भारत

हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस ऋतुराज अवस्थी विधि आयोग के अध्यक्ष नियुक्त

क़ानून मंत्री किरेन रिजिजू ने बताया कि उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश ऋतुराज अवस्थी विधि आयोग के अध्यक्ष होंगे और जस्टिस केटी शंकरन, प्रोफेसर आनंद पालीवाल, प्रोफेसर डीपी वर्मा, प्रोफेसर राका आर्य और एम. करुणानिधि को आयोग का सदस्य नियुक्त किया गया है.

(इलस्ट्रेशन: द वायर)

नई दिल्ली: उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश ऋतुराज अवस्थी को सोमवार को विधि आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया. कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने यह जानकारी दी.

द हिंदू के अनुसार, 24 फरवरी, 2020 को 22वें विधि आयोग को अधिसूचित किए जाने के दो साल से अधिक समय बाद यह नियुक्ति हुई है.

उन्होंने यह भी बताया कि जस्टिस केटी शंकरन, प्रोफेसर आनंद पालीवाल, प्रोफेसर डीपी वर्मा, प्रोफेसर राका आर्य और एम. करुणानिधि को आयोग का सदस्य नियुक्त किया गया है.

रीजीजू ने ट्वीट किया, ‘केंद्र सरकार ने उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश जस्टिस ऋतुराज अवस्थी को विधि आयोग का अध्यक्ष जबकि जस्टिस केटी शंकरन, प्रोफेसर आनंद पालीवाल, प्रोफेसर डीपी वर्मा, प्रोफेसर (डॉ.) राका आर्य और श्री एम. करुणानिधि आयोग सदस्य नियुक्त किया है.’

उल्लेखनीय है कि इससे पहले संसद में दिए गए एक जवाब में केंद्र सरकार ने कहा था कि समान नागरिक संहिता (यूसीसी) से संबंधित मुद्दे को 22वें विधि आयोग द्वारा उठाया जा सकता है.

विधि आयोग का गठन तीन वर्ष के लिए किया जाता है. हालांकि और 22वें विधि आयोग संबंधी अधिसूचना तुरंत उपलब्ध नहीं थी, लेकिन अंदाजन इसका कार्यकाल अगले साल फरवरी तक होना चाहिए.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)