यूपी: पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के आरोपी कश्मीरी छात्रों के ख़िलाफ़ चार्जशीट दाख़िल

पिछले साल अक्टूबर में टी-20 विश्व कप क्रिकेट मैच में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ भारत की हार हो गई थी. आरोप है कि आगरा के राजा बलवंत सिंह मैनेजमेंट टेक्निकल कैंपस में पढ़ रहे तीनों कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाज़ी की थी. उनके ख़िलाफ़ राष्ट्रद्रोह, साइबर आतंकवाद और सामाजिक द्वेष फैलाने की धाराओं में मुक़दमा दर्ज हुआ था. तब से वे जेल में बंद हैं.

/
(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

पिछले साल अक्टूबर में टी-20 विश्व कप क्रिकेट मैच में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ भारत की हार हो गई थी. आरोप है कि आगरा के राजा बलवंत सिंह मैनेजमेंट टेक्निकल कैंपस में पढ़ रहे तीन कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाज़ी की थी. उनके ख़िलाफ़ राष्ट्रद्रोह, साइबर आतंकवाद और सामाजिक द्वेष फैलाने की धाराओं में मुक़दमा दर्ज हुआ था. तब से वे जेल में बंद हैं.

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

आगरा: पिछले वर्ष 24 अक्टूबर को टी-20 क्रिकेट में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत पर कथित रूप से जश्न मनाने को लेकर तीन कश्मीरी छात्रों के खिलाफ आगरा की एक अदालत में बीते मंगलवार को आरोप-पत्र (Chagesheet) दाखिल कर दिया गया.

सीओ लोहामंडी अर्चना सिंह के अनुसार, तीनों आरोपी छात्रों के खिलाफ आरोप-पत्र अदालत में दाखिल किया गया. उनके खिलाफ राष्ट्रद्रोह, साइबर आतंकवाद और सामाजिक द्वेष फैलाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ था.

पुलिस के अनुसार, विगत वर्ष अक्टूबर में दुबई में टी-20 विश्व कप क्रिकेट मैच हुआ था. उसके अंतर्गत 24 अक्टूबर को भारत-पाकिस्तान के बीच मैच हुआ था, जिसमें भारत हार गया था. पाकिस्तान की जीत पर आरबीएस मैनेजमेंट टेक्निकल कैंपस में पढ़ने वाले तीन कश्मीरी छात्रों की चैटिंग एवं वॉट्सऐप स्टेट्स सोशल मीडिया में वायरल हुई थी. उसके बाद कॉलेज प्रबंधन ने उन्हें निलंबित कर दिया था.

तीनों छात्रों की पहचान बड़गाम के चेकपोरा चदूरा निवासी मोहम्मद यूसुफ पॉल के पुत्र अर्शद यूसुफ (21 वर्ष), बड़गाम के दूनीवारी निवासी मोहम्मद अल्ताफ के बेटे इनायत अल्ताफ शेख और बांदीपोरा जिले के शाहगुंड के शौकत अहमद गनी के रूप में हुई है.

ये तीनों छात्र आगरा में आरबीएस इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र हैं और इन्हें आगरा पुलिस द्वारा 27 अक्टूबर, 2021 को गिरफ्तार किया गया था. उन्हें 28 अक्टूबर को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया था. तभी से तीनों आरोपित छात्र जेल में हैं.

भाजपा के स्थानीय नेताओं की शिकायत पर यह मामला दर्ज किया गया था, जिन्होंने आरोप लगाया था कि बीते 24 अक्टूबर को भारत और पाकिस्तान के बीच टी-20 वर्ल्ड कप क्रिकेट मैच के दौरान पाकिस्तान की जीत पर आगरा के राजा बलवंत सिंह मैनेजमेंट टेक्निकल कैंपस (आरबीएसएमटीसी) में तीनों कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की थी.

इसके बाद इन छात्रों को निलंबित कर दिया था. द वायर ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि तीनों छात्र गरीब परिवारों से हैं और प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना के तहत पढ़ रहे हैं. उनके परिजनों ने उन्हें माफ करने की अपील सरकार से की थी.

अरशद यूसुफ (21 वर्ष) और उत्तर कश्मीर के बांदापोरा जिले के दो अन्य कश्मीरी छात्र इनायत अल्ताफ शेख और शौकत अहमद गनई आगरा के एक निजी कॉलेज राजा बलवंत सिंह मैनेजमेंट टेक्निकल कैंपस से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे थे.

तीनों छात्रों के खिलाफ आईपीसी की धारा 153ए (विभिन्न समूहों के बीच धर्म, जाति, जन्मस्थान, निवास के आधार पर शत्रुता को बढ़ावा देना), 505 (1) (बी) (जनता में डर पैदा करने की मंशा रखने वाले) और मैच के बाद ‘भारत के खिलाफ’ वॉट्सऐप पर कथित तौर पर संदेश भेजने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2008 की धारा 66एफ (साइबर आतंकवाद के लिए सजा) के तहत मामला दर्ज किया गया.

समाचार वेबसाइट द कश्मीर वाला से बात करते हुए छात्रों का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील मधुवन चतुर्वेदी ने कहा कि कानून के अनुसार तीनों अवैध रूप से जेल में हैं.

चतुर्वेदी ने कहा, ‘तकनीकी रूप से तीनों छात्रों को आज से अवैध रूप से हिरासत में लिया गया है. मुख्य न्यायाधीश मजिस्ट्रेट आगरा ने राज्य सरकार की अनुमति के बिना पुलिस द्वारा पेश किए गए आरोप-पत्र पर संज्ञान लिया है.

उन्होंने कहा कि आईपीसी की धारा 196 तहत सरकार की पूर्व अनुमति के अभाव में अदालत पुलिस के आरोप-पत्र का संज्ञान नहीं ले सकती है.

उन्होंने कहा, ‘आरोप-पत्र जांच का हिस्सा है और इस मामले में 90 दिनों की हिरासत के बाद भी जांच अधूरी है, इसलिए मेरे मुवक्किल अनिवार्य जमानत के पात्र हैं.’

चतुर्वेदी ने कहा कि आगरा की अदालत द्वारा संज्ञान न लेने और अनिवार्य जमानत से इनकार करने के बाद वह जल्द ही इसे इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती देंगे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq