरी आत्माओं के वश में थे.’

उन्होंने कहा कि उनके दोस्त की मां और पत्नी बाद में बुरी आत्माओं के वश में आ गए. उन बुरी आत्माओं को भगाने के लिए 45 मिनट से लेकर एक घंटे तक मंत्रोच्चार करना पड़ा.

इस वीडियो के बारे में पूछे जाने पर बेहरा ने बताया, ‘मैंने जो किया, वही सुनाया. भूत होते हैं, हां. आधुनिक विज्ञान कई घटनाओं की व्याख्या नहीं कर सकता.’

बता दें कि इस वीडियो को सात महीने पहले यूट्यूब पर ‘लर्न गीता लाइव गीता’ पेज पर पोस्ट किया गया था, लेकिन बेहरा से संपर्क करने के बाद इस वीडियो की सेटिंग को पब्लिक से प्राइवेट कर दिया गया.

आईआईटी फैकल्टी के एक सदस्य का कहना है कि यह सभी को पता है कि बेहरा बहुत ही धार्मिक इंसान हैं.