भारत

मध्य प्रदेश: गो तस्करी के शक़ में मुस्लिम व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, दो घायल

महाराष्ट्र के अमरावती के रहने वाले नज़ीर अहमद अपने दो साथियों के साथ मध्य प्रदेश के होशंगाबाद ज़िले से कथित तौर पर ट्रक में 28 गाय ले जा रहे थे, जब रास्ते में उन पर गोरक्षकों के एक दल ने हमला किया. सिर में चोट लगने से नज़ीर की मौत हो गई. हमले में घायल उनके साथियों का कहना है कि वे अमरावती के पशु मेले में बेचने के लिए गाय ले जा रहे थे.

घटनास्थल पर मौजूद पुलिस. (फोटो: स्पेशल अरेंजमेंट)

भोपाल: मध्य प्रदेश के नर्मदापुरम (होशंगाबाद) जिले के बराखड़ गांव के पास मंगलवार 2 अगस्त की आधी रात गो रक्षकों द्वारा गो तस्करी के शक में एक 50 वर्षीय मुस्लिम व्यक्ति को पीट-पीटकर मार दिया गया.

पुलिस के मुताबिक, महाराष्ट्र के अमरावती के रहने वाले नज़ीर अहमद नंदेरवाड़ा गांव से कथित तौर पर 28 गाय ले जा रहे थे. उनके साथ शेख लाला (38) और सैयद मुश्ताक (40) भी थे. इस दौरान लाठियां और रॉड थामे गोरक्षकों के एक दल ने ट्रक रोककर उन पर हमला कर दिया. यह रात के करीब साढ़े 12 बजे हुआ.

स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस घटना के आधे घंटे के भीतर घटनास्थल पर पहुंच गई और तीनों को पास के एक अस्पताल ले जाया गया.

पुलिस ने बताया कि सिर में चोट लगने से नज़ीर की अस्पताल में मौत हो गई. खबर है कि दो अन्य को कई चोटें आई हैं और वे जिला अस्पताल में इलाजरत हैं.

द वायर  से बात करते हुए, होशंगाबाद के पुलिस अधीक्षक गुरकरण सिंह ने बताया, ‘घटना नंदेरवाड़ा गांव, जहां उन्होंने अपने वाहन में गायों को चढ़ाया था, से 8-10 किलोमीटर दूर हुई. उन पर हमला करने वाले हथियारबंद गोरक्षक पास के ही गांव के रहने वाले हैं, उन्हें गोवंश तस्करी की सूचना मिली थी.’

एसपी ने बताया कि नजीर के परिवार को उसकी मौत की सूचना दे दी गई है और वे पहुंचने वाले हैं. उन्होंने आगे कहा, ‘हमले में बचने वालों के बयान दर्ज किया जाना अभी बाकी है.’

पुलिस का दावा है कि ट्रक से 26 गायों को बचाया गया और दो गाय मृत मिलीं. बचाए गए गोवंश को सरकार-संचालित गोशाला में भेज दिया गया है.

पुलिस ने कहा कि प्रथमदृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि तीनों पशु मेले में बेचने के लिए गायों को अमरावती ले जा रहे थे. पुलिस ने घटना के संबंध में दो एफआईआर दर्ज की हैं- एक हमलावरों के खिलाफ और दूसरी हमले मे बच गए दोनों व्यक्तियों के खिलाफ.

एसपी ने आगे कहा, ‘एक एफआईआर 12 अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या), 307 (हत्या का प्रयास), 147 (दंगे) और 148 (दंगे, घातक हथियार रखना) के तहत दर्ज की गई है, जबकि दूसरी एफआईआर हमले में बच गए दोनों लोगों के खिलाफ अवैध तरीके से गाय ले जाने के मामले में दर्ज की गई है. जल्द ही हम गिरफ्तारियां करेंगे.’

पत्रकारों से बात करते हुए हमले में बच गए शेख लाला ने कहा कि उन पर हमला करने वाले 50-60 से ज्यादा लोग थे.

उन्होंने कहा, ‘हम मुश्किल से 8-10 किलोमीटर ही चले होंगे कि उन्होंने हमारा रास्ता रोक लिया, हमें ट्रक से उतारा और बिना कुछ जाने-पूछे हम पर हमला कर दिया. उनके पास लाठी-डंडे और रॉड थीं और उन्होंने अहमद को मार डाला.’

लाला, जो ट्रक चला रहे थे, ने आगे बताया कि वे सिर्फ पशु मेले में बेचने के लिए गायों को ले जा रहे थे.

गौरतलब है कि यह पिछले तीन महीनों में मध्य प्रदेश में दूसरी घटना है जहां किसी व्यक्ति को गो तस्करी या गोहत्या के शक में मार दिया गया हो.

2 मई 2022 को मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में हिंदुत्ववादी समूहों से जुड़े 15-20 लोगों की भीड़ द्वारा कथित तौर पर गोहत्या के आरोप में दो आदिवासियों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.

घटना रात 2.30 से 3 बजे के बीच कुरई पुलिस थाने की सीमा में हुई थी. मृतकों की पहचान सागर निवासी संपत बट्टी और धंसा निवासी सिमरिया के रूप में हुई थी. हमले में घायल हुए शिकायतकर्ता बृजेश बट्टी ने आरोप लगाया था कि हमलावर हिंदुत्ववादी समूहों बजरंग दल और राम सेना से ताल्लुक रखते हैं. बट्टा ने बताया था कि उन लोगों को लाठियों से पीटा गया था, लेकिन वह जान बचाने में कामयाब रहा.

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने हालिया घटना के संबंध में ट्वीट करते हुए सत्ताधारी पार्टी की कथित भूमिका पर सवाल उठाया है.

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ‘मध्यप्रदेश के सिवनी मालवा के बराखड़ गांव में मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई है. एक व्यक्ति की हत्या व दो लोग गंभीर घायल हैं. यदि किसी ने कोई भी ग़ैरक़ानूनी कार्य किया है तो उसको सजा देना क़ानून का कार्य है.’

अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘मध्य प्रदेश में लगातार इस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं. भाजपा से जुड़े लोग क़ानून हाथ में ले रहे हैं. लोगों को मारा जा रहा है. इस घटना की निष्पक्ष जांच हो , जो भी दोषी हो , उन पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो.’

इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.