पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लेखक के यौन शोषण और मानहानि के लिए ज़िम्मेदार पाए गए

लेखक ई. जीन कैरोल ने आरोप लगाया था कि डोनाल्ड ट्रंप ने 1995 या 1996 में मैनहट्टन के एक डिपार्टमेंटल स्टोर में उनके साथ बलात्कार किया था, फिर अक्टूबर 2022 में एक पोस्ट लिखकर उसकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाया था. ज्यूरी ने ट्रंप को यौन शोषण का ज़िम्मेदार पाया, लेकिन बलात्कार के आरोप को ख़ारिज कर दिया.

डोनाल्ड ट्रंप. (फोटो साभार: फेसबुक)

लेखक ई. जीन कैरोल ने आरोप लगाया था कि डोनाल्ड ट्रंप ने 1995 या 1996 में मैनहट्टन के एक डिपार्टमेंटल स्टोर में उनके साथ बलात्कार किया था, फिर अक्टूबर 2022 में एक पोस्ट लिखकर उसकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाया था. ज्यूरी ने ट्रंप को यौन शोषण का ज़िम्मेदार पाया, लेकिन बलात्कार के आरोप को ख़ारिज कर दिया.

डोनाल्ड ट्रंप. (फोटो साभार: फेसबुक)

नई दिल्ली: न्यूयॉर्क की एक ज्यूरी ने मंगलवार को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को एक पत्रिका की लेखक ई. जीन कैरोल के यौन शोषण और मानहानि के लिए जिम्मेदार पाया है. उन्हें दीवानी मुकदमे में मुआवजे और जुर्माने के रूप में 5 मिलियन डॉलर की क्षतिपूर्ति का भुगतान करने का आदेश दिया गया है.

हालांकि ज्यूरी ने ट्रंप को यौन शोषण का जिम्मेदार पाया, लेकिन बलात्कार के दावे को खारिज कर दिया.

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, ट्रंप के प्रवक्ता स्टीवन च्युंग ने कहा कि वह इसके खिलाफ अपील करेंगे. जब तक मामला अपील पर है तब तक ट्रंप को भुगतान नहीं करना पड़ेगा.

79 वर्षीय कैरोल ने सिविल ट्रायल के दौरान गवाही दी कि 76 वर्षीय ट्रंप ने 1995 या 1996 में मैनहट्टन में बर्गडॉर्फ गुडमैन डिपार्टमेंटल स्टोर के ड्रेसिंग रूम में उनके साथ बलात्कार किया था, फिर अक्टूबर 2022 में अपने ट्रुथ सोशल (Truth Social) प्लेटफॉर्म पर एक पोस्ट लिखकर उसकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाया था कि उनके आरोप एक ‘पूरी तरह से धोखाधड़ी’, ‘एक धोखा’ और ‘झूठ’ थे.

कैरोल के वकील रॉबर्टा कपलान ने कहा, ‘हम (फैसले से) बहुत खुश हैं.’ कैरोल ने खुद पत्रकारों से बात नहीं की.

डीडब्ल्यू की ​रिपोर्ट के अनुसार, कैरोल ने सुनवाई के दौरान अपनी गवाही में कहा, ‘मैं यहां हूं क्योंकि डोनाल्ड ट्रंप ने मेरे साथ बलात्कार किया और जब मैंने इसके बारे में लिखा, तो उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं हुआ. उन्होंने झूठ बोला और मेरी प्रतिष्ठा को चकनाचूर कर दिया और मैं यहां फिर कोशिश करने और अपना जीवन वापस पाने के लिए मौजूद हूं.’

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, 25 अप्रैल से शुरू हुई सुनवाई के दौरान ट्रंप अनुपस्थित थे. अपने ट्रुथ सोशल प्लेटफॉर्म पर एक पोस्ट में ट्रंप ने फैसले को ‘अपमान’ बताया और कहा, ‘मुझे बिल्कुल नहीं पता कि यह महिला कौन है.’

2017 से 2021 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे ट्रंप रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद के नामांकन के लिए जनमत सर्वेक्षणों में सबसे आगे चल रहे हैं.

क्योंकि यह एक दीवानी मामला था, इसलिए ट्रंप को किसी आपराधिक परिणाम का सामना नहीं करना पड़ा और इस तरह उनके कभी भी जेल जाने का खतरा नहीं था.

ट्रंप ने कहा था कि एले पत्रिका के पूर्व स्तंभकार और एक रजिस्टर डेमोक्रेट कैरोल ने अपने 2019 के संस्मरण की बिक्री बढ़ाने और उन्हें राजनीतिक रूप से चोट पहुंचाने की कोशिश करने के लिए ये आरोप लगाए थे.

2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अपनी जीत से पहले एक पोर्न स्टार को चुपके से पैसे के भुगतान पर व्यापार रिकॉर्ड को गलत साबित करने के लिए मार्च में न्यूयॉर्क में आरोप लगाए जाने के बाद उनकी मतदान संख्या में सुधार हुआ है.

यह अभियोग, न्यूयॉर्क राज्य की अदालत में दायर किया गया था, जिसने उन्हें पहला पूर्व या वर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति बना दिया जिस पर आपराधिक आरोप लगाया गया था. ट्रंप ने दोषी नहीं होने का अनुरोध किया है और कहा है कि आरोप राजनीति से प्रेरित हैं.

pkv games bandarqq dominoqq pkv games parlay judi bola bandarqq pkv games slot77 poker qq dominoqq slot depo 5k slot depo 10k bonus new member judi bola euro ayahqq bandarqq poker qq pkv games poker qq dominoqq bandarqq bandarqq dominoqq pkv games poker qq slot77 sakong pkv games bandarqq gaple dominoqq slot77 slot depo 5k pkv games bandarqq dominoqq depo 25 bonus 25 bandarqq dominoqq pkv games slot depo 10k depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq slot77 pkv games bandarqq dominoqq slot bonus 100 slot depo 5k pkv games poker qq bandarqq dominoqq depo 50 bonus 50 pkv games bandarqq dominoqq