हरियाणा: चुनाव से पहले डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को फ़िर 40 दिन की पैरोल मिली

यह क़दम हरियाणा के आदमपुर विधानसभा उपचुनाव से ठीक पहले उठाया गया है. आदमपुर में तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं. राज्य में पंचायत चुनाव भी जल्द होने वाले हैं. पहले चरण में 9 जिलों में पंचायत चुनाव कराए जा रहे हैं. 

गुरमीत राम रहीम. (फोटो: पीटीआई)

यह क़दम हरियाणा के आदमपुर विधानसभा उपचुनाव से ठीक पहले उठाया गया है. आदमपुर में तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं. राज्य में पंचायत चुनाव भी जल्द होने वाले हैं. पहले चरण में 9 जिलों में पंचायत चुनाव कराए जा रहे हैं.

गुरमीत राम रहीम. (फोटो: पीटीआई)

चंडीगढ़: बलात्कार के आरोप में हरियाणा में रोहतक की सुनारिया जेल में कारावास की सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह की 40 दिन की पैरोल अर्जी स्वीकार कर ली गई है. आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

यह कदम राज्य के आदमपुर विधानसभा उपचुनाव से ठीक पहले उठाया गया है. आदमपुर में तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं. राज्य में पंचायत चुनाव भी जल्द होने वाले हैं.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पैरोल के दौरान वह यूपी के बागपत आश्रम में रहेगा. इसके अलावा राजस्थान के आश्रम का भी विकल्प खुला है. राम रहीम सिरसा आश्रम आना चाहता था, लेकिन सरकार इसके लिए राजी नहीं हुई.

इससे पहले डेरा प्रमुख को जून 2022 में एक महीने की पैरोल पर रिहा किया गया था और फरवरी 2022 में उसकी तीन सप्ताह की फर्लो (एक प्रकार की छुट्टी) मंजूर की गई थी. इस दौरान उसे परिवार के सदस्यों के अलावा किसी से मिलने नहीं दिया गया था. उसकी 21 दिन की रिहाई के दौरान उसे जेड प्लस सुरक्षा दिया गया था.

राम रहीम को 21 दिनों की छुट्टी पंजाब विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले मिली थी. पंजाब खासकर बठिंडा, संगरूर, पटियाला और मुक्तसर में इस पंथ के बड़ी संख्या में अनुयायी हैं.

दैनिक भास्कर के अनुसार, यह फर्लो इसलिए भी महत्वपूर्ण थी, क्योंकि डेरा सच्चा सौदा का मालवा की 35 से ज्यादा सीटों पर सीधा प्रभाव है. इसको लेकर विपक्षी दलों ने भाजपा पर निशाने भी साधे थे.

अब तक राम रहीम को 51 दिन की छुट्‌टी मिल चुकी है. पहले वह गुड़गांव के आश्रम में रहा. इसके बाद वह यूपी के बागपत में 30 दिन रहा. इस दौरान उसने अपने सत्संग के वीडियो भी जारी किए थे.

बहरहाल वर्तमान में हरियाणा में आदमपुर चुनाव होने वाले हैं. इसके लिए नामांकन शुरू हो चुका है. सिरसा आदमपुर के करीब ही है. जहां अच्छी खासी-संख्या में राम रहीम के अनुयायी रहते हैं.

हरियाणा में पंचायत चुनाव के लिए भी घोषणा हो चुकी है. पहले चरण में 9 जिलों में पंचायत चुनाव कराए जा रहे हैं. राम रहीम के बाहर आने को इससे भी जोड़कर देखा जा रहा है.

गौरतलब है कि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को 28 अगस्त, 2017 में सिरसा में अपने आश्रम में दो महिला अनुयायियों से बलात्कार के मामले में विशेष सीबीआई अदालत ने 20 साल की सजा सुनाई थी. सिरसा में डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है.

उसे पंचकूला में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की एक विशेष अदालत ने दोषी ठहराया था. वह रोहतक के सुनारिया जेल में बंद है.

जनवरी 2019 में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरमीत राम रहीम को उम्रकैद की सजा सुनाई थी.

16 साल पुराने इस मामले में अदालत ने गुरमीत राम रहीम के साथ ही तीन अन्य दोषियों कुलदीप सिंह, निर्मल सिंह और कृष्ण लाल को भी उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी.

गुरमीत राम रहीम को 2002 में डेरा प्रबंधक रंजीत सिंह की हत्या की साजिश रचने के लिए भी पिछले साल चार अन्य लोगों के साथ दोषी ठहराया गया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq